'पठान' के सवाल पर कमल पटेल बोले- मेरे दुश्मन हो:प्रह्लाद पटेल ने जोड़े हाथ; उषा ठाकुर ने कहा- मैं फिल्में कम देखती हूं

भोपाल3 दिन पहले

शाहरुख खान और दीपिका पादुकोण की पठान मूवी आज रिलीज हो गई है। मूवी पर जब केंद्रीय मंत्री प्रहलाद पटेल से रिएक्शन मांगा गया, तो उन्होंने हाथ जोड़ लिए। बोले- मुझे मरवाओगे क्या? भारत माता की जय। मध्यप्रदेश सरकार में पर्यटन और संस्कृति मंत्री उषा ठाकुर ने कहा- मैं फिल्में कम देखती हूं। राज्य के कृषि मंत्री कमल पटेल ने सवाल पूछने पर मीडिया से कहा- मेरे दुश्मन हो क्या?

कुछ दिनों पहले पठान फिल्म के गाने बेशरम रंग में दीपिका की बिकिनी के रंग को लेकर काफी विवाद हुआ था। फिल्म के टीजर और रिलीजिंग को लेकर MP BJP नेताओं, विधायकों और मंत्री आपत्ति जता चुके हैं। लेकिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की नसीहत के बाद से BJP नेताओं ने बयानबाजी करना बंद कर दिया। पिछले हफ्ते दिल्ली में हुई BJP की राष्ट्रीय कार्यकारिणी समिति की बैठक में PM ने BJP नेताओं को मूवी और मुसलमानों पर बेवजह बयानबाजी करने से मना किया था।

PM की नसीहत के बाद से ही MP BJP के नेता सहमे हुए हैं। गृहमंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा, चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास सारंग, सांसद प्रज्ञा सिंह ठाकुर, विधायक रामेश्वर शर्मा अब बयानबाजी से बच रहे हैं। इन नेताओं के अलावा BJP के नेताओं ने भी बयानबाजी के बजाय चुप्पी धारण कर ली है।

मोदी के मंत्री ने पठान के सवाल पर जोडे़ हाथ
BJP की प्रदेश कार्यसमिति की बैठक में शामिल होने भोपाल पहुंचे मप्र सरकार के कृषि मंत्री कमल पटेल से जब पूछा कि पठान फिल्म रिलीज हो रही है आप क्या कहेंगे? इस पर कमल पटेल ने सवाल पूछने वाले पत्रकार से कहा- तुम मेरे मित्र हो या कोई दुश्मन। इतना कहकर मंत्री कमल पटेल तेजी से निकल गए। केंद्रीय मंत्री प्रहलाद पटेल जब प्रदेश कार्यसमिति की बैठक के बाद जाने लगे, तो उनसे भी यही सवाल पूछा गया, तो हाथ जोड़ लिए और कहा- भारत माता की जय।

केंद्रीय मंत्री प्रहलाद पटेल और मध्यप्रदेश सरकार में कृषि मंत्री कमल पटेल। (लेफ्ट टू राइट)
केंद्रीय मंत्री प्रहलाद पटेल और मध्यप्रदेश सरकार में कृषि मंत्री कमल पटेल। (लेफ्ट टू राइट)

मंत्री उषा ठाकुर ने भी पठान पर किया किनारा
मध्यप्रदेश सरकार में पर्यटन और संस्कृति मंत्री उषा ठाकुर से पूछा गया कि पठान फिल्म रिलीज हो रही है, आप देखने जाएंगी या देखने वालों के लिए कुछ कहेंगी? इस पर उषा ठाकुर ने कहा- दोनों पर कुछ नहीं कहूंगी। मैं वैसे भी कम फिल्में देखती हूं। फिल्म देखने वालों को लेकर बोलीं ये व्यक्तिगत रुचि और अरुचि का विषय होता है। इस पर मैं कुछ नहीं कहूंगी।

सिलवानी विधायक बोले- गलत सीन को हटाकर फिल्म दिखाई जाए
पूर्व मंत्री और मौजूदा सिलवानी से विधायक रामपाल सिंह बोले- फिल्म देखने का ज्यादा शौक नही हैं। मेरी सलाह ये है कि गलत चित्रों का प्रदर्शन न हो, किसी की भावना को आहत करने वाले चित्रों को डिलीट कर फिल्म दिखाई जाए।

मंत्री उषा ठाकुर और सिलवानी विधायक रामपाल सिंह। (लेफ्ट टू राइट)
मंत्री उषा ठाकुर और सिलवानी विधायक रामपाल सिंह। (लेफ्ट टू राइट)

कांग्रेस की मांग- थिएटर्स की सुरक्षा पुख्ता की जाए
पठान की रिलीजिंग को लेकर कांग्रेस ने थिएटर्स की सुरक्षा पुख्ता करने की मांग की है। मप्र कांग्रेस मीडिया विभाग के उपाध्यक्ष अब्बास हफीज ने CM से मांग करते हुए ट्वीट में लिखा- पठान मूवी का विवाद मध्यप्रदेश के सरकार के एक मंत्री ने शुरू किया था, तो मैं मांग करता हूं कि शिवराज सिंह चौहान प्रदेश के हर मूवी हॉल में पर्याप्त पुलिस बल लगाकर सुरक्षा की सख्त व्यवस्था करें। असम के CM आश्वस्त कर चुके हैं। गुजरात के गृहमंत्री पुलिस लगा चुके हैं। किसी भी तरह की अप्रिय घटना यदि प्रदेश में पठान मूवी को लेकर होती है, तो जिम्मेदार पूरी तरह भाजपा सरकार होगी।

मध्यप्रदेश से उठे थे विरोध के स्वर
पठान फिल्म का ट्रेलर जारी होने के बाद विरोध के सबसे तेज स्वर मध्यप्रदेश से उठे थे। गृहमंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा ने फिल्म के गाने बेशरम रंग.. में दीपिका पादुकोण के भगवा बिकनी पहनने पर नाराजगी जताई थी। उन्होंने कहा था- फिल्म में कुछ आपत्तिजनक दृश्य हैं। उन्होंने पठान को मध्यप्रदेश में प्रतिबंधित करने की भी चेतावनी दी थी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की नसीहत के बाद उन्होंने कहा था- उनका हर शब्द, हर बात शिरोधार्य है।