पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Bhopal
  • Curfew Was In Force, Yet A Few Meters Away From The Chhola Temple Police Station, The Miscreants Were Waving Weapons

छोला मंदिर में दो युवकों की हत्या:कर्फ्यू लागू था फिर भी छोला मंदिर थाने से कुछ मीटर दूर हथियार लहरा रहे थे बदमाश

भोपालएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • 11 बजे इंजीनियरिंग छात्र योगेश लोधी और करण सोंधिया की हत्या से पहले पांचों आरोपी इलाके में खुलेआम घूम रहे थे
  • रात दस बजे के बाद शहर में कर्फ्यू लागू होने के बाद भी पांचों का हथियार लेकर घूमना पुलिस की कार्यप्रणाली पर सवाल खड़े करता है

नवजीवन कॉलोनी में गुरुवार रात साढ़े 11 बजे इंजीनियरिंग छात्र योगेश लोधी और करण सोंधिया की हत्या से पहले पांचों आरोपी इलाके में खुलेआम घूम रहे थे। रात दस बजे के बाद शहर में कर्फ्यू लागू होने के बाद भी पांचों का हथियार लेकर घूमना पुलिस की कार्यप्रणाली पर सवाल खड़े करता है। कुछ रहवासियों ने पुलिस अफसरों को बताया है कि पांचों नशे में धुत होकर छोला मंदिर थाने से कुछ मीटर दूर स्थित ममता ज्ञान मंदिर स्कूल के पास भी घूमते रहे, लेकिन उनसे रोकटोक करने की जहमत पुलिस ने नहीं उठाई। यदि पहले ही पुलिस सतर्कता बरतती तो शायद पांचों इस दोहरे हत्याकांड को अंजाम ही नहीं दे पाते। हालांकि, पुलिस अधिकारियों का कहना है कि कर्फ्यू के दौरान अंदरूनी गलियां चेक कर पाना पुलिस के लिए मुमकिन नहीं होता।

सलाखों के पीछे बदमाश

योगेश व करण की हत्या के पांचों आरोपियों को छोला मंदिर पुलिस ने धरदबोचा है, इनमें दो नाबालिग भी हैं। बाकी तीनों आरोपी सुंदर नगर निवासी वीरू उर्फ वीरेंद्र भारती, नवजीवन कॉलोनी निवासी अखिलेश मेहरा और श्रीराम नगर, छोला निवासी छोटू उर्फ भरत विश्वकर्मा हैं। सबसे पहले हमला करने वाला मुख्य नाबालिग 6 दिन पहले ही छोला मंदिर में रहने वाली मौसी के घर आया था। उसके खिलाफ आटा चोरी के अपराध भी दर्ज हैं। 

शराब के लिए युवकों ने की थी अड़ीबाजी

छाेला थाने से महज 200 मीटर दूर नवजीवन कॉलोनी में बीती रात दो नाबालिग सहित पांच नशेड़ियों ने शराब के लिए इंजीनियरिंग के छात्र योगेश लोधी व उसके दोस्त करण सोंधिया की हत्या कर दी। तीसरे युवक मनीष शाक्य के गले में गंभीर चोट आई है।

क्षेत्र में अराजकता है तो उसे दुरुस्त करें: मंत्री
इधर, मंत्री विश्वास सारंग शनिवार दोपहर छोला मंदिर थाने फिर नवजीवन कॉलोनी पहुंचे। योगेश, करण और मनीष के परिवार से मिलकर उन्होंने  परिजन का हौसला बढ़ाया। रहवासियों ने उनसे छोला क्षेत्र में गुंडे-बदमाशों की बढ़ती तादात को लेकर भी शिकायत की। इस पर सारंग ने अफसरों को निर्देश दिए कि यदि अराजकता फैल रही है तो उसे दुरुस्त करें। 

दशहरा मैदान में लगता है नशेड़ियों का मजमा

छोला मंदिर थाने के ठीक पीछे स्थित छोला दशहरा मैदान में शाम होते ही नशेड़ियों का मजमा लग जाता है। एक रहवासी ने बताया कि कलारियों से शराब खरीदकर नशेड़ी मैदान में आकर पीते हैं। इस दौरान यहां से गुजरने वाली महिलाओं को परेशानी का सामना करना पड़ता है।

0

आज का राशिफल

मेष
मेष|Aries

पॉजिटिव - आज पिछली कुछ कमियों से सीख लेकर अपनी दिनचर्या में और बेहतर सुधार लाने की कोशिश करेंगे। जिसमें आप सफल भी होंगे। और इस तरह की कोशिश से लोगों के साथ संबंधों में आश्चर्यजनक सुधार आएगा। नेगेटिव-...

और पढ़ें