छात्रा के फ्रेंड से बदला लेने बनाया अश्लील वीडियो:भोपाल के ITI MMS केस में आरोपी ने कबूला; मैंने शूट किया वीडियो

भोपाल4 महीने पहले

भोपाल के गोविंदपुरा स्थित आईटीआई कैंपस में छात्रा के MMS कांड में बड़ा खुलासा हुआ है। लड़की का कपड़े बदलते हुए वीडियो आईटीआई के ही पूर्व छात्र खुशबू सिंह ठाकुर ने अपने मोबाइल से बनाया था। ये बात उसने पुलिस से पूछताछ में कबूल की है। उसने ये भी बताया कि आरोपी राहुल का लड़के के दोस्त से विवाद चल रहा है। इसी का बदला लेने के लिए उसने राहुल का साथ दिया था। एक आरोपी हिरासत में है। वहीं, मुख्य आरोपी राहुल ठाकुर फरार है।

इधर, शनिवार शाम मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने सीएम हाउस पर घटना के संबंध में पुलिस अफसरों की आपात बैठक बुलाई। सीएम ने ऐसी घटनाओं को गंभीरता से लेने और कॉलेज परिसर, छात्रावास में विशेष सतर्कता बरतने के निर्देश दिए। साथ ही, ऐसी घटनाओं के आरोपियों पर सख्त कार्रवाई करने के भी निर्देश दिए है।

दरअसल भोपाल में गोविंदपुरा स्थित ITI की एक छात्रा का 3 पूर्व स्टूडेंट्स ने कपड़े बदलने के दौरान वीडियो बना लिया। फिर छात्रा को ब्लैकमेल किया। मामले में अशोका गार्डन पुलिस ने 3 स्टूडेंट्स के खिलाफ IT एक्ट समेत अन्य धाराओं में केस दर्ज किया। पुलिस के मुताबिक, छात्रा और उसका दोस्त रेलवे स्टेशन पर बैठे थे। संदिग्ध समझकर जब उनसे पूछताछ की। तब जाकर मामला सामने आ सका।

पढ़िए छात्रा की जुबानी, ब्लैकमेलिंग की कहानी...

पीड़ित छात्रा ने बताया- मैं पिपलानी की रहने वाली हूं। मैं ITI गोविंदपुरा से पढ़ाई कर रही हूं। 17 सितंबर को कॉलेज में विश्वकर्मा जयंती का प्रोग्राम था। मैं कपड़े बदलने के लिए वॉशरूम गई थी। इसी दौरान के पूर्व छात्र राहुल यादव, खुशबू ठाकुर और अयान ने मेरा वीडियो बना लिया। मेरे एक दोस्त ने 20 सितंबर को मुझे इसकी जानकारी दी। उसने बताया कि तीनों ने उसे वीडियो दिखाया। इसमें मैं कपड़े बदलती दिख रही हूं।

तीनों एक्स स्टूडेंट्स ने मुझे वीडियो वायरल करने की धमकी दी। ऐसा नहीं करने के एवज में मुझसे पैसे मांगे। मेरे दोस्त ने वीडियो वायरल करने का मना करते हुए खुशबू ठाकुर को 500 रुपए दे दिए। इसके बाद वे तीनों और पैसे मांग रहे हैं। उन्होंने धमकी दी और कहा- पैसे नहीं दोगी तो वीडियो सोशल मीडिया पर अपलोड कर देंगे। तुम्हारी बदनामी होगी। तेरा कैंपस जाना बंद करा देंगे। तुम्हें बर्बाद कर देंगे। तुम्हारे मां-बाप को मुंह दिखाने लायक नहीं छोड़ेंगे। हमारे पास उन्हें देने के लिए इतने पैसे नहीं हैं। मैं डर गई। घर पर भी बताने की हिम्मत नहीं थी। डर के मारे हम घर से दूर जाने के लिए निकल रहे थे, लेकिन पुलिस हमें रेलवे स्टेशन से पकड़कर थाने लाई।' (जैसा छात्रा ने पुलिस को FIR में बताया।)

घटना को लेकर मुख्यमंत्री ने आपात बैठक बुलाई। इसमें अफसरों को ऐसी घटनाओं पर रोक लगाने के लिए आवश्यक कदम उठाने के निर्देश दिए।
घटना को लेकर मुख्यमंत्री ने आपात बैठक बुलाई। इसमें अफसरों को ऐसी घटनाओं पर रोक लगाने के लिए आवश्यक कदम उठाने के निर्देश दिए।

आप इस पोल पर अपनी राय दे सकते हैं...

