पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Bhopal
  • Namaz And Dua In Homes, No Hugs Found, Said With Distance Eid Mubarak, Because ... Distance Is Still Necessary

ईद-उल-अजहा:घरों में ही नमाज और दुआ, नहीं मिले गले, फासले से बोले- ईद मुबारक, क्योंकि... अभी दूरी जरूरी है

भोपाल6 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
लॉकडाउन के चलते यहां सुबह से ही पुलिस बल तैनात रहा। मस्जिदों की तरह यहां भी 5 लोगों ने नमाज अदा की।
  • सोशल मीडिया पर चलता रहा मुबारकबाद देने का सिलसिला
Advertisement
Advertisement

शहर में शनिवार को त्याग और बलिदान का पर्व ईद-उल-अजहा सादगी के साथ मनाया गया। कोरोना संक्रमण के चलते लोगों ने घरों में नमाज अदाकर कोरोना से मुक्ति की दुआ मांगी। कुर्बानी भी घरों में रहकर ही दी गई। इस बार लोग एक-दूसरे के गले नहीं मिले, बल्कि सोशल डिस्टेंसिंग का ध्यान रखते हुए दूर से ही मुबारकबाद दी। शासन के नियमों और शहर काजी सै. मुश्ताक अली नदवी की हिदायतों को ध्यान में रखते हुए शहर की मस्जिदों में सुबह ईद की नमाज 6.15 बजे अदा की गई।

नमाज में केवल 5-5 लोग ही शामिल रहे। ऑल इंडिया मुस्लिम त्योहार कमेटी के अध्यक्ष डॉ. औसाफ शाहमीरी खुर्रम ने बताया कि मस्जिदों के अलावा खानकाहों में भी नमाज अदा की गई। नगर निगम के सहयोग से कई मस्जिद परिसर में अस्थाई कुर्बानी स्थल भी बनाए गए थे।

सूना रहा ईदगाह...

इतिहासकारों के मुताबिक इस ईदगाह का निर्माण नवाब परिवार की शाहजहां बेगम ने 1889 के आसपास कराया था। संभवत: तब से अब तक के ज्ञात इतिहास में यह पहला मौका होगा, जब यहां ईद-उल-अजहा की नमाज सामूहिक रूप से नहीं पढ़ी गई। लॉकडाउन के चलते यहां सुबह से ही पुलिस बल तैनात रहा। मस्जिदों की तरह यहां भी 5 लोगों ने नमाज अदा की। फोटो |भास्कर

बच्चों ने सऊदी वेशभूषा में मांगी दुआ
एहतियात... मास्क के साथ अदा की नमाज
Advertisement
0

आज का राशिफल

मेष
मेष|Aries

पॉजिटिव - अपने जनसंपर्क को और अधिक मजबूत करें। इनके द्वारा आपको चमत्कारिक रूप से भावी लक्ष्य की प्राप्ति होगी। और आपके आत्म सम्मान व आत्मविश्वास में भी वृद्धि होगी। नेगेटिव- ध्यान रखें कि किसी की बात...

और पढ़ें

Advertisement