• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Bhopal
  • MP IAS Officer Viral Chat Controversy; Lokesh Kumar Jangid Allegations Against Badhwani Collector

IAS जांगिड़ को नोटिस:मंत्री विश्वास सारंग बोले- अनुशासनहीनता बर्दाश्त नहीं, सीनियर की बात को टैप करना गंभीर अपराध

भोपाल6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
आईएएस जांगिड़ को सरकार ने भेजा नोटिस। - Dainik Bhaskar
आईएएस जांगिड़ को सरकार ने भेजा नोटिस।

2014 बैच के आईएएस लोकेश कुमार जांगिड़ ने बड़वानी कलेक्टर शिवराज वर्मा पर आरोप लगाने और मुख्यमंत्री के कान भरने की चैट वायरल होने के बाद मामला गरमा गया है। सरकार ने आईएएस जांगिड़ को नोटिस जारी किया गया है। बुधवार को कैबिनेट मंत्री विश्वास सारंग ने कहा कि ट्रांसफर एक रूटीन प्रक्रिया है। यदि प्रशासकीय अधिकारी अपने ट्रांसफर को पूर्वाग्रह से ग्रसित कदम मानेगा, तो वह अपने और पद दोनों के साथ न्याय नहीं करेगा।

सारंग ने कहा- जांगिड को नोटिस जारी किया है। मंत्री सारंग ने कहा कि अनुशासनहीनता का अधिकार नहीं है। यदि ऐसा होगा, तो बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। उन्होंने कहा कि किसी अधिकारी द्वारा अपने सीनियर के साथ की हुई दूरभाष की बात को टैप करना गंभीर अपराध है।

कांग्रेस से भी पूछा सवाल

सारंग ने कहा कि जिन अधिकारियों को लेकर कांग्रेस ट्वीट कर रही है, वह बताएं कि क्या उनकी 15 महीने की सरकार में इस अधिकारी को हटाने की बात नहीं की गई थी? उस समय कांग्रेस के लिए वह अधिकारी खराब थे, लेकिन आज शासकीय दृष्टि से उनका ट्रांसफर हो रहा है, तो कांग्रेस अधिकारी के पक्ष में बात कर रही है।

व्यवस्था से बड़ा कोई नहीं

मंत्री सारंग ने कहा कि जिस प्रकार से उन्होंने चैट को सार्वजनिक किया है, यह एक अपराध है। उन्होंने संपूर्ण व्यवस्था को लेकर जो शुद्धता और शुचिता की अपेक्षा की थी, उसकी अवहेलना की गई है। सारंग ने कहा कि यदि कोई सोचता है कि वह व्यवस्था से बड़ा है, तो वह उसकी गलतफहमी है। व्यवस्था से बड़ा कोई नहीं हो सकता। जिस प्रकार से उन्होंने चैट को वायरल किया है, उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई होनी चाहिए।

यह लिखा है चैट में

जांगिड़ ने आईएएस अधिकारियों के सोशल मीडिया ग्रुप में लिखा है कि बड़वानी कलेक्टर पैसे नहीं खा पा रहे थे, इसलिए उन्होंने मुख्यमंत्री के कान भर दिए। मैं किसी से डरता नहीं हूं। मुझे कोई मुंह बंद करने की सलाह न दें। साथ ही, चैट में यह भी लिखा कि वर्मा भी किरार समुदाय से आते हैं। कलेक्टर की पत्नी किरार महासभा में सचिव हैं, जिसमें मुख्यमंत्री की पत्नी अध्यक्ष है।

भाजपा आई थी समर्थन में

शहडोल में एसडीएम रहते लोकेश जांगिड़ को पद से हटाया गया था। उस समय उनके समर्थन में भाजपा कार्यकर्ता आए थे। उन्होंने जांगिड़ को हटाने का विरोध करते हुए उनके समर्थन में धरना दिया था।

IAS लोकेश बने MP के 'खेमका':साढ़े 4 साल में 8 ट्रांसफर; ऑक्सीजन कंसंट्रेटर खरीदी में भ्रष्टाचार उजागर करने के बाद बड़वानी से हटाया, केंद्र से 3 साल के लिए महाराष्ट्र में डेपुटेशन मांगा

खबरें और भी हैं...