• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Bhopal
  • My SI Husband's Actions Are Suspicious, A Bangladeshi Is Staying At Home, Some Come To Meet Him; In laws Ask Me To Have A Relationship With Her

SI ने पत्नी पर बनाया बांग्लादेशी से रिलेशन का दबाव!:भोपाल की बेटी बोली- मेरी बेटियों पर भी थी गंदी नजर, हम भाग आए

भोपाल4 महीने पहलेलेखक: वंदना श्रोती
  • कॉपी लिंक
उसने खजाना दिलाने का लालच देकर पति को अपने झांसे में ले रखा है। - Dainik Bhaskar
उसने खजाना दिलाने का लालच देकर पति को अपने झांसे में ले रखा है।

'मेरा एसआई पति संदिग्ध गतिविधियों में लिप्त है। हमारे घर पर एक संदिग्ध व्यक्ति का आना-जाना है। उसके पास भारतीय नागरिकता का कोई दस्तावेज नहीं है, वह बांग्लादेशी लगता है। उसने मेरे पति को खजाना दिलाने का लालच देकर झांसे में ले रखा है। पति को समझाती हूं तो मुझसे मारपीट करता है और उस व्यक्ति के साथ संबंध बनाने का दबाव बनाता है। तंग आकर मैं अपनी दो बेटियों के साथ ससुराल छोड़कर भोपाल आ गई।' यह गंभीर आरोप मुंगावली अशोकनगर की महिला ने लगाए हैं।

महिला ने कहा- जब उसकी बात कहीं नहीं सुनी गई तो महिला आयोग में शिकायत की है। यहां अधिकारियों ने उसकी शिकायत को गंभीरता से लेते हुए महिला का आवेदन आईजी इंटेलिजेंस और पीएचक्यू को भेज दिया है।

वह बेटियों पर भी गंदी नजर रखता था, इसलिए घर छोड़ दिया

महिला की ससुराल मुंगावली अशोकनगर में है, जबकि उसके एसआई पति की तैनाती विदिशा में है। महिला ने आयोग में दी लिखित शिकायत में बताया कि उसकी शादी 2003 को हुई थी। शादी के बाद सबकुछ ठीक चल रहा था, लेकिन 6 महीने पहले पति एक व्यक्ति को अपने साथ घर लेकर आया था। उसने पति को दफीना यानी खजाना दिलाने का लालच दिया था। उस समय पति ने कहा था कि वह व्यक्ति 3-4 दिन के लिए उनके घर में ही रहेगा, लेकिन आज 6 महीने बीत गए और उसने घर में ही अपना डेरा जमा लिया। महिला की शिकायत के मुताबिक उस व्यक्ति ने उसके पति के साथ ही उसकी सास, ननद समेत सभी ससुरालियों को अपने वश में कर लिया है। पूरा परिवार उसकी बात मानता है। आरोप है कि उसका एसआई पति और सभी ससुराल के लोग उस पर उस व्यक्ति के साथ संबंध बनाने का दबाव डालते हैं। ऐसा नहीं करने पर तलाक की धमकी देते हैं। महिला ने बताया कि उसकी दो बेटियां हैं। संदिग्ध व्यक्ति बेटियों पर भी गंदी नजर रखता है। वह विरोध करती है तो पति और ससुराल वाले उसे ही प्रताड़ित करते हैं। इसके चलते वह अपनी बेटियों को लेकर भोपाल स्थित अपने भाई के घर आ गई।

मदद की गुहार

महिला ने आयोग के कर्मचारियों को बताया कि उसने हर स्तर पर इस मामले की शिकायत की, लेकिन कहीं कोई सुनवाई नहीं है। सब उसकी शिकायत को फर्जी और झूठी बताकर उसे लौटा देते हैं। उसने सीएम हेल्पलाइन, गृह विभाग तक को शिकायत की है, लेकिन कोई कार्रवाई नहीं हुई।

पति ने उसे पुलिस का स्टीकर लगी गाड़ी दे दी

महिला ने आरोप लगाया कि उस व्यक्ति के पास न तो आधार कार्ड है और न ही अन्य कोई दस्तावेज जिससे साबित हो की वह भारतीय है। उस व्यक्ति का कई ऐसे लोगों से मिलना-जुलना है जो संदिग्ध हैं और बांग्लादेशी लगते हैं। महिला के पति ने उसे अपनी गाड़ी भी दे रखी है, जिस पर पुलिस का स्टीकर लगा है। गाड़ी का इस्तेमाल उस व्यक्ति के साथ ही कई अन्य लोग संदिग्ध गतिविधियों में करते हैं। उसने एक सरकारी जमीन पर भी कब्जा कर एक धार्मिक स्थल बना लिया है, जिसका इस्तेमाल संदिग्ध गतिविधियों में होता है।

शिकायत को गंभीरता से लिया है

हमने महिला की शिकायत को गंभीरता से लेते हुए आवेदन की एक फोटोकॉपी आईजी इंटेलिजेंस और पीएचक्यू भेजी है।
- शिवकुमार शर्मा, सदस्य सचिव, महिला आयोग

महिला ने आवेदन में पति के खिलाफ गंभीर आरोप लगाए है। मामला सुरक्षा से जुड़ा हुआ है। इसलिए सतर्कता के साथ मामले की जांच कराई जा रही है।

-फरीद सापू, आईजी इंटेलिजेंस