MP के कांग्रेस विधायकों पर ट्रेन में छेड़छाड़ का आरोप:महिला बोली- दोनों ने नशे में टच किया, बुरी नजर से देख रहे थे

भोपाल2 महीने पहले

मध्य प्रदेश के दो कांग्रेस विधायकों पर एक महिला ने छेड़छाड़ का आरोप लगाया है। महिला का आरोप है कि वह अपने दूधमुंहे बेटे के साथ रेवांचल एक्सप्रेस के एसी कोच में सफर कर रही थी। इसी दौरान सतना से कांग्रेस विधायक सिद्धार्थ कुशवाहा और कोतमा विधायक सुनील सराफ ने नशे में उसे टच किया। दोनों बुरी नजर से उसे देख रहे थे।

मदद मांगने पर सागर GRP महिला को लेकर भोपाल पहुंची। GRP ने दोनों विधायकों के खिलाफ छेड़छाड़ का केस दर्ज किया है। जांच के लिए केस जबलपुर, कटनी GRP को ट्रांसफर किया जाएगा।

पीड़ित की जुबानी, घटना वाली रात की कहानी...
मेरी उम्र 30 साल है। मैं रीवा की रहने वाली हूं। 6 अक्टूबर को मैं रेवांचल एक्सप्रेस से रीवा रेलवे स्टेशन से रानी कमलापति स्टेशन के लिए सवार हुई थी। मैं अपने 7 माह के बेटे के साथ यात्रा कर रही थी। रात करीब 11.50 बजे सामने वाली बर्थ में कोतमा विधायक सुनील सराफ (उम्र 47) और सतना विधायक सिद्धार्थ कुशवाहा (उम्र 38) बैठे थे। मेरी साइड वाली बर्थ पर दोनों ने खाना खाया और फिर गंदी-गंदी गालियां बकने लगे।

मेरे कंधे को टच कर इन्होंने मुझे उठाया। कहने लगे मैडम आपने खाना खाया है या नहीं। मैंने कुछ नहीं कहा। वे दोनों नशे की हालत में बुरी नीयत से देख रहे थे। मेरे कंधे पर हाथ फेरते हुए बकवास कर रहे थे। मैंने कहा कि मेरा बेटा सो रहा है, गाली-गलौज मत करिए। वे नहीं माने तो मैंने अपने पति को कॉल कर पूरी घटना बताई।

पति की शिकायत पर सागर रेलवे स्टेशन पर पुलिस आई। उन्होंने मुझे दूसरी सीट पर शिफ्ट कर दिया। जब मैं दूसरी सीट पर जाने लगी तो सुनील सराफ बोला- आप क्यों जा रही हो, क्यों परेशान हो रही हो। मैंने उनकी शिकायत TTE और सागर पुलिस से करते हुए कहा कि दोनों को ट्रेन से उतारते हुए कार्रवाई करें, लेकिन उन्होंने मेरी सीट बदल दी।

महिला ने पुलिस से की गई शिकायत में पूरी आपबीती को लिखकर दी। महिला ने आरोपी विधायकों के खिलाफ कार्रवाई करने की मांग की।
महिला ने पुलिस से की गई शिकायत में पूरी आपबीती को लिखकर दी। महिला ने आरोपी विधायकों के खिलाफ कार्रवाई करने की मांग की।

पहले सीट बदली, फिर हरकत की
जिस सीट पर महिला बैठी थी, वह विधायक सिद्धार्थ की थी। महिला ने बच्चा होने की वजह से सिद्धार्थ से अनुरोध किया कि वह अपनी सीट उसे दे दें। सिद्धार्थ इस पर राजी हो गए। इसके बाद कटनी में कोतमा विधायक सुनील सराफ भी इसी कोच में सवार हुए।

अब तक बर्थ की लाइट बंद थी। इसी बीच सिद्धार्थ और सुनील सराफ उसी ट्रेन में सवार विधायक कमलेश्वर पटेल के पास पहुंचे। थोड़ी देर बाद सिद्धार्थ और सुनील नशे की हालत में महिला के पास पहुंचे। दोनों बर्थ को लेकर बहस करने लगे। महिला ने आरोप लगाया कि दोनों कांग्रेस विधायकों ने उसे बुरी नीयत से टच किया। विरोध करने पर राजनीतिक धौंस दिखाने लगे।

कांग्रेस विधायक सुनील सराफ बोले- यदि महिला ऐसा कह रही हैं तो पाप कर रही हैं। बच्चा सो रहा था, तो हमने तो लाइट तक नहीं जलाई।
कांग्रेस विधायक सुनील सराफ बोले- यदि महिला ऐसा कह रही हैं तो पाप कर रही हैं। बच्चा सो रहा था, तो हमने तो लाइट तक नहीं जलाई।

