पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

राहत की खबर:आरकेडीएफ मेडिकल हॉस्पिटल से अब तक 815 कोरोना मरीज ठीक होकर घर लौटे

भोपाल2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • अस्पताल के 750 बेड में से 500 हैं ऑक्सीजनयुक्त, 45 वेंटिलेटर भी

आरकेडीएफ मेडिकल हॉस्पिटल से अब तक 815 कोरोना मरीज स्वस्थ होकर घर जा चुके हैं। इनमें 42 मरीज ऐसे थे, जिनकी हालत बेहद गंभीर थी। प्रबंधन के मुताबिक हॉस्पिटल में 750 बेड में से 500 ऑक्सीजनयुक्त हैं। यहां पर 45 वेंटिलेटर, 35 वाईपेप भी हैं। मरीजों के लिए सुबह काढ़ा, दूध, अंडे और मौसमी फल दिए जाते हैं। वही दोनों वक्त प्रोटीन युक्त भोजन और गर्म पानी दिया जाता है। हॉस्पिटल में 200 से अधिक विशेषज्ञ डॉक्टरों के साथ 500 पैरामेडिकल स्टाफ कार्यरत है। मरीजों ने बताया कि हॉस्पिटल में उन्हें बेहतरीन सुविधाएं मिल रही हैं। परिसर की सकारात्मक गतिविधियों से मानसिक बल भी मिला है।

175 सिलेंडर प्रतिदिन क्षमता के हैं दो प्लांट; चार दिन में शुरू हो गया ऑक्सीजन प्लांट

आरकेडीएफ हॉस्पिटल परिसर में शुक्रवार को ऑक्सीजन गैस प्लांट का उद्घाटन भी किया गया। इस मौके पर चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास सारंग, आरकेडीएफ ग्रुप के चेयरमैन डॉ. सुनील कपूर, आरकेडीएफ यूनिवर्सिटी की चांसलर डॉ. साधना कपूर, ग्रुप के मैनेजिंग डायरेक्टर सिद्धार्थ कपूर उपस्थित थे। मात्र 4 दिनों के अंदर प्लांट से ऑक्सीजन का उत्पादन शुरू कर दिया है। 175 सिलेंडर प्रतिदिन क्षमता के दो प्लांट लगाए गए है, जिसमें 24 घंटे निर्बाध ऑक्सीजन गैस की अस्पताल में उपलब्धता हो सकेगी।

खबरें और भी हैं...