पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Bhopal
  • Excise Staff Woke Up In Bhopal After Ujjain Incident; Now Brought The Alcohol Out From Under The Ground, Only Two Women Accused

शराब पर सख्ती:उज्जैन की घटना के बाद भोपाल में आबकारी अमले की नींद खुली; अब जमीन के नीचे तक से शराब निकाल लाई, आरोपी सिर्फ दो महिलाएं मिलीं

भोपाल2 दिन पहले
प्रशासन की इस कार्रवाई में सिर्फ माल जब्त हुआ। कोई खास आरोपी हाथ नहीं लगा।
  • जमीन में गड़े ड्रम से बड़ी मात्रा में जब्त महुआ शराब को फेंका गया
  • पुलिस को 43 ड्रम मिले, लेकिन आरोपियों के नाम पर दो महिलाएं मिलीं

उज्जैन में जहरीली शराब से मौतें होने का मामला सामने आने के बाद अब भोपाल के आबकारी विभाग अमले की नींद खुली है। रविवार तड़के आबकारी टीम जमीन के नीचे दफन शराब के ड्रम तक खोज लाई। महुआ से भरे यह ड्रम नाले के किनारे गाड़े गए थे। टीम को मौके से 43 ड्रम तो मिल गए, लेकिन आरोपियों के नाम पर सिर्फ दो महिलाएं ही मिल पाईं। जब्त शराब को मौके पर भी फेंक दिया गया।

प्रशासन ने मौके पर ही कच्चा माल फेंक दिया।
प्रशासन ने मौके पर ही कच्चा माल फेंक दिया।

विधानसभा उपचुनाव 2020 को देखते हुए सरकार की तरफ से विशेष अभियान चलाया जा रहा है। रविवार तड़के कजलीखेड़ा, गोलजोड़, कोलार रोड और झिरी से सटे जंगल के नदी-नालों के क्षेत्र में दबिश दी गई। यहां पर सघन तलाशी ली गई।

टीम को कजलीखेड़ा में रेखा बंजारा, जनता बाई के कब्जे से और नाले किनारे विभिन्न स्थानों में जमीन में गड़े 43 ड्रम गड़े मिले। यहां प्लास्टिक केन में जलती हुई हाथ भटि्टयों में कुल 70 लीटर हाथ भट्टी कच्ची शराब और करीब 2765 किलोग्राम महुआ लाहन बरामद की गई। प्रशासन ने सभी को मौके पर नष्ट कर दिया।

मुख्य आरोपी हाथ नहीं लगते
आबकारी की टीम ने हाल ही में बड़ी मात्रा में अवैध शराब जब्त की है, लेकिन उन्हें माल के अलावा कुछ नहीं मिला। अब तक की कार्यवाही में आरोपी के नाम पर सिर्फ ड्राइवर ही हाथ लगे। यह शराब कहां से आई और कहां ले जाई जा रही थी। इसका खुलासा तक नहीं हो पाया। बीते दिनों इसी तरह चूनाभट्टी स्थित बार पर पुलिस कार्यवाही के बाद दो विभागों का विवाद भी खुलकर सामने आ गया था।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज परिवार के साथ किसी धार्मिक स्थल पर जाने का प्रोग्राम बन सकता है। साथ ही आराम तथा आमोद-प्रमोद संबंधी कार्यक्रमों में भी समय व्यतीत होगा। संतान को कोई उपलब्धि मिलने से घर में खुशी भरा माहौल ...

और पढ़ें