पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

व्यापार ठप, मीटर चालू:बंद शटर में सरका दिए बिल... जमा नहीं किया तो कट जाएगी बिजली

भोपालएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
प्रतीकात्मक फोटो  - Dainik Bhaskar
प्रतीकात्मक फोटो 

लॉकडाउन की पाबंदियों और महामारी के खौफ के बीच कारोबार वैसे ही छटपटाया हुआ है। व्यापारी अपनी अर्थ व्यवस्था के चौपट होने का मातम मना रहे हैं। ऐसे में सरकारी फरमान उन पर नई नई गाज गिरा रहे हैं। महीने भर से बंद पड़े दुकानों के शटर के नीचे से सरका दिए गए बिजली बिलों ने परेशान व्यापारियों को एक और झटका दे दिया है।

मप्र विद्युत वितरण कंपनी ने इस महीने का बिजली बिल जारी कर दिया है। अंतिम तारीख 16 मई (रविवार) है। बिल पर चस्पा चेतावनी और ज्यादा डरावनी है, जिस पर लिखा गया है कि समय पर बिल जमा नहीं किया गया तो बिजली कनेक्शन काट दिया जाएगा। दुकानों के बंद शटर के नीचे से सरका दिए गए इन बिलों को लेकर दुकानदारों में बेचैनी बढ़ रही है।

17 मई तक जारी लॉकडाउन की पाबंदियों के बीच जारी हुए इस फरमान पर इब्राहिमपुरा के कपड़ा व्यापारी चेतन माखीजानी कहते हैं कि एक महीने से कारोबार ठप पड़ा है। ऐसे में बिजली बिल की ये गाज मुश्किल बढ़ाने वाली है। वीनस परफ्यूम्स संचालक रफीक अहमद का कहना है कि महामारी के इस दौर में जब हर तरफ से परेशानियां छाई हुई हैं, सरकार को आमजन के लिए राहत पहुंचाने के निर्णय लेना चाहिए। ऐसे में सरकारी विभाग दमन की नीति पर उतारू हो गए हैं। एपीजे अब्दुल कलाम सेंटर के जावेद बेग ने कहा कि सरकार को लोगों की बिगड़ी आर्थिक व्यवस्था पर सहानुभूति की नजर रखना चाहिए। उन्होंने कहा कि ऐसे मुश्किल हालात में सरकार बिल माफ करने की घोषणा नहीं कर सकती तो इसकी मियाद बढ़ाने की पहल तो कर सकती है।

पहले नगर निगम ने दिया था झटका
इससे पहले नगर निगम ने जलकर बिलों को लेकर नागरिकों को सख्ती भरे आदेश जारी किए थे। जिसमें समय पर बिल जमा नहीं करने पर पैनाल्टी लगाने की बात कही थी।

खबरें और भी हैं...