भोपाल में ओमिक्रोन की पुष्टि:यूएस से आई संक्रमित छात्रा ठीक होकर 13 दिन बाद वापस लौटी; मालदीप से लौटा 26 साल का युवक पॉजिटिव; 1 मौत भी रिपोर्ट

भोपालएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक

राजधानी भोपाल में ओमिक्रॉन के पहले मामले की पुष्टि हो गई है। प्रदेश में अब ओमिक्रॉन के केस बढ़कर 12 पहुंच गए है। यूएस से दिसंबर में भोपाल आई 22 वर्षीय छात्रा की रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी। जिसकी जीनोम सिक्वैसिंग के लिए सैंपल भेजा गया था। इसकी रिपोर्ट में ओमिक्रॉन की पुष्टि हुई है। हालांकि अब छात्रा ठीक होकर वापस यूएस लौट गई है। राहत की बात यह है कि उसकी कॉन्ट्रेक्ट ट्रेसिंग में किसी की रिपोर्ट पॉजिटिव नहीं आई थी।

भोपाल में 24 घंटे में भोपाल में सोमवार को 562 संक्रमित मिले है। जिले में अब एक्टिव मरीजो की संख्या बढ़कर 1962 पहुँच गई है। इसमें से होमाइसोलेशन में 1909 मरीज है। अस्पताल में 53 मरीज भर्ती है।

भोपाल में कोरोना से 1007 मौतें

भोपाल में एक मौत भी रिपोर्ट हुई है। अशोका गार्डन निवासी 57 साल के मरीज की एम्स में मौत हुई थी। उनको अस्थमा की शिकायत थी। इसके साथ ही भोपाल में कोरोना से मौत का आकड़ा बढ़कर 1007 पहुंच गया है।

26 वर्षीय युवक पॉजिटिव

सोमवार को मालदीप से लौटा गोविदंपुरा निवासी 26 वर्षीय युवक पॉजिटिव आया था। वह 7 जनवरी को विदेश से लौटा था। फिलहाल वह होम आईसोलेशन में है। उसके जांच में रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। स्वास्थ्य विभाग उसकी कॉन्ट्रेक्ट ट्रेसिंग करा रहा है। विदेश से लौटे अब तक 22 लोग संक्रमित हो चुके है। इनमें से 16 ठीक हो चुके है।

पूर्व सीएम के ओएसडी पॉजिटिव

इसके अलावा पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ के ओएसडी भी पॉजिटिव आए है। वह सोमवार रात चिरायु अस्पताल में भर्ती हुए। चिरायु अस्पताल के सीएमडी डॉ. अजय गोयनका ने इसकी पुष्टि की है। गोयनका ने बताया कि उनको हल्का बुखार और सर्दी के लक्षण है।