• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Bhopal
  • Dindori Leaders Gang raped Haryana Girl In Bhopal Hotel, Accused Caught From Hotel Documents

नाबालिग से रेप, 3 नेता-कारोबारी गिरफ्तार:भोपाल के दो होटलों में डिंडौरी के BJP-JDU नेताओं और पेट्रोल पंप संचालक ने नाबालिग से दुष्कर्म किया; होटल के दस्तावेज से पकड़े गए आरोपी

भोपालएक वर्ष पहले

हरियाणा के पलवल से भाग कर आई एक नाबालिग से भोपाल के दो होटल और एक फ्लैट में दुष्कर्म का मामला सामने आया है। एमपी नगर के होटल से गैंगरेप करने वाले 3 आरोपियों को पुलिस ने डिंडौरी जिले से पकड़ा है। गैंगरेप में शामिल एक भाजपा का पदाधिकारी है, जबकि दूसरा आरोपी जेडीयू डिंडौरी का जिला अध्यक्ष है। तीसरा आरोपी कारोबारी है। इस मामले में दो महिलाओं समेत तीन आरोपियों को पूर्व में पुलिस गिरफ्तार कर चुकी है।

जानकारी के मुताबिक डिंडौरी भाजपा जिला कार्यालय मंत्री मनीष नायक, जेडीयू का जिलाध्यक्ष दिनेश अवधिया और पेट्रोल पंप संचालक अमित सोनी को हिरासत में लिया गया है। इन पर किशोरी से दुष्कर्म करने का आरोप है। बता दें, नाबालिग अशोका गार्डन निवासी पारूल को बस में मिली थी। अशोका गार्डन थाना प्रभारी आलोक श्रीवास्तव ने बताया आरोपियों से पूछताछ की जा रही है।

दिनेश अवधिया।
दिनेश अवधिया।

वह उसे काम दिलाने के लिए भोपाल लेकर आई थी। यहां अशोका गार्डन के अस्सी फीट रोड स्थित अमन होटल में रुकवाया था। पारूल के जानने वाले सैफ ने नाबालिग को पास के फ्लैट में ले जाकर दुष्कर्म किया। इसके अगले दिन पारुल उसे एमपी नगर स्थित एक होटल में ले गई, जहां दो लोगों ने दुष्कर्म किया। तीसरे दिन फिर उसके साथ एक अन्य होटल में दुष्कर्म किया। इस मामले में पीड़िता ने अशोका गार्डन थाने में सीमा, पारूल और सैफ समेत अन्य तीन लोगों के खिलाफ शिकायत की थी। दोनों होटलों में दुष्कर्म करने वाले डिंडौरी के नेता और व्यापारी को पुलिस ने बुधवार को हिरासत में लिया है।

होटल से मिली तीनों आरोपियों की जानकारी
पीड़िता इन तीनों आरोपियों के नाम नहीं जानती थी। पुलिस ने होटल से जानकारी निकाली गई, जिसमें पता चला कि डिंडौरी निवासी मनीष नायक, दिनेश अवधिया, अमित सोनी नाम के व्यक्ति होटल में 18 अगस्त की रात ठहरे हुए थे। सोमवार को पुलिस डिंडौरी पहुंची, जहां से तीनों आरोपियों को लेकर भोपाल पहुंची।

देह व्यापार में धकेली गई पीड़िता का दर्द
मेरी उम्र 17 साल 8 महीने है। मैं, जिला पलवल, हरियाणा के एक गांव की रहने वाली हूं। घर से 13 अगस्त को भागकर मुंबई जाने के लिए मथुरा आई थी। वहां से मुझे किसी ने बताया कि इंदौर होते हुए तुम्हें मुंबई के लिए बस मिल जाएगी। तो मैं इंदौर की बस में बैठकर आ रही थी। मुझे बस में एक लड़की मिली। जिसने अपना नाम पारुल राठौर बताया था। उसके बाद पारुल ने मुझे बताया कि वह भोपाल में अकेली रहती है। उसने कहा कि तुम मेरे साथ भोपाल चलो। मैं तुम्हें काम धंधा दिला दूंगी। उसकी बात मानकर मैं भोपाल आ गई। मुझे उसने अशोका गार्डन के अमन होटल में अपनी आईडी लगाकर रुकवाया। इसके बाद पारुल ने मुझे कहा कि तुम मेरे साथ गलत काम करने लगोगी तो तुम्हें कुछ पैसे कमा लोगी। उसके बाद पारुल ने मुझे कहा कि तुम मेरे साथ चला करो।

16 अगस्त को पारुल अमन होटल के पास ही एक फ्लैट पर लेकर मुझे गई। जहां, सैफ नाम के व्यक्ति ने मेरे साथ पहली बार दुष्कर्म किया। पारुल ने सैफ से 1500 रुपए लिए। अगले दिन पारुल ने सीमा नाम की अपनी सहेली को फोन किया। पारुल मुझे लेकर एमपी नगर स्थित एक होटल में ले गई। जहां दो लोगों ने गलत काम किया। पारुल ने दोनों लोगों से 6 हजार रुपए लिया था। इसके अगले दिन मुझे फिर एक होटल में ले जाया, जहां एक व्यक्ति ने मेरे साथ दुष्कर्म किया।

अगले रोज पारुल मुझे फिर एक होटल में भेज रही थी। तब मैंने मना कर दिया। इसपर मुझे पारुल ने कहा कि तुम काम नहीं करोगी तो जान से हमारे लोग मार देंगे। होटल में उसके आदमी तैनात रहते थे, जो मुझपर हर पल नजर रखते थे। 19 अगस्त को मैं मौका पाकर होटल से भाग थाने पहुंची। जहां, अशोका गार्डन थाने में पुलिस को आप बीती बताई।
(पीड़िता ने जैसा पुलिस को बताया)

खबरें और भी हैं...