स्कूल चले हम:16 महीने बाद लगी 9वीं की क्लास पहले दिन 23 फीसदी ही पहुंचे स्कूल

भोपाल3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
शनिवार को शिवाजी नगर स्थित सुभाष एक्सीलेंस स्कूल में एक सेक्शन में सिर्फ 8 स्टूडेंट्स ही क्लास अटेंड करने पहुंचे। - Dainik Bhaskar
शनिवार को शिवाजी नगर स्थित सुभाष एक्सीलेंस स्कूल में एक सेक्शन में सिर्फ 8 स्टूडेंट्स ही क्लास अटेंड करने पहुंचे।
  • प्राइवेट के मुकाबले सरकारी स्कूलों में ज्यादा थे छात्र

शनिवार को शहर में हुई रिमझिम बारिश के बीच 9वीं क्लास के स्टूडेंट्स भी स्कूल पहुंचे। 16 महीने बाद इन स्टूडेंट्स को स्कूल में ऑफलाइन क्लास अटेंड करने का मौका मिला। पहले दिन औसतन 23 फ़ीसदी बच्चे ही स्कूल पहुंच सके। प्राइवेट स्कूलों के मुकाबले शहर के सरकारी स्कूलों में ज्यादा स्टूडेंट्स पहुंचे। स्कूलों में भी सैनिटाइजेशन के अलावा सेहत संबंधी इंतजाम किए गए थे। डीईओ नितिन सक्सेना का कहना है की क्लास रूम की बैठक क्षमता के हिसाब से 50 फ़ीसदी बच्चों को बुलाया जा रहा है।

कहां-कितने स्टूडेंट्स पहुंचे

  • शिवाजी नगर के सरोजिनी नायडू गर्ल्स हायर सेकंडरी स्कूल में 280 में से 50 फ़ीसदी के लिहाज से 140 बच्चों को पहुंचना था। इनमें से 87 स्टूडेंट्स ही स्कूल पहुंचे।
  • मिसरोद हायर सेकंडरी स्कूल में 140 में से 26 विद्यार्थी ही स्कूल पहुंचे।
  • बाग सेवनिया के सरकारी हायर सेकेंडरी स्कूल में 9वीं के 116 में से 48 स्टूडेंट्स स्कूल पहुंच गए थे।
खबरें और भी हैं...