पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

बिगड़ती पारिवारिक परिस्थितियों के कारण उठाया कदम:पिता के बाद बेटे ने भी फांसी लगाकर दी जान, मां के ट्रेन से कट चुके हैं पैर

भोपाल24 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

शाहपुरा में कटी पहाड़ी के पास एक युवक ने पेड़ पर फांसी लगाकर अपनी जान दे दी। करीब दो साल पहले युवक के पिता ने भी फांसी लगा ली थी। इस गम में मां ट्रेन के सामने आ गई, जिससे उसके दोनों पैर कट गए थे। शाहपुरा पुलिस को फिलहाल कोई सुसाइड नोट नहीं मिला है, लेकिन अंदाजा है कि युवक ने इन्हीं बिगड़ती पारिवारिक परिस्थितियों के कारण ये कदम उठाया होगा।

छावनी पठार, शाहपुरा में रहने वाला 18 वर्षीय रोहित राजपूत फिलहाल बेरोजगार था। वह दो भाई और एक बहन में सबसे छोटा था। टीआई महेंद्र मिश्रा ने बताया कि सोमवार रात करीब साढ़े 11 बजे कटी पहाड़ी के पास झाड़ियों के बीच एक पेड़ पर रोहित का शव फंदे पर लटका मिला था। पुलिस ने शव उतारकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।

भाई शादी के बाद अलग हुआ, रोहित पर थी मां की जिम्मेदारी

रोहित के पिता ने करीब दो साल पहले फांसी लगा ली थी। इसके कुछ दिनों बाद गम में रोहित की मां भी ट्रेन के सामने आ गई। हालांकि वह इस दौरान बच गई, लेकिन दोनों पैर कट गए। रोहित का भाई अपनी पसंद की शादी करके अलग रहता है, इसलिए बिस्तर पर पड़ी मां की देखरेख रोहित के ही जिम्मे थी। बेरोजगार होने के कारण रोहित अपनी मां की देखरेख भी ठीक से नहीं कर पा रहा था। पुलिस का अंदाजा है कि इन्हीं पारिवारिक परिस्थितियों के कारण रोहित ने अपनी जान दी होगी।

खबरें और भी हैं...