पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

महिलाएं कोरोना के प्रति ज्यादा जागरूक:नए संक्रमितों में 69% पुरुष शामिल, 85% मामले शहरों में सामने आ रहे

भोपाल6 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
फाइल फोटो
  • क्राइसिस मैनेजमेंट कमेटियों की बैठक में खुलासा

कोरोना के नए केसों में 85 प्रतिशत शहरी क्षेत्र से और 15 प्रतिशत ग्रामीण क्षेत्र से आए हैं। बुजुर्गों की तुलना में युवाओं की संख्या काफी अधिक है। बुजुर्ग सिर्फ 10 फीसदी हैं। नए प्रकरणों में पुरुषों के 69 प्रतिशत तथा महिलाओं के 31 प्रतिशत प्रकरण हैं। साफ है कि महिलाएं कोविड की गाईडलाइन का अधिक सतर्कता के साथ पालन कर रही हैं। यह खुलासा जिला क्राइसिस मैनेजमेंट कमेटियों की बैठक और कलेक्टरों द्वारा रविवार को मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को सौंपी रिपोर्ट में हुआ।

सीएम ने कलेक्टरों से कहा- जनता कर्फ्यू जैसे उपाय करो
मुख्यमंत्री ने सभी कलेक्टरों से कहा कि जिन जिलों में कोरोना संक्रमण की दर सामान्य से अधिक है, वहां जनता के सहयोग से बचाव के तरीके अपनाए जाएं। लोगों को कहा जाए कि वे मास्क लगाएं, सोशल डिस्टेसिंग का पालन करें, देर रात तक दुकान नहीं खोलें और जनता कर्फ्यू लगाने जैसे उपाय करें।

जिला क्राइसिस मैनेजमेंट कमेटी (डीसीएमसी) प्रभावी भूमिका निभाएं। मुख्यमंत्री ने कहा कि आपदा प्रबंधन समिति की बैठकों के निर्णय राज्य शासन को मिल गए हैं। जल्दी ही इनका परीक्षण कर अनुमति दी जाएगी। बैठक में कलेक्टरों से कहा गया कि वे कहीं भी बाजार और मोहल्लों को अनावश्यक रूप से बंद नहीं करें। यदि बाजार बंद करने की स्थिति बनती है तो यह ध्यान रहे कि आवश्यक वस्तुओं फल, दूध, सब्जी आदि के परिवहन पर रोक नहीं लगे।

कलेक्टरों ने बताया कि त्योहारों के कारण बाजारों में भीड़ बढ़ी थी। इसके कारण ही कोरोना के केस बढ़ने लगे हैं। सभी जगह अलग-अलग वृद्धि दर है। भोपाल, इंदौर, विदिशा, रतलाम, ग्वालियर, शिवपुरी, दतिया, अशोकनगर तथा धार जिलों में यह दर अधिक है। मुख्यमंत्री ने कहा कि इन जिलों में जरूरी प्रतिबंध लगाए जा सकते हैं।

भोपाल में कुल 54% केस युवाओं में

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज भविष्य को लेकर कुछ योजनाएं क्रियान्वित होंगी। ईश्वर के आशीर्वाद से आप उपलब्धियां भी हासिल कर लेंगे। अभी का किया हुआ परिश्रम आगे चलकर लाभ देगा। प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी कर रहे लोगों के ल...

और पढ़ें