• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Bhopal
  • Madhya Pradesh Weather Forecast; Bhopal Indore | IMD Heavy Rainfall Alert In Morena, Chhatarpur, Tikamgarh

शिवपुरी में बस्ती में घुसा मगरमच्छ,VIDEO:अनूपपुर में स्कूली बच्चों से भरी नाव पलटी; बालाघाट में उफनता नाला पार कर स्कूल जाने की मजबूरी

भोपाल15 दिन पहले

बंगाल की खाड़ी में बने लो प्रेशर एरिया से मध्यप्रदेश एक बार फिर से तरबतर हो गया है। इंदौर-जबलपुर, ग्वालियर समेत 30 से ज्यादा शहरों में दो दिन से बारिश हो रही है। यह सिलसिला गुरुवार को भी जारी रहा। ग्वालियर, मुरैना, गुना, शिवपुरी, भिंड, दतिया और अनूपपुर में बारिश हो रही है।

तेज बारिश के कारण मड़ीखेड़ा डैम के 4 गेट खोले गए हैं। दतिया में मोहिनी सागर डैम के किनारे बसे निचली बस्तियों में अलर्ट जारी किया गया है। अनूपपुर में 18 बच्चों से भरी नाव पलट गई। हालांकि सभी बच्चों को सुरक्षित बचा लिया गया। भोपाल में बादल छाए हुए हैं।

मौसम वैज्ञानिक वेदप्रकाश सिंह ने बताया कि गुरुवार को प्रदेश के कई हिस्सों में बारिश होने के आसार है। मुरैना, छतरपुर, टीकमगढ़ और निवाड़ी जिले में अतिभारी बारिश हो सकती है।

शिवपुरी में फिर घुसा मगरमच्छ

शिवपुरी में तेज बारिश में मगरमच्छ बस्ती में घुस आते हैं। गुरुवार को भी ऐसा ही हुआ।
शिवपुरी में तेज बारिश में मगरमच्छ बस्ती में घुस आते हैं। गुरुवार को भी ऐसा ही हुआ।

तेज बारिश के कारण शिवपुरी के वार्ड 7 गायत्री कॉलोनी बस स्टैंड रोड पर गुरुवार सुबह मगरमच्छ घुस गया। इसकी सूचना वन विभाग को दी गई। लोगों ने मगरमच्छ के ऊपर कपड़ा व पॉलीथिन डाल दी। सुबह 10:00 बजे मौके पर पहुंची वन विभाग की टीम ने मगरमच्छ का रेस्क्यू किया। रेस्क्यू दल ने बताया कि मगरमच्छ को चांद पाठा झील में छोड़ दिया जाएगा। इस सीजन में करीब ऐसी एक दर्जन घटनाएं हो चुकी हैं। पढ़ें पूरी खबर

तेज बारिश के कारण मड़ीखेड़ा डैम के 4 गेट खोले

शिवपुरी में सकलपुर गांव में आदिवासी बस्ती में पानी भर गया है।
शिवपुरी में सकलपुर गांव में आदिवासी बस्ती में पानी भर गया है।

जिले में पिछले तीन दिन से हो रही बारिश के चलते नदी नाले उफान पर हैं। सिंध नदी पर बने मड़ीखेड़ा डैम के कैचमेंट एरिया में जलस्तर बढ़ गया है। इसके चार गेट खोले गए हैं। वहीं, कई निचली बस्तियों में पानी भर गया है। सतनबाड़ा थाना क्षेत्र के सकलपुर गांव में तेज बारिश के चलते नाला उफान पर आ गया, जिससे आदिवासी बस्ती में जल भराव की स्थिति बन गई। बस्ती के साथ अन्य घरों में पानी भर गया है। वहीं, भदैयाकुंड ओवरफ्लो हो गया है। बारिश के कारण गुरुवार को शिवपुरी में आगरा-मुंबई राष्ट्रीय राजमार्ग डूब गया। पुलिस ने वाहनों का आवागमन बंद कर दिया। इसके बाद भी कुछ लोग रिस्क लेकर वाहनों काे निकालते रहे। पूरी खबर पढ़ें

अनूपपुर में स्टूडेंट्स से भरी नाव पलटी

पिछले दो दिन से बारिश के कारण नदी का जल स्तर बढ़ा हुआ है। नदी किनारे नाव डूब गई।
पिछले दो दिन से बारिश के कारण नदी का जल स्तर बढ़ा हुआ है। नदी किनारे नाव डूब गई।

अनूपपुर जिले में सोन नदी में गुरुवार को स्कूली विद्यार्थियों से भरी नाव पलट गई। सभी बच्चे नदी पार कर स्कूल जा रहे थे। नदी के दूसरे छोर पर पहुंचते ही नाव पानी में समा गई। नाव में 18 लड़कियां और 2 लड़के सवार थे। हालांकि सभी बच्चाें को सुरक्षित निकाल लिया गया। हादसा जिला मुख्यालय से 20 किमी दूर ग्राम पंचायत कैल्होरी के चचाई में हुआ। छात्रा खुशबू पटेल ने बताया कि नदी के दूसरे किनारे पर पहुंचते ही नाव डूब गई। नाव डूबते ही चीख पुकार मच गई। गनीमत रही कि नदी का किनारा था, यहां गहराई कम थी। नाविक और तट पर मौजूद लोगों ने सभी को सुरक्षित निकाला। दो दिन से बारिश के कारण नदी का जलस्तर बढ़ा हुआ है। छात्राओं का कहना है कि नाव बीच धारा में डूबती, तो सभी नहीं बच पाते। पढ़ें पूरी खबर

बालाघाट में उफनते नाला पार कर स्कूल जा रहे स्टूडेंट्स

बालाघाट जिले के परसवाड़ा क्षेत्र में स्कूली बच्चों का एक वीडियो सामने आया है। जिसमें बच्चे स्कूल जाने के लिए उफनते नाले को पार कर रहे हैं। नाले में करीब तीन फीट पानी है। ऐसे में एक ग्रामीण विद्यार्थियों को कंधे पर बैठाकर और हाथ पकड़कर नाला पार करा रहा है। वीडियो परसवाड़ा के वनांचल ग्राम नाटा के पंडाटोला और डंडईझोला के बीच का है। यहां नाले पर पुलिया नहीं है। बारिश के दिनों में लोगों को नाले में उतरकर उसे पार करना पड़ता है। पढ़ें पूरी खबर

दतिया में निचली बस्तियों में अलर्ट
शिवपुरी में मड़ीखेड़ा डैम के गेट खोले जाने के कारण दतिया में मोहिनी सागर बांध का जलस्तर बढ़ गया है। इस कारण प्रशासन ने यहां निचली बस्तियों में अलर्ट जारी किया है। प्रशासन के मुताबिक जरूरत पड़ने पर मोहिनी सागर डैम के भी गेट खोले जा सकते हैं।

इन जिलों में बारिश के आसार
मौसम विभाग ने मुरैना, छतरपुर, टीकमगढ़ और निवाड़ी जिलों में अति भारी बारिश होने के आसार जताए हैं। वहीं, नर्मदापुरम-ग्वालियर संभाग के साथ भिंड, श्योपुरकलां, विदिशा, रायसेन, बुरहानपुर, धार, सीधी, पन्ना, दमोह, सागर, डिंडोरी, रीवा, अनूपपुर, कटनी, जबलपुर, छिंदवाड़ा, सिवनी, मंडला, बालाघाट जिले समेत रीवा, सागर, शहडोल, भोपाल, जबलपुर, उज्जैन और ग्वालियर संभाग में तेज और रिमझिम बारिश हो सकती है।

ग्वालियर में गुरुवार सुबह तेज बारिश हुई।
ग्वालियर में गुरुवार सुबह तेज बारिश हुई।

20 से ज्यादा जिलों में हुई बारिश
बुधवार को प्रदेशभर में मौसम सामान्य रहा। भोपाल में बादल छाए रहे तो शाम को रिमझिम पानी बरसा। नर्मदापुरम, ग्वालियर में एक इंच से ज्यादा पानी बरस गया। वहीं, सीधी, गुना, इंदौर, सतना, रीवा, जबलपुर, बैतूल, मंडला, रायसेन, शिवपुरी, उमरिया, नरसिंहपुर, सिवनी आदि जिलों में भी बारिश दर्ज की गई। बारिश की वजह से टीकमगढ़ के निचले इलाकों में बारिश का पानी भर गया। शिवपुरी में छज्जा गिरने से वृद्धा की मौत हो गई।

खबरें और भी हैं...