भोपाल के डॉ. गणेश को रिसर्च एक्सीलेंस अवार्ड:लोगों को जागरूक करने के साथ शहर में लगाए बटर फ्रूट के पौधे, ताकि कैंसर के इलाज में मिल सके मदद

भोपालएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
भोपाल के जानमाने डॉक्टर एन गणेश। (फाइल फोटो) - Dainik Bhaskar
भोपाल के जानमाने डॉक्टर एन गणेश। (फाइल फोटो)

जवाहर लाल नेहरू कैंसर हॉस्पिटल के ऑन्कोजेनेटिक्स कंसल्टैंट डॉ. एन. गणेश को एवोकैडो (बटर फ्रूट) पर महत्वपूर्ण कार्य करने के लिए रिसर्च एक्सीलेंस अवार्ड-2021 से सम्मानित किया गया है। यह प्रतिष्ठित पुरस्कार बेंगलुरु की इंस्टीट्यूट ऑफ स्कॉलर्स (SDPL की इकाई) संस्थान ने अपने वार्षिक InSc पुरस्कार समारोह 2021 में दिया है।

भोपाल शहर के जाने-माने शख्स डॉ. गणेश ने 2010 में डीबी मॉल के मैनेजर से मॉल में एवोकैडो फ्रूट रखने का अनुरोध किया था। ताकि लोगों को एडवांस कैंसर के इलाज में इसका उपयोग करने में आसानी हो सके। इन्होंने एवोकैडो की देखभाल में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी। ईदगाह हिल्स स्थित जवाहरलाल नेहरू कैंसर हॉस्पिटल में कई उपयोगी औषधीय पौधे भी लगाए। उन्होंने अपने विभिन्न कार्यक्रमों, व्याख्यान और कैंसर जागरूकता शिविर में औषधीय पौधों के बारे में विस्तार से जानकारी भी दी है। एवोकैडो से बनने वाले विभिन्न व्यंजनों को सिखाया और प्रदर्शित भी किया है।

डॉ. गणेश को मिला अवार्ड।
डॉ. गणेश को मिला अवार्ड।

साथ ही, इन्होंने रिसर्च कर लोगों की जानकारी में जोड़ा कि एवोकैडो में 100% ग्लूटाथियोन (जो एक प्रसिद्ध बेहतर एंटी-ऑक्सीडेंट है) शामिल है। यह एक फैटी एसिड है, जो पूरी तरह से शरीर द्वारा अवशोषित होता है।

इन सभी प्रयासों और जीनोटॉक्सिसिटी का अध्ययन करने वाले उनके शोध कार्य को पुरस्कार दिया गया। अक्टूबर 2010 के पर्यावरण विज्ञान और स्वास्थ्य जर्नल के अंक में 'मानव परिधीय लिम्फोसाइटों पर एवोकैडो फल और पत्ती' नामक रिसर्च को प्रकाशित किया गया।

खबरें और भी हैं...