• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Bhopal
  • Bhavna Of 49 Years Of Bhopal Double Gold Won In World Master Powerlifting, 4 International Titles In A Career Spanning 9 Years

40 की उम्र में चुना कॅरियर, और छा गईं:भोपाल की 49 साल की भावना- वर्ल्ड मास्टर पावरलिफ्टिंग में जीते डबल गोल्ड, 9 साल के कॅरियर में 4 इंटरनेशनल खिताब

भाेपालएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
मास्काे में आयाेजित वर्ल्ड पाॅवरलिफ्टिंग चैंपियनशिप में 297 किलो वजन उठाया और जीत लिया सोना, कहा- अब नहीं रुकूंगी। - Dainik Bhaskar
मास्काे में आयाेजित वर्ल्ड पाॅवरलिफ्टिंग चैंपियनशिप में 297 किलो वजन उठाया और जीत लिया सोना, कहा- अब नहीं रुकूंगी।

राजधानी की मास्टर पावरलिफ्टर भावना टाेकेकर ने मास्काे में आयाेजित वर्ल्ड पावरलिफ्टिंग चैंपियनशिप में रविवार काे डबल गाेल्ड जीते। यह गाेल्ड उन्हाेंने 45-49 आयु वर्ग में जीते हैं। उन्हाेंने इंडिविजुअल बेंचप्रेस में 75 और फुल पावरलिफ्टिंग में 297 किलाे वजन उठाकर यह मेडल जीते हैं। नाै साल के करियर में उनके पास अब चार इंटरनेशनल गाेल्ड हाे गए हैं।

मेरे ससुराल और मायके में काेई प्राेफेशनल खिलाड़ी नहीं है। मैंने भी फिट बने रहने के लिए आज से 9 साल पहले जिम ज्वाॅइन किया। मैं पहले एक-एक घंटे वर्कआउट करती रही। वर्कआउट करना है ताे डाइट भी वैसी ही हाेना चाहिए। इसमें प्राेटीन लेना बहुत जरूरी है। मैं वेजीटेरियन हूं, इसलिए नाॅनवेज से प्राेटीन नहीं ले सकती। काेच ने कहा- नाॅनवेज नहीं ताे कम से कम अंडे ताे खाना ही पड़ेंगे। इसलिए मैं ना चाहकर भी अंडे खाने लगी। अब राेज 4-5 अंडे खाती हूं। तीन साल पहले मैंने शाैकिया ताैर पर टूर्नामेंट में हिस्सा लिया था और पहली ही बार में गाेल्ड जीत लिया।

2019 में मैंने एशिया कप और वर्ल्ड पावरलिफ्टिंग में भागीदारी की और दाेनाें जगह गाेल्ड जीते। फिर काेविड आ गया। जिम बंद हाे गए ताे एक सेटअप घर पर ही तैयार किया। घर पर मैं अपने बेटाें ईशान और आरव के साथ वर्कआउट करने लगी। हालांकि उन दाेनाें का झुकाव पढ़ाई की ओर ज्यादा रहता है। फिर भी वह शाैकिया ताैर पर मेरे साथ जिम करते हैं और मुझे माेटिवेट भी करते हैं।

इसी बीच पति का ट्रांसफर दिल्ली हाे गया। हम दिल्ली शिफ्ट हाे गए। हमें दिल्ली आए तीन महीने हुए हैं। दिल्ली में भी मैंने घर पर ही जिम तैयार किया और राेजाना 4 घंटे अभ्यास करती हूं। अब रसियन काेच से ऑनलाइन ट्रेनिंग ले रही हूं। इसी का नतीजा है यह डबल गाेल्ड। मैं तीन दिन बाद 50 की हाे जाऊंगी और इसके बाद मैं मास्टर्स थ्री कैटेगरी में हिस्सा लेने लगूंगी। अभी तक मैंने जाे चाराें गाेल्ड जीते हैं, वह सभी मास्टर्स-2 कैटेगरी में जीते हैं। - जैसा मास्काे से भावना टाेकेकर ने रामकृष्ण यदुवंशी को बताया।

डाइट में बदलाव... प्राेटीन के लिए ना चाहकर भी मुझे राेज खाना पड़े 4 से 6 अंडे
सपोर्ट...दाेनाें बेटे और पति भी घर में साथ ही करते हैं वर्कआउट, ऐसा इसलिए ताकि मेरी प्रैक्टिस ना छूटे

आगे टारगेट... तीन दिन बाद 50 की हो जाऊंगी। फिर मास्टर्स थ्री कैटेगरी में लूंगी हिस्सा

खबरें और भी हैं...