• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Bhopal
  • Candidates Asked I Did Not Qualify By Scoring 76, My Friend How Did I Qualify On 64? Constable Recruitment Exam To Be Scrutinized; Cancel MP TET Also

भोपाल में व्यापमं दफ्तर का घेराव:कैंडिडेट्स ने पूछा- मैं 76 नंबर लाकर नॉट क्वालिफाई, मेरा दोस्त 64 पर क्वालिफाई कैसे? आरक्षक भर्ती परीक्षा की जांच हो; MP-TET भी रद्द करें

भोपाल4 महीने पहले

व्यापमं (व्यावसायिक परीक्षा मंडल) का नाम बदलकर PEB (प्रोफेशनल एक्जामिनेशन बोर्ड) जरूर हो चुका है, लेकिन घोटाले के आरोपों को लेकर यह एक बार फिर चर्चा में है। हाल में हुई MP-TET और पुलिस आरक्षक भर्ती परीक्षा को व्यापमं घोटाला पार्ट-3 बताया जा रहा है। इन दोनों परीक्षाओं में बैठने वाले उम्मीदवारों ने सोमवार को PEB दफ्तर का घेराव कर नारेबाजी की। कैंडिडेट्स ने पूछा कि मैं 76 नंबर लाकर भी नॉट क्वालिफाइड हूं। मेरा दोस्त 64 नंबर लाकर कैसे क्वालिफाइड? आरक्षक भर्ती परीक्षा की जांच हो।

इंदौर, भोपाल, विदिशा, जबलपुर, रीवा समेत 12 से ज्यादा जिलों से आए उम्मीदवारों ने MP-TET को रद्द करने की मांग की। पुलिस आरक्षक भर्ती परीक्षा की भी जांच कराने की मांग की। कई उम्मीदवार तो अपने बच्चों को साथ लेकर आए थे। उम्मीदवारों ने आरोप लगाए कि मामला सामने आने के बाद PEB के जिम्मेदार अधिकारी कंट्रोलर डीके अग्रवाल सोमवार से छुट्‌टी पर चले गए। उनकी मुलाकात इंचार्ज डायरेक्टर से कराई गई और सिर्फ आश्वासन मिला है।

एक ही कैटेगरी में अलग-अलग रिजल्ट
भोपाल में रहने वाले धर्मेंद्र ने बताया कि उन्हें पुलिस आरक्षक भर्ती परीक्षा में 76 अंक मिले। यह देखकर फिजिकल की तैयारी शुरू कर दी। लाल परेड मैदान में सुबह-शाम इसके लिए कड़ी मेहनत कर रहा था। यह बहुत बड़ा घोटाला है। मैं 76 नंबर लाकर नॉट क्वालिफाइड हूं, जबकि मेरा दोस्त 64 नंबर लाकर क्वालिफाइड हो गया। हम दोनों ही OBC कैटेगरी में हैं।

92 नंबर लाकर भी नॉट क्वालिफाइड
भोपाल के नजीराबाद से दो किलोमीटर अंदर गांव में रहने वाली सोना मालवीय ने आरोप लगाए कि वह 92 अंक लाकर भी क्वालिफाई नहीं हो पाई। 92 अंक देखकर फिजिकल की तैयारी शुरू कर दी थी। फीस भी भरी, लेकिन रिजल्ट आया तो मुझे नॉट क्वालिफाइड कर दिया गया।

कैंडिडेट्स के घेराव करने पर व्यापमं दफ्तर का गेट बंद कर दिया गया।
कैंडिडेट्स के घेराव करने पर व्यापमं दफ्तर का गेट बंद कर दिया गया।

कट ऑफ कहीं बताया ही नहीं गया
सुभी गुप्ता ने बताया कि उनके सामान्य श्रेणी में 76 नंबर आए थे। अब मुझे नॉट क्वालिफाइड घोषित कर दिया। हम यह पूछना चाहते हैं कि किस आधार पर हमें नॉट क्वालिफाइड कर दिया। न तो कहीं कट ऑफ के नंबर बताए। न ही किस कैटेगरी में कितनों को चयनित किया ये बताया।

PEB ने जांच कराए जाने की बात कही
दैनिक भास्कर से खास बातचीत में PEB की इंचार्ज एग्जाम कंट्रोलर डॉक्टर ए हेमलता ने कहा कि अभी लिखित में कोई शिकायत नहीं मिली है। कुछ उम्मीदवारों ने मौखिक शिकायत की हैं। अगर किसी भी तरह की गड़बड़ी का मामला सामने आता है, तो पूरे मामले की जांच की जाएगी।

मांगें नहीं मानने पर उग्र होगा प्रदर्शन
PEB के बाहर प्रदर्शन करने वाले उम्मीदवारों ने कहा कि यह तो शुरुआत है। अगर कोई हमारी मांगें नहीं मानते हैं, तो प्रदेश भर से उग्र प्रदर्शन किया जाएगा। सभी जगह से उम्मीदवार भोपाल में आकर PEB के बाहर प्रदर्शन करेंगे।

ये भी पढ़िए:-

खबरें और भी हैं...