पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Bhopal
  • Last Year There Were 800 Positives In Budhwara, Bhoipura, Itwara And Islampura Of The Old City, 12 Lost Their Lives, But Now There Are Zero Cases Here.

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

कोरोना हॉट स्पॉट की बदली तस्वीर:पिछले साल पुराने शहर के बुधवारा, भोईपुरा, इतवारा और इस्लामपुरा में 800 पॉजिटिव हुए थे, 12 ने जान भी गंवाई थी, लेकिन अब यहां जीरो केस

भोपालएक महीने पहलेलेखक: भीम सिंह मीणा
  • कॉपी लिंक
  • यहां के लोग तबीयत खराब होने पर फीवर क्लीनिक पर नहीं, निजी या दूसरी जगह के अस्पताल में करवाते हैं जांच

पुराने शहर की ढाई लाख आबादी से घिरीं 4 बस्तियां बुधवारा, भोईपुरा, इतवारा और इस्लामपुरा में पिछले साल 800 कोरोना मरीज निकले थे। 12 ने जान भी गंवाई थी, लेकिन अब यहां कोरोना के जीरो केस हैं। यहां के 350 लोगों ने ही अपना टेस्ट कराया, सभी निगेटिव आए हैं। पिछले साल कोरोना हॉट स्पॉट के रूप में पहचान बनाने वाले इन इलाकों में लोगों ने सैंपलिंग भी स्थानीय फीवर क्लीनिक पर न करवाकर दूसरे अस्पताल और क्लीनिक में कराई है। इसे चारों इलाकों में जीरो केसेज आने की अहम वजह माना गया हैं।

सरकार की पहल के बाद भी इन इलाकों के लोग सैंपलिंग में ज्यादा दिलचस्पी नहीं ले रहे। यही कारण है कि इन इलाकों के फीवर क्लीनिक में भीड़ न के बराबर है। ऐसा नहीं है कि स्वास्थ्य विभाग कोई पहल नहीं कर रहा। उसकी जो टीम सैंपलिंग के लिए जाती है, लोगों के आगे नहीं आने पर वह दुकानदार, ठेले वालों का सैंपल लेकर लौट आती है। घरों में रहने वाले लोग इनसे सैंपलिंग नहीं करवाते हैं। यह भी पता चला है कि इन इलाकों में रहने वाले लोग तबीयत खराब होने पर निजी अस्पताल या दूसरे इलाकों के सरकारी क्लीनिक में जाकर जांच करवा रहे हैं।

पूरे शहर की स्थिति : 21 मार्च 2020 से 22 मार्च 2021 तक

  • 25 लाख आबादी
  • 6.5 लाख सैंपलिंग
  • 48 हजार मरीज पॉजीटिव
  • 625 मरीजों की मृत्यु हुई

घर का शादी समारोह स्थगित किया

भाेईपुरा निवासी अरविंद केवट ने बताया कि पिछले साल उनके परिवार के सभी सदस्य संक्रमित हो गए थे, इसलिए वे पिछले साल से ज्यादा इस बार सावधानी बरत रहे हैं। घर के बुजुर्गों को कोविड-19 की दोनों डोज लगवा दी हैं। यहां तक कि घर की शादी भी निरस्त कर दी।

विवेकानंद कॉलोनी... केस नहीं
कटारा हिल्स की विवेकानंद कॉलोनी में 300 से ज्यादा परिवार रहते हैं। यहां इस बार जीरो केसेज हैं। बीते साल 12 से अधिक लोग पॉजीटिव थे। कैंपस में रहने वाले डॉक्टर प्रद्मुन गुप्ता बताते हैं कि उनके साथ कई लोगों ने सैंपलिंग कराई। सभी रिपोर्ट निगेटिव ही आई।

यहां तब भी जीरो, अब भी जीरो
कान्हासैया स्थित सेंट्रल एकेडमी ऑफ पुलिस ट्रेनिंग में पिछले साल की तरह इस बार भी जीरो केसेज हैं। एकेडमी के असिस्टेंट डायरेक्टर अंशुमान सिंह ने बताया कि जरूरी सतर्कता बरतने के कारण एकेडमी में कोई कोरोना संक्रमित नहीं हुआ।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आध्यात्मिक गतिविधियों में समय व्यतीत होगा। जिससे आपकी विचार शैली में नयापन आएगा। दूसरों की मदद करने से आत्मिक खुशी महसूस होगी। तथा व्यक्तिगत कार्य भी शांतिपूर्ण तरीके से सुलझते जाएंगे। नेगेट...

    और पढ़ें