• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Bhopal
  • Live in partner Had Spread The Trap Of Cheating, On The Pretext Of Giving Certificate Of Parlor, Recovered 15 15 Hundred Rupees From Girls, Had Fun In Nainital

भोपाल में ब्यूटीशियन की मौत का मामला:लिव इन पार्टनर लड़कियों को देता था पार्लर का सर्टिफिकेट देने का झांसा, 1500-1500 रुपए भी वसूले; नैनीताल में उड़ाई मौज

भोपाल2 महीने पहले

भोपाल के MP नगर जोन-1 में ब्यूटीशियन किरण मेंहदौरिया (27) की मौत के मामले में नया खुलासा हुआ है। किरण के प्रेमी दिनेश दुबे प्रेमिका का चेहरा दिखाकर ठगी का जाल बिछा रखा था। वह प्रेमिका के सहारे लड़कियों को ब्यूटी पार्लर की ट्रेनिंग देने का झांसा देकर रुपए वसूलता था। वह MP नगर जोन-1 स्थित एक पार्लर में ट्रेनिंग लेने आ रही 7 युवतियों से ठगी कर चुका है। इन रुपयों से दिनेश मौज करता था। दिनेश का अभी पता नहीं चल सका है।

ठगी की शिकार युवतियों ने बताया कि किरण ने उनसे 1500-1500 रुपए फीस जमा कराई थी। किरण 26 सितंबर को दिनेश के साथ नैनीताल (उत्तराखंड) जाने का कहकर गई थी। जाने से पहले किरण ने कहा था कि तीन माह की ट्रेनिंग देंगे। कोर्स पूरा होने के बाद गवर्नमेंट सर्टिफाइड सर्टिफिकेट मिलेगा।

युवतियों ने बताया कि दिनेश खुद को ह्यूमन राइट कमीशन का अधिकारी बताता था। किरण कहती थी कि वह पुलिस में है। हमें उनके बारे में इससे ज्यादा कुछ पता नहीं था। युवतियों के मुताबिक, 5 अक्टूबर से पार्लर में कोर्स शुरू होना था। इस दिन किरण सिर्फ 1 घंटे के लिए पहुंची। किरण फोन पर किसी से बात कर रही थी। इसके बाद अचानक बोली कि अर्जेंट फोन है। कमरे पर जा रही हूं। थोड़ी देर बाद उसकी मौत की खबर मिली। किरण के कमरे से पार्लर की दूरी करीब 100 मीटर है।

27 साल की किरण मेंहदौरिया ने B.Com के बाद PGDCA की पढ़ाई के साथ ब्यूटीशियन का कोर्स भी किया था। किरण के पिता सुरेन्द्र सिंह मेहदौरिया ने आरोप लगाया था कि दिनेश दुबे 4 अगस्त को बेटी को नौकरी दिलाने का झांसा देकर ग्वालियर से भोपाल लाया था।

फंदे से लटका मिला ब्यूटीशियन का शव:भोपाल में लिव इन में रहती थी, पिता बोले- नौकरी का झांसा देकर NGO संचालक ने 6 लाख लिए, वापस न देना पड़े, इसलिए मार डाला

पति को कभी नहीं देखा
MP नगर जोन-1 में जिस मकान में किरण रहती थी उसके मकान मालिक ने बताया कि उनके घर में कई लड़कियां किराए का कमरा लेकर रह रही हैं। पुरुषों का प्रवेश प्रतिबंधित है। किरण का पति कभी भी मकान तक नहीं आया। उसे किरण के साथ देखा भी नहीं।

बेटी को आगे कर वसूले पैसे
किरण के पिता सुरेन्द्र ने कहा कि दिनेश शातिर जालसाज है। वह लोगों को झांसा देकर पैसा वसूलता है। इन पैसों से वह मौज करता है। मेरी बेटी को भी उसने अपने जाल में फंसाकर पैसे ऐंठे हैं। उस पर पुलिस सख्त कार्रवाई करे।

खबरें और भी हैं...