कार्रवाई:विरोध के बीच कोहेफिजा में तोड़ा बेसमेंट

भोपालएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
  • हाईकोर्ट ने इलाके के सभी अवैध निर्माण तोड़ने के दिए थे निर्देश
  • याचिकाकर्ता का आरोप- पूरा अवैध निर्माण नहीं तोड़ा

कोहेफिजा में अवैध निर्माण तोड़ने गई नगर निगम की टीम को एक बार फिर विरोध का सामना करना पड़ा। अवैध निर्माण करने वाले अनवर मोहम्मद खान ने पहले घर के मैन गेट पर ताला लगा लिया, बाद में वे अवैध बेसमेंट की चाबी देने को राजी नहीं हुए। काफी देर तक अतिक्रमण अधिकारी कमर साकिब और खान के बीच बहस होती रही।

आखिरकार निगम अमले ने दरवाजे को तोड़कर 1500 वर्ग फीट पर बने बेसमेंट को तोड़ दिया। हालांकि मकान के साइड और पीछे हुए अवैध निर्माण को छोड़ दिया गया। इसके पहले भी दो बार यहां अवैध निर्माण तोड़ने को लेकर विवाद हो चुका है। इरशाद अली खान की याचिका पर हाईकोर्ट ने अनवर मोहम्मद खान सहित कोहेफिजा के सभी अवैध निर्माण तोड़ने के निर्देश दिए हैं। नगर निगम द्वारा कहा गया था कि पुलिस बल नहीं मिलने से यहां कार्रवाई नहीं हो पा रही है।

अवैध कब्जा हटाने को लेकर पहले भी हो चुका है विरोध

1400 वर्ग फीट की परमिशन, किया 5200 वर्ग फीट निर्माण
इरशाद अली ने बताया कि अनवर ने 1993 में नगर निगम से 1400 वर्ग फीट निर्माण की अनुमति ली थी, लेकिन बेसमेंट सहित 5200 वर्ग फीट निर्माण कर लिया। खास बात यह है कि दस्तावेज में केवल 850 वर्ग फीट पर ही प्राॅपर्टी टैक्स लिया जा रहा था। इरशाद ने कहा कि निगम ने हाईकोर्ट के आदेश के बाद भी पूरा अवैध निर्माण नहीं तोड़ा।

तीन साल पहले 17 पेड़ काटने से शुरू हुआ था विवाद
अनवर ने तीन साल पहले मकान और बेसमेंट बनाने के लिए यहां लगे अमरूद के 17 पेड़ काट दिए थे। साथ ही मकान के पीछे की गली पर निर्माण कर लिया था। इसको लेकर इरशाद ने निगम में शिकायत की थी। निगम ने खान पर 85 हजार का जुर्माना लगाया था। इसकी अब तक वसूली नहीं हो सकी है। जब बात आगे बढ़ी तो मामला हाईकोर्ट पहुंच गया।

हाईकोर्ट का निर्देश
हाईकोर्ट ने निर्देश दिए थे कि निगम जब बल मांगे, उन्हें उपलब्ध कराया जाएगा। शनिवार सुबह भारी पुलिस बल के साथ पहुंचे अमले ने कार्रवाई की। अतिक्रमण प्रभारी नासिर खान और बिल्डिंग परमिशन के सहायक यंत्री अनिल साहनी के साथ 50 से ज्यादा श्रमिकों ने बेसमेंट को धराशाई कर दिया।

शेष हिस्से पर कंपाउंडिंग की जाएगी
^बेसमेंट अवैध था, उसे तोड़ा गया है। साइड और रियर एमओएस पर हुए निर्माण की कंपाउंडिंग की जा सकती है। हमने अवैध हिस्से की नपती कर ली है। कम्पाउंडिंग की कार्रवाई के लिए नोटिस देंगे। - अनिल साहनी, सहायक यंत्री, बिल्डिंग परमिशन

खबरें और भी हैं...