पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Bhopal
  • Limited People Arrived At Mosques On Shab e Barat, Bandhs Read Fatiha In Cemeteries, Streets Not Inundated

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

त्योहार पर कोरोना का असर:शब-ए-बरात पर मस्जिदों में पहुंचे सीमित लोग, बंदों ने कब्रिस्तान में पढ़ी फातिहा, सड़कों पर नहीं हुए जलसे

भोपालएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • पुराने शहर के कई इलाके इत्र, लोबान, अगरबत्ती और फूलों की खुशबू से महक उठे

चौतरफा सन्नाटा, सूनी सड़कें, बाजारों में खामोशी होने से शब-ए-बारात की रौनक गायब थीं। मस्जिदों में नमाज अदायगी के लिए सीमित बंदे दिखाई दिए। सार्वजनिक स्थानों पर मजहबी तकरीरों के मंच नहीं थे। यह नजारा शब-ए-बरात पर रविवार को दिखाई दिया। सोमवार को बंदे रोजा रखेंगे। कोरोना संक्रमण और लॉकडाउन का असर त्योहार पर दिखाई दिया। यद्यपि पिछले साल भी ऐसी स्थिति थीं, लेकिन इस बार पुराने शहर के कई इलाकों में झिलमिलाती रोशनी से जगमग नहीं थे। शहर में कई स्थानों पर जलसों का आयोजन भी नहीं हुआ।

पुराने शहर के कब्रिस्तानों में बंदे फातिहा पढ़ने पहुंचे
कब्रिस्तानों में पूर्वजों की कब्रों पर जाने की परमिशन एक-एक व्यक्ति को दी गई। समूह में जाने को लेकर रोक-टोक भी रही। बैरिकेड्स लगे होने से बंदों को चक्कर लगाकर कब्रिस्तान जाना पड़ा। कई बंदे व्यवहारिक परेशानी से बचने की खातिर अलसुबह ही कब्रिस्तानों में फातिहा पढ़ने पहुंचे थे। शाम होते ही पुराने शहर के कई इलाके इत्र, लोबान, अगरबत्ती और फूलों की खुशबू से महक उठे।

गुनाहों की माफी मांगते हैं
ऑल इंडिया मुस्लिम त्योहार कमेटी अध्यक्ष डॉ. औसाफ शाहमीरी खुर्रम ने बताया कि यह रहमतों की रात है, इसलिए बंदे रात भर अपने घरों और मस्जिदों में इबादत करते हैं। शब-ए-बरात में इबादत करने वाले अगर सच्चे दिल से इबादत करते हैं और अपने गुनाहों की माफी मांगते हैं तो उनके गुनाह माफ हो जाते हैं। इधर, शाहजहांनाबाद, काजी कैंप, टीला जमालपुरा, कबीटपुरा, लक्ष्मी टॉकीज, इतवारा, भारत टॉकीज, छावनी, बुधवारा, इतवारा, गिन्नौरी, जहांगीराबाद, जिंसी, बाग उमराव दुल्हा जैसे इलाकों में सन्नाटा था।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- दिन सामान्य ही व्यतीत होगा। कोई भी काम करने से पहले उसके बारे में गहराई से जानकारी अवश्य लें। मुश्किल समय में किसी प्रभावशाली व्यक्ति की सलाह तथा सहयोग भी मिलेगा। समाज सेवी संस्थाओं के प्रति ...

    और पढ़ें