• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Bhopal
  • Door to door Garbage Vehicles Did Not Reach More Than Half The City, Piled Up On The Side Of The Roads

दो गुटों में बंटे हड़ताली:आधे से ज्यादा शहर में नहीं पहुंचीं डोर-टू-डोर कचरा गाड़ियां, सड़कों के किनारे लग गए ढेर

भोपालएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
निगम के ज्यादातर ड्राइवरों ने नहीं चलाए वाहन। - Dainik Bhaskar
निगम के ज्यादातर ड्राइवरों ने नहीं चलाए वाहन।

नियमितिकरण की मांग को लेकर नगर निगम के ज्यादातर ड्राइवरों के हड़ताल पर जाने से सोमवार को शहर की सफाई व्यवस्था चरमरा गई। आधे से ज्यादा शहर में डोर-टू-डोर कचरा कलेक्शन वाली गाड़ियां नहीं पहुंचीं। नतीजा-घरों से निकल कर कचरा सड़कों के किनारे आ गया और नए व पुराने शहर के कई इलाकों में कचरे के ढेर नजर आने लगे। हड़ताल एक ही दिन की थी, मंगलवार को स्थिति सामान्य हो जाएगी।

निगम के सफाई कामगारों और ड्राइवरों ने एक साथ हड़ताल पर जाने की घोषणा की थी। अंतिम समय में कामगारों के संगठन अखिल भारतीय सफाई मजदूर कांग्रेस ने अपने आपको हड़ताल से अलग कर लिया, जबकि वाहन चालक संघ हड़ताल पर बना रहा। पुराने शहर में सफाई कामगार काम पर पहुंच गए और ड्राइवर नहीं पहुंचे तो कुछ इलाकों में घरों से बोरे से कचरा इकट्ठा किया गया। भेल सहित कुछ इलाकों में अफसरों ने प्राइवेट वाहनों से कचरा कलेक्ट कराया। शाहपुरा, कोलार, जवाहर चौक, भदभदा रोड, अरेरा कॉलोनी व कुछ अन्य इलाकों में शाम को कचरा गाड़ियां पहुंचीं।

निगम कमिश्नर वीएस चौधरी कोलसानी ने कहा कि नियमानुसार जिन कर्मचारियों को नियमितिकरण की पात्रता है, उनके लिए प्रक्रिया शुरू कर रहे हैं। इस मामले में भोपाल सहित प्रदेश के सभी नगर निगमों की स्थिति एक जैसी है। हमने कर्मचारियों को स्थिति स्पष्ट कर दी है।

खबरें और भी हैं...