धोखाधड़ी का मामला:पहले कार बेच दी फिर उसे ही हथिया लिया, केस दर्ज

भोपाल6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

कार बेचने के नाम पर एक जालसाज ने साढ़े पांच लाख रुपए की ठगी कर दी। फिर कार फायनेंस कराने के नाम पर युवक से दस्तावेज लिए और कार लेकर फरार हो गया। युवक ने अपनी रकम वापस मांगी तो उसने पैसे लौटाने से मना कर दिया। कार और पैसे वापस नहीं मिले तो युवक ने अदालत की शरण ली। अदालत के आदेश पर टीटी नगर पुलिस ने आरोपी के खिलाफ धोखाधड़ी और अमानत में खयानत का केस दर्ज कर लिया है। फिलहाल आरोपी की गिरफ्तारी नहीं हो सकी है।

टीआई शैलेंद्र शर्मा के मुताबिक पंचशील नगर निवासी सुशील रैकवार ड्रायवर है। 2016 में सुशील ने एयरपोर्ट रोड कोहेफिजा निवासी श्रीपाल राठौर से एक कार खरीदी थी। कार का सौदा साढ़े छह लाख में तय हुआ था। सुशील ने उसे एक लाख रुपए नकद दे दिए। उक्त कार फायनेंस थी, जिसकी हर माह किश्त साढ़े दस हजार रुपए थी। श्रीपाल के कहने पर सुशील ने तीन साल तक हर माह साढ़े दस हजार रुपए श्रीपाल के खाते में जमा किए। 2019 में श्रीपाल, सुशील के पास पहुंचा। बोला कि कार को फायनेंस कराकर लोन करवा देते हैं। इस पर उसने सुशील से गाड़ी के कागजात और चाबी मांगी। इसके बाद आरोपी कार लेकर गायब हो गया।

खबरें और भी हैं...