पति ने रेल मंत्री को ट्वीट किया, तब मिली मदद
महिला ने फोन पर अपने पति को घटना की जानकारी दी, तो उसने रेलमंत्री को ट्वीट करके मदद मांगी। ट्वीट मिलते ही रेलवे पुलिस हरकत में आई। रेवांचल एक्सप्रेस रात करीब एक बजे सागर रेलवे स्टेशन पर पहुंची। लेकिन, सागर स्टेशन पर महिला अधिकारी नहीं होने के कारण महिला के बयान नहीं लिए जा सके। ऐसे में जवानों की सुरक्षा में महिला को बीना स्टेशन पहुंचाया गया।

बीना में महिला अधिकारी ट्रेन में पहुंचीं और घटनाक्रम की जानकारी ली। अधिकारी ट्रेन में ही महिला यात्री के साथ भोपाल पहुंची। यहां उनके पति ने उन्हें अटैंड किया।

इस खबर पर आप अपनी राय यहां दे सकते हैं।

विधायक बोले- मुझ पर लगे आरोप गलत
सतना विधायक सिद्धार्थ कुशवाहा का कहना है कि नशे में धुत रहने के जो आरोप मुझ पर लगाए गए हैं, वह गलत हैं, ऐसा कुछ भी नहीं है। बल्कि हमने तो रात में अपने कंपार्टमेंट की लाइट भी नहीं जलाई थी, बल्कि महिला को अपनी सीट भी दी थी, क्योंकि उनके पास बच्चा था।

विधायक सिद्धार्थ कुशवाहा ने सफाई देते हुए कहा- मैंने कई महीनों से नशा-नॉनवेज बंद कर दिया है। मैंने तो देखा तक नहीं छूने की बात तो दूर है।
विधायक सिद्धार्थ कुशवाहा ने सफाई देते हुए कहा- मैंने कई महीनों से नशा-नॉनवेज बंद कर दिया है। मैंने तो देखा तक नहीं छूने की बात तो दूर है।

GRP की बड़ी लापरवाही, नहीं कराया मेडिकल
पूरे घटनाक्रम में GRP की बड़ी लापरवाही सामने आई है। महिला की शिकायत के बाद भी दोनों आरोपी विधायकों का मेडिकल नहीं कराया गया, जबकि महिला कहती रही कि दोनों विधायक नशे में हैं। ट्रेन में नशा कर हंगामा करने की धाराएं भी लगतीं। पुलिस अब भले ही महिला के आरोपों पर धारा लगा देगी, लेकिन मेडिकल पुष्टि नहीं करा पाएगी।

MLA सराफ बोले- वो बहन ऐसा कर रहीं तो यह पाप है
सुनील सराफ बोले- हम रोज सफर करते हैं। हमारी उम्र 50 साल हो गई है। विधायक हैं। यही करेंगे क्या? मैं तो कटनी में बैठा। हमने तो छोटी लाइट में खाना खाया, जिससे बच्चा नहीं जागे। स्टाफ से पूछ लीजिए। दरवाजे में क्लिप नहीं होने से दरवाजा बज रहा था। इस कारण उनका बच्चा जाग रहा था, तो हम क्या कर सकते थे। सिद्धार्थ भाई ने इतना पूछा कि आपकी बर्थ कौन सी है, क्योंकि वो उनकी बर्थ पर सो रही थीं।

हमने तो मेडिकल तक करवाने को कहा था, पता चल जाता हमने शराब पी है या नहीं। हमने तो कहा था- बच्चे के सिर पर हाथ रखकर कह दे हमने कोई गलत हरकत की है। वो बहन ऐसा कर रही हैं तो यह पाप है। सौगंध खाकर कह रहा हूं, अंधेरा था, हमने चेहरा तक नहीं देखा। हमें तो साजिश का शक इसलिए है, क्योंकि महिला ने हमारी उम्र तक लिखवाई है। उन्हें कैसे पता चला कि हमारी उम्र कितनी है।

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा ने कहा- प्रियंका गांधी इस मामले में जवाब दें।
भाजपा प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा ने कहा- प्रियंका गांधी इस मामले में जवाब दें।

भाजपा बोली- कांग्रेस का मूल चरित्र यही
भाजपा प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा बोले- यह घटना निंदनीय है। एक बहन के साथ कांग्रेस विधायकों ने छेड़छाड़ की। प्रियंका गांधी इस पर जवाब दें। कांग्रेस का यह मूल चरित्र है। ऐसे लोगों को बख्शा नहीं जाएगा।