• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Bhopal
  • Claim Taking Corona Samples Throughout The Day, Reality Don't Take It After 1:30 Pm, Excuse Collection Vehicle Has Gone

मनमर्जी की सैंपलिंग मजबूरी की कतार:दावा- दिनभर कोरोना सैंपल लेने का, हकीकत- दोपहर 1:30 के बाद नहीं लेते, बहाना- कलेक्शन गाड़ी जा चुकी

भोपाल20 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
सेंटरों पर जांच बंद, जेपी अस्पताल में कतार। - Dainik Bhaskar
सेंटरों पर जांच बंद, जेपी अस्पताल में कतार।

कोरोना की तीसरी लहर आ चुकी है। मरीजों की संख्या भी तीन गुना रफ्तार से बढ़ रही हैं, इसके बाद भी स्वास्थ्य विभाग का अमला मनमानी कर रहा है। आलम यह है कि जहां अधिकारी दिनभर आरटीपीसीआर सैंपल लेकर जांच करने का दावा कर रहे हैं, वहीं कर्मचारी दोपहर डेढ़ बजे के बाद सैंपल लेने के बजाय लोगों को वापस लौटा रहे हैं।

कर्मचारियों की इस मनमानी के चलते कोरोना संदिग्ध मरीजों को मजबूरी में एक से दूसरे स्थान पर भटकना पड़ रहा है। इतना ही नहीं जिम्मेदार शहर में 47 फीवर क्लीनिक पर कोरोना की जांच किए जाने का दावा कर रहे हैं, जबकि हकीकत यह है कि शहर के ज्यादातर संजीवनी और फीवर क्लीनिक में जांच ही नहीं की जा रही है। संजीवनी बाबा नगर, संजीवनी नया बसेरा, पंडित खुशीलाल आयुर्वेदिक अस्पताल और यूपीएचसी सूरज नगर समेत कई स्थानों पर महीनों से कोरोना की जांच नहीं की जा रही है।

भास्कर लाइव

आरटीपीसीआर नहीं होगी, रैपिट किट से करानी है तो लंच के बाद आना

1. सीएचसी, कोलार {दोपहर 2 बजे
दो युवतियों ने महिला कर्मचारी से पूछा- आरटीपीसीआर जांच करानी है। जवाब मिला- सैंपल जा चुके हैं। अब जांच नहीं होगी। कल सुबह 10 से 1 बजे के बीच आना। रैपिड किट से करानी हो तो लंच के बाद आना।

2. यूपीएचसी, सूरज नगर {2:50 बजे
मेन गेट पर एक युवक बैठा था। अंदर बड़ी खिड़की पर एक ओर पंजीयन व दूसरी ओर दवा वितरण की पर्ची लगी थी। वहां दो महिला कर्मचारी थीं। उन्होंने बताया यहां 3-4 महीने से जांच नहीं हो रही।

3. सिविल डिस्पेंसरी {3:30 बजे
दो कर्मचारी बैठे थे। पूछने पर बताया- कोरोना की जांच अभी नहीं हो पाएगी। एक विकलांग कर्मचारी बोला- जांच करानी है तो सुबह 10 से 1 बजे के बीच आना होगा। दोपहर में डेढ़ बजे गाड़ी सैंपल लेकर चली जाती है।

RKPM स्टेशन में बिना जांच नो एग्जिट
RKPM स्टेशन में बिना जांच नो एग्जिट

यह भी हो रही गड़बड़ी
सरकार ने स्पष्ट कहा है कि कोरोना की जांच आरटीपीसीआर से ही की जाए, रैपिड किट से नहीं, लेकिन रानी कमलापति स्टेशन व कोलार सीएचसी समेत कुछ और स्थानों पर रैपिड किट से जांच की जा रही है। नेहरू नगर निवासी अनुराग सैनी व पत्नी भारती ने सैंपल नहीं दिया, लेकिन उनके मोबाइल पर पति-पत्नी की कोरोना रिपोर्ट निगेटिव आने का एसएमएस पहुंच गया। यही नहीं किसी अरुणा की रिपोर्ट आई है, जबकि वे अरुणा को जानते ही नहीं हैं।

  • दोपहर डेढ़ व शाम 7 बजे सैंपल कलेक्शन के लिए गाड़ी जाती हैं। इसके अलावा सैंपल ज्यादा होने पर दोपहर में भी सैंपल भेजे जाते हैं। दोपहर बाद सैंपल नहीं लिए जा रहे हैं ये मेरी जानकारी में नहीं है। ऐसा करने वालों पर कार्रवाई करेंगे। - डॉ. प्रभाकर तिवारी, सीएमएचओ
खबरें और भी हैं...