पति की आंखों के सामने पत्नी को बस ने कुचला:भोपाल में शव से लिपटकर रोता रहा पति; भीड़ के धक्के से गिर पड़ी थी महिला

भोपाल3 महीने पहले

भोपाल में भागती हुई भीड़ ने दो बच्चों से मां का आंचल छीन लिया। महिला अपने बच्चों और पति के साथ बाइक से घर लौट रही थी। तभी सड़क किनारे एक चाय के ठेले में आग लग गई। ठेले पर जमा लोग सड़क की ओर भागे। इनमें से कोई बाइक से टकरा गया। इस झटके में महिला उछलकर सड़क पर जा गिरी। दूसरी ओर से आ रही बस ने उसे कुचल दिया। जिससे महिला की तत्काल मौत हो गई। पति 10 मिनट तक लहूलुहान लाश को कलेजे से लगाए बिलखता रहा। बच्चों के भी आंसू थम नहीं रहे थे। लोग इसका वीडियो बनाते रहे।

हादसा भोपाल के शाहजहांनाबाद इलाके में शुक्रवार सुबह करीब साढ़े 8 बजे हुआ। महिला पति और 2 बच्चों के साथ बाइक से रेलवे स्टेशन से अपने घर कमला नगर जा रही थी। अचानक ताज-उल-मस्जिद के सामने एक ठेले में आग लग गई। आग से बचने भागी भीड़ बाइक से टकराई, जिससे महिला उछलकर सड़क पर गिर गई। बस की चपेट में आने से महिला की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि पति और बच्चों को भी मामूली चोट आई है। पुलिस ने बस को जब्त कर लिया है।

इस खबर को आगे पढ़ने से पहले आप इस पोल में भाग लेकर अपनी राय दे सकते है -

ट्रेन छूटने पर महेश पत्नी दुर्गा, बेटा लक्ष्य, बेटी तामिया के साथ शाहजहांनाबाद होते हुए घर लौट रहा था।
ट्रेन छूटने पर महेश पत्नी दुर्गा, बेटा लक्ष्य, बेटी तामिया के साथ शाहजहांनाबाद होते हुए घर लौट रहा था।

ऐसी है दर्दनाक हादसे की दास्तां...
जानकारी के मुताबिक, राहुल नगर क्षेत्र के कमला नगर निवासी महेश गाखरे प्राइवेट जॉब करता है। वह शाजापुर में रहने वाली अपनी बहन के घर जाने के लिए शुक्रवार सुबह भोपाल रेलवे स्टेशन पहुंचा था। उसके साथ पत्नी दुर्गा गाखरे (33), बेटा लक्ष्य (9), बेटी तामिया (6) भी थे। ट्रेन छूटने पर महेश परिवार काे लेकर वापस शाहजहांनाबाद होते हुए घर लौट रहा था। ताज-उल-मस्जिद के पास अचानक भीड़ दौड़ पड़ी और काेई बाइक से भिड़ गया। धक्का लगते ही बाइक अनबैलेंस होकर गिर गई। दुर्गा उछलकर सड़क पर गिरी, जिसे रॉयल मार्केट की तरफ ढलान से आ रही तेज रफ्तार बस (MP39P0569) का पिछला पहिया उसके सिर से गुजर गया। सड़क किनारे गिरे पति और बच्चे यह खौफनाक मंजर देखते रह गए।

बाइक से उछलकर सड़क पर गिरी दुर्गा के सिर पर रॉयल मार्केट की तरफ ढलान से आ रही तेज रफ्तार बस का पिछला पहिया गुजर गया।
बाइक से उछलकर सड़क पर गिरी दुर्गा के सिर पर रॉयल मार्केट की तरफ ढलान से आ रही तेज रफ्तार बस का पिछला पहिया गुजर गया।

रक्षाबंधन में नहीं आ पाई थी बहन
महेश ने बताया कि उसकी बहन शाजापुर में रहती है। रक्षाबंधन पर बहन नहीं आ पाई थी। इसलिए परिवार समेत राखी बंधवाने शाजापुर जा रहे थे। भोपाल स्टेशन पर बाइक पार्क कर भीतर पहुंचे तो ट्रेन छूटने का पता चला, इसके बाद वापस लौट रहे थे।महेश के रिश्तेदारों ने बताया कि दुर्गा सिलाई करती थी। वह परिवार की आर्थिक सहारा भी थी।

चाय-नाश्ते के लिए इसी ठेले को घरकर काफी लोग खड़े थे, जो अचानक ठेले में आग लगने के बाद सड़क की ओर भागे।
चाय-नाश्ते के लिए इसी ठेले को घरकर काफी लोग खड़े थे, जो अचानक ठेले में आग लगने के बाद सड़क की ओर भागे।

ठेले में आग लगने के बाद मची भगदड़
जानकारी अनुसार, घटनास्थल के पास ही सड़क किनारे एक ठेला है। चाय-नाश्ते के लिए यहां पर काफी लोग सुबह-सुबह खड़े हुए थे। अचानक ठेले में आग लग गई। आग देख वहां मौजूद लोग सड़क की ओर भागे और बाइक से टकरा गए। जिस चाय के ठेल में आग लगी उसे 16 साल का किशोर चलाता है। आग से वह भी झुलस गया है। प्रारंभिक इलाज के बाद अस्पताल से उसे छुट्‌टी दे दी गई है। इधर, पुलिस को घटना के चश्मदीदों ने बताया कि ठेले की छत पर पन्नी डली हुई थी। किसी ग्राहक की जलती हुए सिगरेट पन्नी पर लगी और आग लग गई।

महिला को कुचलने के बाद ड्राइवर सीधे बस को लेकर थाने पहुंचा और घटना बताई।
महिला को कुचलने के बाद ड्राइवर सीधे बस को लेकर थाने पहुंचा और घटना बताई।

बस चालक खुद ही बस थाने में खड़ा किया
घटना के ड्राइवर सीधे बस लेकर शाहजहानाबाद थाने पहुंच गया। उसने पुलिस को बताया कि ताज-उल-मस्जिद के पास बस से महिला की मौत हो गई है। पुलिस मौके पर पहुंची तो काफी भीड़ जमा थी। पुलिस महिला को हमीदिया अस्पताल लेकर पहुंची, लेकिन काफी देर हो चुकी थी।

ठेले में पन्नी डली होने से अचानक आग भभक गई। इसके बाद भाग रही भीड़ में किसी ने बाइक को धक्का दे दिया।
ठेले में पन्नी डली होने से अचानक आग भभक गई। इसके बाद भाग रही भीड़ में किसी ने बाइक को धक्का दे दिया।
खबरें और भी हैं...