• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Bhopal
  • After January 16, An Average Of 1.22 Lakh Doses Were Taken Every Day, Between 21 28 June Only 25% Vaccination

देश के दिल MP में 2 करोड़ टीके:16 जनवरी के बाद हर रोज औसतन 1.22 लाख डोज लगे, पिछले 7 दिन में ही 25 फीसदी वैक्सीनेशन

भोपाल7 महीने पहलेलेखक: ईश्वर सिंह परमार
  • कॉपी लिंक

देश के दिल मध्य प्रदेश में वैक्सीनेशन का आंकड़ा 2 करोड़ पार पहुंच गया है। सोमवार दोपहर 2.15 बजे तक MP में 2 करोड़ 1 लाख 6995 वैक्सीन के डोज लग गए थे। इसमें फर्स्ट डोज 1 करोड़ 77 लाख 25 हजार 546 एवं सेकेंड डोज 23 लाख 81 हजार 449 शामिल है। प्रदेश में इंदौर अव्वल है, जबकि दूसरे नंबर पर भोपाल है।

मध्य प्रदेश में 16 जनवरी-21 को वैक्सीनेशन शुरू हुआ था। 2 करोड़ का आंकड़ा पार करने में MP को 164 दिन लगे। औसतन 1.22 लाख डोज हर रोज लगे। 21 से 28 जून के बीच ही 51 लाख डोज लगाए गए, जो कुल आंकड़े का करीब 25% है। मध्य प्रदेश में 18 साल से ऊपर के कुल 5 करोड़ 26 लाख लोगों को वैक्सीन के 2-2 डोज लगने हैं। इस तरह 10 करोड़ 52 लाख डोज लगाए जाएंगे। इसमें से 2 करोड़ से अधिक डोज लगाए जा चुके हैं। अब भी करीब 8 करोड़ 52 लाख डोज लगना शेष है।

महा अभियान में झोंकी ताकत, रिकॉर्ड बनाया

मध्य प्रदेश में 21 जून को महा अभियान की शुरुआत की गई थी। पहले दिन 17.42 लाख, 23 जून को 11.59 लाख, 24 जून को 7.33 लाख वैक्सीन लगाई गई थी। इसके चलते MP लगातार तीसरे दिन देश में नंबर-1 रहा था। 21 जून के रिकॉर्ड वैक्सीनेशन को वर्ल्ड बुक ऑफ रिकाॅर्ड में शामिल किया गया था। 20 जून तक MP में 1 करोड़ 49 लाख 46 हजार 587 डोज लगाए गए थे। इसके बाद 28 जून (दोपहर 2.15 बजे तक) आंकड़े में 51 लाख 60 हजार 408 में बढ़ोतरी हो गई।

देश में महाराष्ट्र में सबसे ज्यादा टीके

देश् में सबसे ज्यादा टीके महाराष्ट्र में लगे हैं। यहां 3.15 करोड़ डोज लगाए जा चुके हैं। उत्तर प्रदेश में भी आंकड़ा 3 करोड़ पार है। इसके बाद राजस्थान, गुजरात, कर्नाटक और पश्चिम बंगाल है। फिर मध्य प्रदेश का नंबर आता है।

अब थमी रफ्तार

डोज खत्म होने से वैक्सीनेशन की रफ्तार भी थम गई है। पिछले दो दिन से प्रदेश में यह स्थिति है। कई सेंटरों पर वैक्सीनेशन बंद करना पड़ा है। वैक्सीनेशन सेंटर कम होने की वजह से लाइनें भी लग रही हैं।

CM शिवराज ने किया ट्वीट

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने इस उपलब्धि को लेकर ट्वीट किया है, उसमें बताया है कि दो करोड़ लोगों को डोज लग चुके हैं जबकि Co-Win Statistics साइट के मुताबिक 2 करोड़ से ज्यादा डोज लगे हैं। हालांकि, मुख्यमंत्री के कार्यालय ने सोशल मीडिया पर बताया कि मध्य प्रदेश में अब तक 2 करोड़ डोज लगाए जा चुके हैं।