• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Bhopal
  • By The Age Of 75, Every Ninth Man And Every Eighth Woman In Madhya Pradesh Are Likely To Be Diagnosed With Cancer.

आईसीएमआर की रिपोर्ट में खुलासा:75 वर्ष की आयु तक मध्यप्रदेश में हर नौवें पुरुष और हर आठवीं महिला के कैंसरग्रस्त होने की आशंका

भोपाल3 महीने पहलेलेखक: हरेकृष्ण दुबोलिया
  • कॉपी लिंक
ICMR के नेशनल सेंटर ऑफ डिसीज इन्फॉर्मेशन एंड रिसर्च की रिपोर्ट में यह खुलासा हुआ है। - Dainik Bhaskar
ICMR के नेशनल सेंटर ऑफ डिसीज इन्फॉर्मेशन एंड रिसर्च की रिपोर्ट में यह खुलासा हुआ है।

मप्र में एक लाख आबादी पर सालाना औसतन 1789 कैंसर के नए मामले सामने आ रहे हैं। इनमें 892 केस पुरुषों में, जबकि 897 केस महिलाओं के हैं। 2025 तक मप्र में कैंसर रोगियों की संख्या 77 हजार से बढ़कर 88 हजार के पार पहुंच जाएगी। मप्र में जन्म से 75 वर्ष की आयु तक हर 9 में से 1 पुरुष और हर 8 में से एक महिला काे कैंसर का है। आईसीएमआर के नेशनल सेंटर ऑफ डिसीज इन्फॉर्मेशन एंड रिसर्च की रिपोर्ट में यह खुलासा हुआ है। प्रोफाइल ऑफ कैंसर एंड रिलेटेड फैक्टर मप्र 2021 के मुताबिक मप्र में पुरुषों में मुंह, फेफड़े और जीभ का कैंसर सर्वाधिक है, जबकि महिलाओं में स्तन, गर्भाशय ग्रीवा और ओवरी कैंसर के केस सर्वाधिक हैं।

खतरनाक.. पुरुषों में मुंह, फेंफड़े और जीभ में कैंसर के मामले बढ़ रहे और महिलाओं में स्तन, गर्भाशय ग्रीवा व ओवरी कैंसर के केस

प्रदेश के इन अस्पतालों में कैंसर के इलाज की सुविधा

एम्स-भोपाल, कैंसर हॉस्पिटल एंड रिसर्च सेंटर-ग्वालियर, चोइथराम हॉस्पिटल एंड रिसर्च सेंटर-इंदौर, गांधी मेडिकल कॉलेज व जवाहरलाल नेहरू कैंसर हॉस्पिटल एंड रिसर्च सेंटर-भोपाल।

इन कारणों से सबसे ज्यादा बढ़ रहे हैं कैंसर मरीज

तंबाकू उत्पादों (गुटखा, खैनी, सिगरेट, बीड़ी) का सेवन, शराबखोरी, अनहेल्दी डाइट, शारीरिक असक्रियता, मोटापा, इन्फेक्शन, वायु प्रदूषण। रिपोर्ट के मुताबिक यदि इन कारणों पर नियंत्रण पा लिया जाए तो कैंसर रोगियों की संख्या 50 फीसदी तक कम की जा सकती है।

  • पुरुषों में 54.9 फीसदी कैंसर रोग का कारण तंबाकू से जुड़े उत्पादों का सेवन करना है।
खबरें और भी हैं...