CM शिवराज का संदेश:कोरोना का खतरा अभी टला नहीं... स्थिति बिगड़ी तो लगाना पड़ेगा नाइट कर्फ्यू, महाराष्ट्र की यात्रा से बचें प्रदेशवासी

भोपालएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने गुरुवार रात 8 बजे प्रदेश की जनता को संबोधित किया। - Dainik Bhaskar
मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने गुरुवार रात 8 बजे प्रदेश की जनता को संबोधित किया।
  • मुख्यमंत्री की अपील- भीड़-भाड़ वाली जगहों पर ना जाएं, मास्क ही बचाव का प्रभावी हथियार

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि प्रदेश में कोरोना का खतरा अभी टला नहीं है। अभी नाइट कर्फ्यू नहीं लगाया, लेकिन स्थिति बिगड़ी तो लगाना पड़ेगा। खतरे की घंटी बज रही है। उन्होंने प्रदेश वासियों से अपील की है, फिलहाल महाराष्ट्र की यात्रा करने से बचें। महाराष्ट्र में कोरोना तेजी से फैल रहा है।

मुख्यमंत्री ने गुरुवार रात 8 बजे जनता के नाम संबाेधन दिया। अपने संदेश में उन्होंने कहा कि प्रदेश में लगातार कोरोना के एक्टिव केस बढ़ते जा रहे हैं। खासकर इंदौर और भोपाल में। महाराष्ट्र से सटे जिले छिंदवाड़ा, बहुरहानपुर, खरगोन, खंडवा, बैतूल, सिवनी समेत अन्य सभी जिलों को सतर्क रहने की जरूरत है। बुधवार 24 फरवरी को प्रदेश में 379 नए पॉजिटिव केस आए थे।

उन्होंने जनता से अपील है कि कोरोना संक्रमण फिर से विकराल रूप धारण करे, इससे पहले इसे रोकना होगा। परिस्थितियां बिगड़ती हैं, तो लॉकडाउन लगाना पड़ता है। हम नहीं चाहते कि फिर किसी जिले में लॉकडाउन हो, इसलिए सावधानी रखें। मास्क बचाव का प्रभावी हथियार है। लाेगों को भीड़भाड़ वाली जगह से जाने से बचना चाहिए।

मुख्यमंत्री ने कहा, हर जिले में क्राइसिस मैनजमेंट कमेटी ने गाइडलाइन बनाई है। हर नागरिक को इसका पालन करना होगा। उन्होंने कहा कि प्रदेश में बड़े मेलों का आयोजन नहीं किया जाएगा। इंदौर में शादी समारोह भी हॉल की क्षमता से आधे अतिथियों की मौजूदगी में होगा। उन्होंने कहा कि महाराष्ट्र की सीमा से लगे शहरों में चैकिंग की जा रही है। इन जिलों से मजदूर महाराष्ट्र के शहरों में नाैकरी के लिए अप-डाउन करते हैं, उनके लिए गांव में ही रोजगार उपलब्ध कराया जा रहा है।

मुख्यमंत्री ने संक्रमण को फिर से फैलने से रोकने के लिए सहयोग की अपील करते हुए कहा कि हमने कोरोना के विकराल रूप से नियंत्रित किया है, लेकिन अभी खतरा टला नहीं है। उन्होंने कहा कि अब 60 साल के उम्र के नागरिकों को कोरोना का टीका लगने वाला है। इसके साथ ही 45 वर्ष से ज्यादा के बीमार को भी टीका लगेगा, लेकिन कोराना की गाइडलाइन का पालन करें।

खबरें और भी हैं...