• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Bhopal
  • Corona Treatment Will Also Be Done In 5 Private Hospitals Of Bhopal, Bed Charge Of Rs 5 To 17 Thousand; Medicine test Not In Package

भोपाल में कोरोना ट्रीटमेंट के रेट फिक्स:5 प्राइवेट हॉस्पिटल को सशर्त परमिशन, 5 से 17 हजार रुपए होगा बेड चार्ज; पैकेज में दवाई-टेस्ट शामिल नहीं

भोपाल4 महीने पहले

राजधानी भोपाल के 5 प्राइवेट हॉस्पिटल में कोरोना का ट्रीटमेंट होगा। कलेक्टर अविनाश लवानिया ने इन हॉस्पिटलों को अधिकृत कर दिया है। इनमें अलग-अलग बेड और इलाज का पैकेज भी तय किया है। 5 हजार से इसकी शुरुआत होगी और 17 हजार रुपए तक चार्ज लगेगा। पैकेज में दवाई, टेस्ट, बाहर से आने वाले डॉक्टर, पैथालॉजी या सर्जरी का चार्ज शामिल नहीं हैं। सरकारी अस्पताल में अभी काटजू हॉस्पिटल, हमीदिया और एम्स में कोविड मरीजों के इलाज की सुविधा है। जेपी हॉस्पिटल में भी इसकी शुरुआत की जा सकती है।

प्राइवेट हॉस्पिटल में 1 दिन का चार्ज 5 से 17 हजार रुपए तक देना होगा। जनरल वार्ड+आइसोलेशन वार्ड के सबसे कम 5 हजार रुपए देने होंगे। वहीं, वेंटिलेटर+आईसीयू बेड का चार्ज सबसे अधिक 17 हजार रुपए तय किया गया है।

इन प्राइवेट हॉस्पिटल में पैकेज

  • सिटी मल्टीस्पेस्लिटी हॉस्पिटल
  • सिटी हॉस्पिटल
  • 24&7 रूद्राक्ष मल्टीस्पेस्लिटी हॉस्पिटल
  • मारुति मल्टीस्पेस्लिटी हॉस्पिटल
  • ग्रीन सिटी हॉस्पिटल

पैकेज का अधिकतम चार्ज

  • जनरल वार्ड+आइसोलेशन - 5000 रुपए
  • HDU (हाई डिपेंडेंसी यूनिट)+आइसोलेशन- 7500 रुपए
  • ICU+आइसोलेशन- 10 हजार रुपए
  • ICU+वेंटिलेटर+आइसोलेशन- 17 हजार रुपए

(यह 1 दिन का चार्ज है।)

बेड चार्ज में ये शामिल

बेड, नर्सिंग, ड्यूटी डॉक्टर, हाउस कंसल्टेशन, खाना, पीपीई किट, ऑक्सीजन, नेबुलाइजेशन, ग्लव्ज, फिजियोथैरेपी।

इनका अतिरिक्त चार्ज लगेगा

यदि डॉक्टर को बाहर से बुलाएंगे, तो उसका चार्ज अलग से देना पड़ेगा। सिटी स्कैन, पैथोलॉजी, कोविड टेस्ट, दवाएं जैसे- रेमडेसिविर, सर्जरी आदि।

पहली-दूसरी लहर में भी हुआ था एग्रीमेंट

कोरोना की पहली और दूसरी लहर में करीब 12 हजार 900 मरीजों का इलाज मुख्यमंत्री कोविड उपचार योजना में किया था, जिसके एवज में सरकार ने अनुबंधित अस्पतालों को लगभग 35 करोड़ रुपए का भुगतान किया था। मुख्यमंत्री ने कलेक्टरों से कहा था कि वे अगले तीन महीने के लिए फिर से प्राइवेट अस्पतालों से अनुबंध करें। वर्तमान में प्रदेशभर में संक्रमितों की संख्या तेजी से बढ़ रही है। 6 जनवरी को प्रदेश में 1320 नए केस मिले थे। इनमें भोपाल में 246 मामले शामिल हैं। वहीं, 75 साल के बुजुर्ग की भी मौत हुई है।

हमीदिया हॉस्पिटल में 33 डॉक्टर और स्टॉफ को ट्रेनिंग

इधर, शुक्रवार को हमीदिया हॉस्पिटल के एनेस्थेसिया विभाग की HOD डॉ. शिखा मल्होत्रा, डॉ. सुरेंद्र रैकवार और डॉ. दीपेश कुमार ने 33 नए डॉक्टर्स-स्टॉफ को ट्रेनिंग दी। कोरोना की तीसरी लहर को देखते हुए यह विशेष ट्रेनिंग दी गई।

हमीदिया हॉस्पिटल में डॉक्टर और स्टॉफ को कोरोना की विशेष ट्रेनिंग दी गई।
हमीदिया हॉस्पिटल में डॉक्टर और स्टॉफ को कोरोना की विशेष ट्रेनिंग दी गई।
खबरें और भी हैं...