हिजाब विवाद के बीच भोपाल शहर काजी का बयान:मुस्लिम महिलाएं बुर्का और हिजाब पहनें, औरत की शान इसी में कि वह मालिक की गाइडलाइन का पालन करे

भोपाल8 महीने पहले

भोपाल के शहर काजी सैय्यद मुश्ताक अली नदवी ने जुमे की नमाज से पहले इस्लाम धर्म मानने वाली सभी महिलाओं से बुर्का और हिजाब पहनने की अपील की है। उन्होंने कहा कि हिजाब पहनने में कोताही हो रही थी, इसका पालन करें। औरत की शान इसी में है कि वह मालिक की गाइडलाइन का पालन करें। हमें आज जुमे की नमाज से पहले यह कहने की जरूरत इसलिए पड़ी, क्योंकि कुछ बहन बेटियां इसमें कोताही बरत रही हैं। शहर काजी ने सभी मस्जिदों से की अपील कि है यह पैगाम सभी को बताया जाए।

इससे पहले भोपाल शहर काजी ने कहा था कि हिजाब को लेकर जिस तरह की बहस और बवाल मचा है, वैसे हालात की जरूरत नहीं है। हर मजहब के मानने वालों को धर्म की मान्यता के मुताबिक कपड़े पहनने की आजादी है। ऐसे में हिजाब या बुर्के को लेकर अलग से बहस करने या नियम कानून लागू करने की क्या जरूरत है। शहर काजी ने भोपाल के लोगों से मामले में धैर्य और सद्भाव बनाए रखने की अपील की है।

उन्होंने कहा कि हमारे प्रदेश में इस तरह की स्थिति नहीं है। सरकार भी अल्पसंख्यकों की भावनाओं के अनुरूप फैसले ले रही है।

हिजाब पहनने के सही तरीके को समझें लोग- शहर काजी

शहर काजी ने बताया कि मुस्लिम समाज को हिजाब को लेकर अपनाए जाने वाले तरीकों को समझाने के लिए खास बयान जारी करने के लिए कहा गया है। उन्होंने कहा कि अपने धर्म, इसकी व्यवस्थाओं और मान्यताओं को लेकर सभी को बेहतर जानकारी है, लेकिन समय-समय पर इसको दोहराया जाना और याद दिलाया जाना बहुत जरूरी है। ताकि लोग इसे लेकर फैले भ्रम से बाहर आ सकें। इसके पहनने के सही तरीके को भी समझ सकें।

जॉब की जगह हिजाब के मुद्दे में उलझा रही भाजपा - पूर्व मंत्री

कर्नाटक से शुरू हुआ हिजाब विवाद अब दूसरे राज्यों में पहुंच गया है। इसमें सबसे आगे एमपी है। कई नेता इसे लेकर अपने बयान जारी कर चुके हैं। हाल ही में पूर्व मंत्री सज्जन वर्मा ने भी इस मुद्दे में एंट्री की। उनका कहना है कि भाजपा सरकार जॉब देने के बजाए हिजाब के मुद्दे में उलझा रही है। इस समय नौजवान आंदोलित हैं। वह मोदी सरकार के फ्रॉड को समझ गए हैं। उन्हें पता चल गया है कि यह सरकार हमें जॉब देने वाली नहीं है। ऐसे में भाजपा एक न एक बात ऐसी उछालती है। अब हिजाब लेकर आए हैं। ये हमें किस ओर ले जा रहे हैं। अपने बिच्छुओं से नए शब्द बुलवाते हैं। भाजपा ने मामला उछाल दिया, जिससे जनता में हिजाब चलता रहे और जॉब गायब हो जाए। पूरी खबर पढ़ें

फिटनेस क्लब में संचालक ने हिजाब में कराया वर्कआउट

जहांगीराबाद में फिटनेस क्लब संचालक ने हिजाब पर रोक लगाने का विरोध करते हुए पार्क में स्पोर्ट्स एक्टिविटी कराई। हिजाब पहने करीब एक दर्जन महिलाओं ने खेलों का आयोजन किया। मालूम हो कि हिजाब को लेकर कई तरह के वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे हैं।

हिजाब विवाद से जुड़ी यह खबरें भी पढ़ें....

खबरें और भी हैं...