छात्रा ने वीडियो नहीं देखा, जैसा दोस्त ने बताया मान लिया: पुलिस
इससे पहले अशोका गार्डन पुलिस ने पीड़ित छात्रा के बयान दर्ज किए, जहां उसने पिपलानी थाने में दिए बयान को दोहराया था। टीआई अलोक श्रीवास्तव ने बताया कि छात्रा ने वीडियो नहीं देखा है। उसके दोस्त ने जैसा उसे बताया वह मान गई। आईटीआई के प्रिंसिपल श्रीकांत गोलायत ने बताया कि कॉलेज में पूजा थी, जो सुबह 10 बजे शुरू होकर दोपहर में 2 बजे तक चली। प्रिंसिपल ने बताया कि उन्हें पीड़िता या किसी और छात्रा से मामले की कोई जानकारी नहीं मिली। पूजा की वजह से ही पासआउट हो चुके छात्र कैम्पस आए थे। कॉलेज प्रशासन ने मामले की जांच कॉलेज की सुरक्षा एजेंसी को सौंपी है। जिसकी रिपोर्ट 2 दिन बाद आएगी। इसके बाद ही मामले में कोई एक्शन लिया जाएगा।

प्रिंसिंपल बोले- कॉलेज में फंक्शन नहीं था, केवल पूजा थी
17 सितंबर को कॉलेज में विश्वकर्मा जयंती को लेकर पूजा-हवन का कार्यक्रम आयोजित किया गया था। जिसमें आरोपी भी शामिल हुए। दोपहर करीब 3 से 4 बजे के बीच छात्रा बाथरूम में कपड़े चेंज करने गई। तभी उसका वीडियो बना लिया गया। इधर, प्रिंसिपल ने कॉलेज में फंक्शन होने से इनकार किया है। उनका कहना है कि सिर्फ पूजा-हवन का कार्यक्रम था। जबकि छात्रा का कहना है कि डांस का आयोजन था, जिसके लिए वह कपड़े बदलने गई थी। पुलिस का कहना कि मुख्य आरोपी के मिलने पर ही वीडियो की सच्चाई का पता चलेगा।

NSUI के प्रदेश सचिव अभिमन्यु तिवारी की मौजूदगी में कार्यकर्ताओं ने प्रदर्शन किया।
NSUI के प्रदेश सचिव अभिमन्यु तिवारी की मौजूदगी में कार्यकर्ताओं ने प्रदर्शन किया।

NSUI कार्यकर्ताओं ने किया प्रदर्शन
मामले में NSUI कार्यकर्ताओं ने गोविंदपुरा ITI के सामने प्रदर्शन किया था। NSUI के प्रदेश सचिव अभिमन्यु तिवारी ने कहा- इस कांड के दोषियों पर कार्रवाई की जाए। जिन्होंने आरोपियों को संरक्षण दिया, उन्हें भी चिह्नित कर कड़ी सजा दी जाए। प्रदेश के सभी कॉलेजों, विश्वविद्यालय में सुरक्षात्मक व्यवस्था के लिए ठोस कदम उठाए जाएं। छात्राओं की सुरक्षा के मामले में NSUI उग्र आंदोलन करेगी।

कैंपस में दबंगई दिखाते हैं पूर्व छात्र
छात्रा ने पुलिस को बताया था कि आरोपी राहुल यादव, खुशबू और अयान ITI से पासआउट हैं। वे कैंपस के आसपास घूमते रहते हैं। वे यहां दबंगई भी दिखाते हैं। फिलहाल पुलिस इस पूरे मामले की जांच में जुट गई है।

ये भी पढ़ें...

मोहाली के चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी (CU) में पढ़ने वाली 60 से ज्यादा छात्राओं के नहाने का वीडियो वायरल करने के आरोप में हिमाचल पुलिस ने दो युवकों को गिरफ्तार किया है। इनमें लड़की ने जिस युवक की तस्वीर दिखाई थी उसे शिमला के ढली से पकड़ा गया है। उसका नाम रंकज वर्मा है। वहीं दूसरे आरोपी सन्नी मेहता को रोहड़ू से अरेस्ट किया गया है। 60 से ज्यादा छात्राओं के नहाने का वीडियो वायरल...