हमीदिया में दूसरा किडनी ट्रांसप्लांट:रिसिपिएंट का क्रिएटिनिन हो रहा सामान्य; डोनर को 48 घंटे बाद पलग से उतार चलाना शुरू करेंगे

भोपालएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
हमीदिया अस्पताल में ऑपरेशन करते डॉक्टर - Dainik Bhaskar
हमीदिया अस्पताल में ऑपरेशन करते डॉक्टर

भोपाल के हमीदिया अस्पताल में सोमवार को दूसरे किडनी ट्रांसप्लांट के रिसिपिएंट और डोनर दोनों स्वस्थ्य है। दोनों की जांच रिपोर्ट ठीक आ रही है। रिसिपिएंट का क्रिएटिनिन सामान्य हो रहा है। ऑपरेशन के 48 घंटे बाद डोनर को पलग से उतार कर चलाना-फिराना शुरू किया जाएगा। बता दें 61 वर्षीय मां ने अपनी 27 वर्षीय बेटी को किडनी दी है। महिला को प्रेग्नेंसी में कॉम्प्लीकेशन के कारण किडनी खराब हो गई थी।

किडनी रोग विशेषज्ञ डॉ. हिमांशु शर्मा ने बताया कि रिसिपिएंट और डोनर दाेनों की जांच रिपोर्ट सामान्य आ रही है। रिसिपिएंट का पेशाब अच्छा बन रहा है। क्रिएटिनिन का स्तर भी कम होता जा रहा है। उन्होंने बताया कि डोनर को ऑपरेशन के 48 घंटे बाद बेड से उतार कर चलाना-फिराना शुरू करेंगे। डॉ. शर्मा ने बताया कि दोनों को अभी आईसीयू में रखा है। डोनर को आईसीयू से ही डिस्चार्ज करेंगे। वहीं, रिसिपिएंंट को पांच दिन बाद वार्ड में शिफ्ट किया जाएगा। उन्होंने बताया कि सबकुछ ठीक रहने पर 8 से 10 दिन में मरीज को भी डिस्चार्ज कर दिया जाएगा।

14 डाॅक्टरों ने 5 घंटे में किया ऑपरेशन

14 डॉक्टरों की टीम ने सोमवार को 5 घंटे में ऑपरेशन किया। इसमें किडनी रोग विशेषज्ञ डॉ. हिमांशु शर्मा, डॉ आरआर बर्डे, डॉ. चैतन्य कुलकर्णी, प्रत्यारोपण सर्जन डॉक्टर सौरभ जैन, डॉ. अमित जैन, निश्चेतना विशेषज्ञ डॉ. यश्वंत धावले, डॉ. वंदना पांडे, डॉ. बृजेश कौशल, डॉ. श्वेता श्रीवास्तव, जूनियर डॉक्टर डॉ. आदित्य, डॉ. विष्णु, डॉ. ललित, डॉ. मेघा, डॉ. सचिन समेत अन्य नर्सिंग और टेक्निकल स्टाप शामिल था।

ब्लड प्रेशर हाई हो गया था

शिवपुरी निवासी महिला की 2015 में शादी हुई। 2016 में प्रेग्नेंसी के दौरान उनको ब्लड प्रेशर हाई हो गया। एक निजी अस्पताल में डिलीवरी के बाद समस्या बढ़ने पर भोपाल रेफर कर दिया, जहां जांच में क्रिएटाइन बढ़ा हुआ आया। डॉक्टर ने दवा शुरू की, इसके बाद सबकुछ ठीक था। लेकिन एक साल बाद फिर समस्या बढ़ गई। हमीदिया में जांच कराने पर सामने आया कि किडनी पूरी तरह खराब हो गई है। 5 महीने पहले वह डायलिसिस पर आ गई। इसके बाद उनके गले में परमाकैथ कैथेटर डाला है। इसे 6 महीने तक रख सकते है। इससे ही अभी उनका डायलिसिस हो रहा है।

खबरें और भी हैं...