• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Bhopal
  • Bhopal Indore Coronavirus Outbreak Live | Corona Virus Cases in MP Bhopal Indore Jabalpur Ujjain Gwalior Khajuraho (COVID 19) Cases Death Toll Latest News and Updates

भोपाल / बीएमएचआरसी और एम्स के मरीजों का डिस्चार्ज होना शुरू, जल्द ही हमीदिया के मरीजों की भी होगी छुट्टी

Bhopal Indore Coronavirus Outbreak Live | Corona Virus Cases in MP Bhopal Indore Jabalpur Ujjain Gwalior Khajuraho (COVID-19) Cases Death Toll Latest News and Updates
X
Bhopal Indore Coronavirus Outbreak Live | Corona Virus Cases in MP Bhopal Indore Jabalpur Ujjain Gwalior Khajuraho (COVID-19) Cases Death Toll Latest News and Updates

  • बीएमचआरसी को राज्य सरकार ने खाली कराना शुरू कर दिया है, एम्स से मरीजों को छुट्टी दी जा रही है
  • हमीदिया अस्पताल में आपरेशन टाल दिए गए हैं, यहां 600 बेड कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजों के लिए रिजर्व किए गए हैं

दैनिक भास्कर

Mar 26, 2020, 06:04 PM IST

भोपाल। प्रदेश में कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण और लोगों द्वारा सावधानी नहीं बरतने पर इससे संक्रमितों के मामले बढ़ते जा रहे हैं। बीएमचआरसी को राज्य सरकार ने खाली कराना शुरू कर दिया है। एम्स से मरीजों को छुट्टी दी जा रही है। जल्द ही हमीदिया से भी दूसरी बीमारी के मरीजों को शिफ्ट करने की तैयारी चल रही है। हमीदिया अस्पताल में आपरेशन टाल दिए गए हैं। यहां 600 बेड कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजों के लिए रिजर्व किए गए हैं। इसमें 200 बेड और जोड़ दिए जाएंगे। इधर सरकार ने जिले के सीएमएचओ डॉ. सुधीर डेहरिया को हटा दिया है। इनकी जगह डॉ. सुधीर जैसानी को नया सीएमएचओ बनाया गया है। वहीं डॉ. अलरा परोनिया को जेपी की अधीक्षक बनाया गया है। 


भारत सरकार ने दो दिन पहले प्रदेश सरकार को एक बड़ा अस्पताल तैयार करने को कहा था। इसके बाद पब्लिक हेल्थ एक्ट में दी गई शक्तियों का उपयोग करते हुए प्रदेश सरकार ने भारत सरकार के अधीन आने वाले इस अस्पताल को अधिग्रहीत कर लिया है। 24 मार्च को प्रदेश सरकार ने भोपाल मेमोरियल हॉस्पिटल व रिसर्च सेंटर (बीएमएचआरसी) को कोरोना वायरस से पीड़ित मरीजों के इलाज के लिए अधिगृहित करने के आदेश जारी किए थे। यहां विभिन्न विभागों में 375 मरीजों को भर्ती करने की सुविधा है। यहां भर्ती करीब 200 मरीजों को छुट्टी दी जा रही है। इसमें कई ऐसे मरीज हैं जों गंभीर बीमारियों से पीड़ित हैं। यहां करीब 100 मरीज डायलिसिस करा रहे थे जो अब बंद हो गई है। अब ये मरीज कहां अपना इलाज कराएंगे इसकी जानकारी अभी मरीजों को नहीं दी गई है। 

बीएमएचआरसी को कोरोना वायरस से संक्रिमत व्यक्तियों के इलाज के लिए कई सुविधाएं जुटाई जा रही हं। आइसोलेशन वार्ड बढ़ाए जा रहे हैं। सामान्य ओपीडी भी जल्द बंद कर दी जाएगी। इधर, एम्स में ओपीडी 30 अप्रैल तक के लिए बंद कर दी गई है। गंभीर मरीजों को छोड़ बाकी मरीजों की छुट्टी की जा रही है। यहां सिर्फ ट्रामा व इमरजेंसी में मरीजों का इलाज हो रहा है। 


अस्पतालों में सामान्य ओपीडी बंद
कोरोना वायरस का संक्रमण रोकने के लिए अस्पतालों में भीड़ कम की जा रही है। इसके लिए मेडिकल कॉलेजों से संबद्ध अस्पतालों व जिला अस्पतालों में आगामी आदेश तक के लिए सामान्य ओपीडी बंद कर दी गई है। यहां सिर्फ फ्लू ओपीडी में सर्दी-जुकाम के मरीजों व मेडिकल, सर्जिकल, ट्रामा, मातृ एवं शिशु रोग संबंधी इमरजेंसी में रोगियों को इलाज मिलेगा। इसका मकसद यह है कि अस्पताल में उपलब्ध सुविधाओं का ज्यादा उपयोग कोरोना संदिग्धों व मरीजों के लिए किया जा सके। स्वास्थ्य आयुक्त ने सोमवार को इस संबंध में आदेश जारी किए हैं।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना