• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Bhopal
  • Idols Of Mother Durga Kali Will Be Seated In Abhijeet Muhurta, Committees Engaged In Decoration Of Pandals

नवरात्र आज से:अभिजीत मुहूर्त में विराजेंगी मां दुर्गा-काली की प्रतिमाएं, पंडालों की सजावट में जुटीं समितियां

भोपाल15 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
न्यू मार्केट। - Dainik Bhaskar
न्यू मार्केट।
  • न्यू मार्केट में आरती के बाद बांटेंगे पौधे और ईको फ्रेंडली कैरी बैग्स
  • बिट्‌टन मार्केट में खाटू श्याम बाबा के मंदिर की प्रतिकृति के होंगे दर्शन

शहर में दुर्गा उत्सव की तैयारियां अंतिम चरण में हैं। बुधवार देर शाम तक पंडालों को सजाने का सिलसिला चलता रहा। न्यू मार्केट, पर्यावास भवन, महात्मा गांधी चौराहा पिपलानी भेल, बिट्‌टन मार्केट सहित शहर के विभिन्न इलाकों में मां भवानी के पंडालों को कलाकार सजाने में लगे रहे। गुरुवार को अभिजीत मुहूर्त में मां दुर्गा-काली की प्रतिमाएं विराजमान की जाएंगी।

उत्सव समिति के पदाधिकारियों ने बताया कि वे कोरोना प्रोटोकॉल का पालन करते हुए झांकी स्थल को तैयार करा रहे हैं। न्यू मार्केट व्यापारी महासंघ के सचिव अजय देवनानी का कहना है कि उनके यहां प्रोटोकॉल का ध्यान रखा जाएगा।

न्यू मार्केट

न्यू मार्केट व्यापारी दुर्गा उत्सव समिति द्वारा 600 वर्गफीट का पंडाल बनाया है। आयोजक महेश कुकरेजा और संयोजक विकास जोगी को बनाया गया है। मां भवानी की प्रतिमा के लिए शृंगार सामग्री कोलकाता से मंगाई हैं। झांकी स्थल पर आरती के बाद पौधों, नो-प्लास्टिक अभियान के तहत ईको फ्रेंडली कैरी बेग्स का वितरण करेंगे।

बिट्‌टन मार्केट

जय मां वैष्णो दुर्गा उत्सव समिति बिट्‌टन मार्केट हाट बाजार व्यापारी संघ ने पंडाल में मां भवानी की गंजबासौदा से लाई जा रही प्रतिमा को विराजमान किया जाएगा। संयोजक हरिओम खटीक व अध्यक्ष राम सलोने पटेल ने बताया कि यहां पर राजस्थान के खाटू श्याम बाबा के मंदिर की प्रतिकृति बनाई है।

शहर में 500 से अधिक स्थानों पर सजाए पंडाल

सूर्य के दक्षिणायन काल में देवी पूजन को विशेष महत्व दिया गया है। इसलिए अश्विन के नवरात्र में विशेष रूप से देवी पूजन की परंपरा है। पंडित विष्णु राजौरिया का कहना है कि अश्विन महीने का यह समय गर्मी एवं सर्दी का संधिकाल होता है, इसलिए इन दोनों का मिलन आध्यात्मिक साधना के लिए सर्वश्रेष्ठ माना गया है।

प्रतिपदा से नवमी तक देवी के नौ रूपों का पूजन होता है। इस वर्ष आश्विन शुक्ल षष्ठी तिथि का क्षय हो रहा है। इसके चलते नवरात्र आठ दिन के रहेंगे। इस बार बड़े पंडाल कम ही बनाए गए हैं। शहर में 500 से ज्यादा स्थानों पर मां भवानी की प्रतिमाएं स्थापित होंगी।

खबरें और भी हैं...