• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Bhopal
  • Mass Processions Will Not Even Come Out, Idol Immersion Will Be Done Under The Supervision Of Officers At The Ghats; Police Will Be Deployed For Security

भोपाल के विसर्जन घाटों पर पहुंचे कलेक्टर-डीआईजी:सामूहिक जुलूस भी नहीं निकलेंगे, घाटों पर अफसरों की देखरेख में कर सकेंगे मूर्ति विसर्जन; सुरक्षा के लिए पुलिस रहेगी तैनात

भोपालएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
विसर्जन घाटों का निरीक्षण करने के दौरान कलेक्टर और डीआईजी ने संबंधित अधिकारियों को निर्देशित भी किया। - Dainik Bhaskar
विसर्जन घाटों का निरीक्षण करने के दौरान कलेक्टर और डीआईजी ने संबंधित अधिकारियों को निर्देशित भी किया।

भोपाल में गणेश मूर्ति विसर्जन जुलूस या चल समारोह प्रतिबंधित है। इसलिए विसर्जन जुलूस-चल समारोह नहीं निकलेंगे। घाटों पर अफसर और निगमकर्मियों की देखरेख में मूर्ति विसर्जन हो सकेगा। पुराने हादसों को देखते हुए सुरक्षा के लिए घाटों पर पुलिस तैनात रहेगी। मंगलवार को कलेक्टर अविनाश लवानिया और डीआईजी इरशाद वली ने विसर्जन घाटों का निरीक्षण भी किया।

कलेक्टर-डीआईजी ने संबंधित अधिकारियों से कहा कि घाटों पर विसर्जन के समय श्रद्धालुओं की भीड़ न होने दें। ताकि अप्रिय घटना से बचा जा सके। सोशल डिस्टेसिंग का पालन हो। इसकी व्यवस्था आयोजकों को भी करना होगी। अफसर खटालापुरा समेत कई विसर्जन घाटों पर पहुंचे।

यह प्रतिबंधित

झांकी आयोजन स्थल अथवा मूर्ति स्थापना स्थल पर किसी प्रकार के सांस्कृतिक कार्यक्रम, जागरण, मनोरंजक कार्यकम, खेल प्रतियोगिताएं एवं भंडारे प्रतिबंधित है। मूर्ति विसर्जन स्थल पर ले जाने के लिए चल समारोह और जुलूस निकालना पूर्णतः प्रतिबंधित किया गया है। विसर्जन के लिए सामूहिक समारोह भी पूर्णतः प्रतिबंधित रहेगा।

खबरें और भी हैं...