भोपाल में नई पार्किंग पॉलिसी:15 मई से शोरूम पर लाइफटाइम पार्किंग चार्ज वसूलेंगे, 250 से 5 हजार रुपए तक देने होंगे

भोपाल8 दिन पहले

भोपाल में 1 मई से नई पार्किंग पॉलिसी लागू हो चुकी है। इसमें मल्टीलेवल और प्रीमियम पार्किंग को छोड़ करीब 55 पार्किंग फ्री की गई है। अब 15 मई से लाइफ टाइम पार्किंग चार्ज वसूला जाएगा। इसमें टूव्हीलर-फोर व्हीलर शोरूम से गाड़ी खरीदते समय ही 250 से 5 हजार रुपए तक लिए जाएंगे। यदि आप 1 लाख रुपए के अंदर कीमत वाली टूव्हीलर खरीदते हैं तो आपको 500 रुपए अलग से देने होंगे। हालांकि, डीलर्स नगर निगम के इस आदेश का विरोध भी जता रहे हैं।

नई पार्किंग पॉलिसी और शोरूम से ही लाइफ टाइम पार्किंग चार्ज वसूले जाने के पीछे निगम का तर्क है कि इससे लोगों को सुविधा और बचत दोनों ही होगी। उन्हें तय करीब 55 पार्किंग स्थल से पर गाड़ी पार्किंग करने पर कोई चार्ज नहीं देना पड़ेगा। दूसरी ओर बदसलूकी या दुर्व्यवहार की शिकायतें भी नहीं होंगी। पुरानी गाड़ियों को लेकर कोई शुल्क नहीं वसूला जाएगा।

बाहर के लोग निगम को टैक्स क्यों दें
नई गाड़ी खरीदते समय लोग शोरूम के डीलर को लाइफ टाइम टैक्स जमा कराएंगे। फिर यह राशि डीलर नगर निगम को जमा कराएंगे। हालांकि, डीलर इस नई पॉलिसी का विरोध जमा रहे हैं। ऑटोमोबाइल एसोसिएशन के अध्यक्ष आशीष पांडे ने बताया, भोपाल के शोरूम से आसपास के जिलों के लोग भी गाड़ियां खरीदते हैं। वे टैक्स क्यों दें? यह पॉलिसी ठीक नहीं है। इसका विरोध कर रहे हैं।

ऑनस्ट्रीट-ऑफ स्ट्रीट पार्किंग फ्री
शहर में वर्तमान में संचालित एवं नई प्रस्तावित सभी मल्टीलेवल पार्किंग एवं प्रीमियम पार्किंग को छोड़कर वर्तमान एवं नई प्रस्तावित समस्त ऑनस्ट्रीट/ऑफस्ट्रीट पार्किंग फ्री रहेगी। मल्टीलेवल एवं प्रीमियम पार्किंग में पहले की तरह पार्किंग शुल्क वसूली जारी रहेगी। निशुल्क पार्किंग की सुविधा निगम द्वारा निशुल्क घोषित पार्किंग स्थलों पर ही उपलब्ध होगी। यदि कोई नो-पार्किंग जोन में गाड़ी की पार्किंग करता है तो ट्रैफिक पुलिस कार्रवाई करेगी। पार्किंग स्थलों पर अनिश्चित समय तक वाहन रखने की अनुमति नहीं होगी।

ये राशि वसूलेंगे
नगर निगम द्वारा वाहन एजेंसियों के माध्यम से नई गाड़ी खरीदते समय एकमुश्त पार्किंग शुल्क वसूला जाएगा। इसकी अलग-अलग राशि तय की गई है।

  • टूव्हीलर की कीमत 50 हजार रुपए तक होने पर 250 रुपए पार्किंग शुल्क लगेगा।
  • टूव्हीलर कीमत 50 हजार 1 रुपए से एक लाख रुपए तक है तो 500 रुपए शुल्क रहेगा।
  • टूव्हीलर की कीमत 1 से 5 लाख रुपए तक है तो एक हजार रुपए शुल्क लगेगा।
  • टूव्हीलर की कीमत 5 लाख रुपए से अधिक होने पर 1500 रुपए शुल्क देना होगा।
  • फोरव्हीलर की कीमत 6 लाख रुपए तक होने पर 1500 रुपए चार्ज लगेगा।
  • फोरव्हीलर की कीमत 6 से 12 लाख रुपए के बीच है तो 2 हजार रुपए लगेंगे।
  • फोव्हीलर की कीमत 12 लाख से 30 लाख रुपए के बीच है तो 3 हजार रुपए शुल्क देना होगा।
  • यदि फोव्हीलर की कीमत 30 लाख रुपए तक होने पर 5 हजार रुपए शुल्क लगेगा।