• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Bhopal
  • In The State Of Intoxication, The Employee Was Operating The Goods Train Incorrectly, On The Objection Of The Senior, Abusing, Uproar

रेलवे अफसर से झूमाझटकी:नशे की हालत में कर्मचारी कर रहा था काम, सीनियर की आपत्ति पर की गाली-गालौज, हंगामा; सस्पेंड

भोपाल25 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
बृजसुन्दर सिंह जगावत। - Dainik Bhaskar
बृजसुन्दर सिंह जगावत।

भोपाल डिविजनल रेलवे मैनेजर (डीआरएम) ऑफिस में तैनात उप मुख्य नियंत्रक के साथ सहकर्मी ने शराब के नशे में गाली-गालौज के साथ झूमाझटकी कर दी। नियंत्रक ने गोविंदपुरा थाना में इसकी FIR कराई है। इसके साथ ही वरिष्ठ मंडल परिचालन रेल प्रबंधक से शिकायत की है। नियंत्रक ने पुलिस को बताया कि सहकर्मी नशे की हालत था। मालगाड़ियों की ऑपरेटिंग के लिए दिए गए निर्देश को नहीं मान रहा था। वह अपने मनमर्जी कर रहा था, जब इस पर आपत्ति जताई तो गाली-गालौच करने लगा। विरोध करने पर झूमाझटकी कर दी। पुलिस ने आरोपी का मेडिकल कराया, जिसमें शराब के नशे की पुष्टि हुई है। रेलवे से आरोपी कर्मचारी को सस्पेंड कर दिया है।

जानकारी के मुताबिक, मकान नंबर-304 / ए प्रोस्पेरा अपार्टमेन्ट बागमुगालिया में रहने वाले बृजसुन्दर सिंह जगावत(45) डीआरएम ऑफिस में उप मुख्य नियंत्रक के पद पर पदस्थ हैं। उन्होंने बताया कि 5 नवंबर की रात ढाई बजे की बात है। उनकी रात में ड्यूटी 1 बजे से 9 बजे के बीच थी। उनके साथ मनोज कुमार देवक भी ड्यूटी पर था।

बृजसुन्दर सिंह का कहना है कि ड्यूटी के दौरान मनोज के द्वारा मालगाड़ी का गलत तरीके से कंट्रोल कर रहा था। इस पर जब मैंने आपत्ति जताई तो वह गाली-गालौच करने लगा। मेरे निर्देशों को मानने से इंकार कर दिया। इतना ही नहीं मारपीट के नियति से वह झूमाझटकी भी मेरे साथ की। बृजसुन्दर ने आरोप लगाया कि मनोज शराब के नशे में था।

रेल प्रबंधक से की शिकायत
बृजसुन्दर ने पुलिस को बताया कि घटना की जानकारी उनकी तरफ से वरिष्ठ मंडल परिचालन रेल प्रबंधक को की गई है। जिसकी जांच की जा रही है। बृजसुन्दर का कहना है कि जब वे ऑफिस से बाहर निकले तो मनोज उन्हें जान से मारने की धमकी देने लगा। घटना के समय रेल कर्मचारी नमन कुमार व जगदीश दुधानी भी मौजूद थे।

मेडिकल में नशे की पुष्टि
गोविंदपुरा थाना प्रभारी अशोक सिंह परिवार ने बताया कि मनोज का मेडिकल कराया गया है। मेडिकल में शराब के सेवन की पुष्टि हुई है। जमानती धारा होने की वजह से उसे नोटिस दिया जाएगा। इधर, रेलवे विभाग भी मनोज के खिलाफ जांच शुरू कर दिया है। सूत्रों की मानें तो मनोज के खिलाफ सख्त एक्शन की तैयारी विभाग कर रहा है।

खबरें और भी हैं...