कोरोना संकट / 80 उद्योगों के लोड कम करने के आवेदन निरस्त, कनेक्शन काटने के नोटिस दिए

फाइल फोटो फाइल फोटो
X
फाइल फोटोफाइल फोटो

  • कोरोना संकट में बिजली कंपनियों ने बढ़ा दी उद्योगों की टेंशन
  • मंडीदीप और गोविंदपुरा के 80 उद्योगों के लोड कम करने के आवेदन निरस्त कर दिए हैं

दैनिक भास्कर

May 23, 2020, 05:00 AM IST

भोपाल. बिजली कंपनियों ने बंद पड़े मंडीदीप और गोविंदपुरा के 80 उद्योगों के लोड कम करने के आवेदन निरस्त कर दिए हैं। लॉकडाउन-1 के दौरान बिजली बिल जमा नहीं करने वाले उद्योगों को कनेक्शन काटने के नोटिस भेजे गए हैं। कई उद्योगों ने आपदा में लागू होने वाले फोर्स मेजर को लेकर जारी नोटिफिकेशन के बाद ये आवेदन किए थे। नोटिफिकेशन में कहा गया था कि असाधारण परिस्थितियों में उद्योग लोड कम कर सकते हैं, लेकिन पड़ताल में पता चला कि बिजली कंपनियों ने न्यूनतम लोड रखने की शर्त का हवाला देकर 3 केवीए से 10 केवीए तक के लोड कम करने के आवेदन निरस्त किए हैं। बिजली कंपनी का कहना था कि न्यूनतम लोड की शर्तों के कारण यह संभव नहीं है।

कंपनी का खेल....सीमा बढ़ी तो बिल का रेट पुराना
उद्यमी योगेश गोयल ने बताया कि एलटी कनेक्शन वाले 8-10 छोटे उद्योगों को लोड कम करने की अनुमति दी गई है। उसमें भी शर्त रखी दी कि अगर उन्होंने घटी लोड सीमा से अधिक बिजली खर्च की तो उन्हें पुराने लोड के आधार पर बिल देना हाेगा। मंडीदीप इंडस्ट्रियल एसोसिएशन के अध्यक्ष राजीव अग्रवाल के मुताबिक दर्जनों कंपनियों के लोड कम करने के आवेदन के जवाब नहीं दिए।

बिजली बिल न चुकाने पर नोटिस, लोड घटाने से भी इनकार

बेंको पॉली ट्यूब...

मंडीदीप की इस कंपनी का मार्च-अप्रैल का बिल 2.49 लाख रु. आया। 33 केवी का 85 केवीए का कनेक्शन था। कनेक्शन काटने का नोटिस। लोड कम करने का आवेदन निरस्त किया।

एरियन पॉलीपाइप...

मार्च-अप्रैल का बिल आया 58,042 रुपए। नहीं चुकाने पर नोटिस मिला। 3 केवीए लोड घटाने का आवेदन निरस्त। बिजली कंपनी ने कहा- एरियन 50 केवीए से कम लोड नहीं कर सकती।

सेवियर कैप्स... 

मंडीदीप की कंपनी बिजली कनेक्शन 375 केवीए लोड का है। कंपनी ने 30 केवीए लोड कम करने आवेदन किया था। आवेदन निरस्त।

सुरेंद्र कंपोजिट...

मंडीदीप की इस कंपनी ने 5 केवी तक लोड घटाने आवेदन किया था। बिजली कंपनी ने कहा- 33 किलोवॉट के कनेक्शन पर लोड इतना कम नहीं किया जा सकता।
एएमपी स्पेशियालिटी

कंपनी के पास 33 किलोवॉट का 120 केवीए का कनेक्शन है। 10 केवीए का लोड कम करने का आवेदन निरस्त।

एक सीमा से ज्यादा लोड नहीं घटा सकते

 

मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी भोपाल के सीजीएम एमएस अत्रे ने कहा कि एक सीमा से ज्यादा लोड घटाने की अनुमति नहीं दी जा सकती। जिस तरह उद्योग संकट में हैं, ठीक उसी तरह बिजली कंपनियां भी मुश्किल में हैं।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना