भोपाल में 17 साल बाद ऐसी बारिश:सिटी में कोलार और बैरसिया के बराबर पानी गिरा; 9 घंटे में डेढ़ इंच से ज्यादा बारिश

भोपाल21 दिन पहलेलेखक: अनूप दुबे

पाकिस्तान से आ रही नमी भरी हवाओं ने भोपाल को भी भिगो दिया। गुरुवार सुबह से ही भोपाल में बादल छाने लगे थे। रात से शुरू हुई बारिश सुबह करीब साढ़े 11 बजे तक चलती रही। वर्ष 2004 के बाद भोपाल में इतना पानी गिरा। भोपाल सिटी में जमकर बारिश हुई। कोलार और बैरसिया इलाके के बराबर शहर में डेढ़ इंच से ज्यादा पानी गिर गया। इससे कई जगह बारिश का पानी भर गया। भोपाल जिले में कुल एक इंच पानी गिरा।

रात दो बजे से पानी गिरना शुरू हुआ

मौसम वैज्ञानिक पीके साहा ने बताया कि भोपाल में रात करीब 2 बजे से पानी गिरना शुरू हुआ। सबसे टीटी नगर, कोलार, एमपी नगर और नेहरू नगर में बारिश शुरू हुई। इसके बाद पूरे सभी जगह बारिश शुरू होने लगी। सुबह 11.30 बजे तक पानी गिरने के कारण भोपाल शहर में ही डेढ़ इंच से ज्यादा बारिश हुई।

इस तरह शहर में बारिश हुई

इलाकेबारिश (मिमी में)
भोपाल सिटी40.8
कोलार21.4
बैरसिया18.5
बैरागढ़16.5
नवीबाग14.4

वर्ष 2004 में एक दिन रिकॉर्ड में 49.1 मिमी बारिश

भोपाल में वर्ष 2004 में एक दिन में सबसे ज्यादा पानी गिरा था। भोपाल में 6 जनवरी को कुल 49.1 मिमी पानी गिरा था। यह एक दिन में सबसे ज्यादा पानी गिरने का अब तक का रिकॉर्ड है। भोपाल में जनवरी में 1948 में सबसे ज्यादा 91.2 मिमी पानी गिरा था।

दिन में बादल और धूप, रात को बारिश

मौसम वैज्ञानिक पीके साहा ने बताया कि भोपाल में अभी दो से तीन दिन तक इसी तरह मौसम रह सकता है। पाकिस्तान से आ रही नमी भरी हवाएं काफी स्ट्रांग हैं। इससे ही भोपाल में जमकर बारिश हुई है। भोपाल में देर रात से सुबह तक इसी तरह बारिश होने संभावना है। दिन में बादल रहेंगे।

रात का तापमान कुछ लुढ़का

भोपाल में बीते तीन दिन से रात के तापमान चढ़ रहे थे। यह 15 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच गया था। गुरुवार रात से बारिश होने के कारण तापमान करीब आधा डिग्री सेल्सियस तक गिर गया। यह 15 से नीचे आ गया।

दो सिस्टम एक साथ

पाकिस्तान से आ रही नमी भरी हवाओं के साथ एक और सिस्टम आज से सक्रिय हो गया है। यह पाकिस्तान से होते हुए राजस्थान में स्थित हैं। यह अगले पांच-छह दिन प्रदेश भर में पानी गिराएगा। भोपाल में 8 और ज्यादा से ज्यादा 9 जनवरी तक बारिश हो सकती है। आज और कल अच्छी बारिश है। इसके बाद हल्की बौछारें पड़ सकती है।

खबरें और भी हैं...