पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

भोपाल में एक और लव जिहाद:राज बनकर शादी करने वाले इमरान ने पत्नी को दी धमकी, कहा- धर्म नहीं बदला तो मार डालूंगा; 4 साल बाद नए कानून में FIR

भोपाल13 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
भोपाल संभाग में लव जिहाद के लिए बनाए गए नए कानून के तहत 8वां केस दर्ज किया गया। 
- प्रतीकात्मक फोटो - Dainik Bhaskar
भोपाल संभाग में लव जिहाद के लिए बनाए गए नए कानून के तहत 8वां केस दर्ज किया गया। - प्रतीकात्मक फोटो
  • नाम बदलकर आरोपी ने पीड़िता से लव मैरिज की थी
  • दो साल पहले दर्ज हुए दहेज प्रताड़ना के मामले में कोर्ट में पेशी पर आए थे दोनों

भोपाल में लव जिहाद का एक और मामला सामने आया है। आरोपी ने दो साल पहले दर्ज किए गए दहेज प्रताड़ना के मामले में कोर्ट में पेशी के दौरान पत्नी को धमकाया। उसने कहा कि अगर धर्म परिवर्तन नहीं किया, तो जान से मार डालूंगा। एमपी नगर पुलिस ने महिला की शिकायत पर शादी के करीब चार साल बाद आरोपी के खिलाफ धार्मिक स्वतंत्रता अध्यादेश की धारा 3/5 में FIR की। तीन दिन पहले आरोपी ने यह धमकी दी थी।

TI सूर्यकांत अवस्थी ने बताया, 27 साल की पीड़ित इंद्रपुरी की रहने वाली है। उसने वर्ष 2016 में विदिशा निवासी इमरान खान उर्फ राज प्रजापति से प्रेम विवाह किया था। उसने बताया कि शादी के बाद उसे पता चला कि उसका नाम राज प्रजापति नहीं, बल्कि इमरान खान है।

उसके बाद वह पीड़ित को धर्म बदलने और दहेज के लिए प्रताड़ित करने लगा। इसी कारण दो साल पहले उसने महिला थाने में इमरान के खिलाफ दहेज प्रताड़ना समेत अन्य धाराओं में FIR कराई थी। महिला ने बताया, वह गत 15 फरवरी को इसी मामले की कोर्ट में पेशी थी।

वह दोपहर में पेशी पर पहुंची। इस दौरान इमरान ने उससे मारपीट करते हुए जान से मारने की धमकी देकर धर्म परिवर्तन करने के लिए दबाव बनाया। पीड़ित ने घटना की शिकायत एमपी नगर पुलिस से की। पुलिस ने मारपीट, जान से मारने की धमकी समेत धार्मिक स्वतंत्रता अध्यादेश की धारा 3/5 की धारा में मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

दो दिन बाद शिकायत

इधर, घटना की सूचना पीड़ित ने तत्काल सूचना नहीं दी। उसने दो दिन बाद थाने में इसकी शिकायत की। पुलिस ने नए कानून के तहत मामला दर्ज कर आरोपी की तलाश शुरू कर दी है। इधर, मामले की जानकारी लगने के बाद हिंदू संगठन भी एमपी नगर थाने पहुंच गए।

भोपाल में आठवां मामला

नए कानून के तहत जनवरी में ही 23 मामले दर्ज किए जा चुके थे। इसमें सबसे ज्यादा भोपाल संभाग में 7 हुए थे। नया मामला दर्ज होने के बाद यह संख्या 8 पहुंच गई है। जनवरी में 23 दिन के अंदर इंदौर में 5, जबलपुर व रीवा संभाग में 4-4 और ग्वालियर संभाग में 3 केस दर्ज किए जा चुके थे।

प्रदेश में 9 जनवरी को लागू हुआ

मध्यप्रदेश में धर्म स्वातंत्र्य अधिनियम 2020 का अध्यादेश 9 जनवरी शाम 5 बजे से यह प्रदेश में लागू हो गया। सरकार द्वारा इसका नोटिफिकेशन जारी कर उसकी प्रति प्रदेश के सभी कलेक्टर को भेज जा चुकी है। हालांकि इसे 6 महीने में विधानसभा से पास कराना होगा। इससे पहले यह कानून उत्तर प्रदेश में भी अधिनियम के माध्यम से लागू किया जा चुका है।

खबरें और भी हैं...

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- इस समय ग्रह स्थिति आपके लिए बेहतरीन परिस्थितियां बना रही है। व्यक्तिगत और पारिवारिक गतिविधियों के प्रति ज्यादा ध्यान केंद्रित रहेगा। बच्चों की शिक्षा और करियर से संबंधित महत्वपूर्ण कार्य भी आ...

और पढ़ें