पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

राजधानी में नाइट कर्फ्यू का रियलिटी चेक:10 बजे से पहले ही सभी दुकानें बंद कराईं; नाराज व्यापारियों का सवाल- क्या रात में केवल शराब दुकानों पर कोरोना नहीं आता..

भोपाल6 महीने पहलेलेखक: अनूप दुबे
पुराने भोपाल तक में सभी दुकानें रात 10 बजे बंद कर दी गई।
  • रात 10 बजे के पहले ही सभी मार्केट बंद हो गए, खाने-पीने के स्टॉल को भी बंद कराया गया

भोपाल में बुधवार रात 10 बजे से नाइट कर्फ्यू लगने के पहले ही 100% मार्केट और दुकानें बंद करा दी गईं। पुलिस भी पहले दिन सिर्फ लोगों को हिदायत और चेतावनी देती नजर आई। रात 10 बजे के बाद निकलने वाले लोगों के नाम पता नोट किए गए और उन्हें गुरुवार से नाइट कर्फ्यू की गाइड लाइन का पालन करने की हिदायत देते हुए बिना किसी कारण के घर से रात 10 बजे के नहीं निकलने को कहा। रात 10 बजे से रात 11.30 बजे तक नाइट कर्फ्यू की लाइव रिपोर्ट।

भोपाल कलेक्टर के आदेश:होम आईसोलेशन में रहने वाले कोरोना संक्रमित की देखभाल की जिम्मेदार सोसाइटी के अध्यक्ष और सचिव की; जरूरी सेवाओं को छोड़ सबकुछ रात 10 बजे तक बंद होगा

छह नंबर हॉकर कॉर्नर
छह नंबर हॉकर कॉर्नर

रात 10 बजे : छह नंबर हॉकर कॉर्नर

भोपाल का छह नंबर हॉकर कॉर्नर खाने-पीने के लिए शहर में सबसे ज्यादा प्रसिद्ध है। रात 10 बजे तक पूरा मार्केट बंद कर दिया गया। दुकानदार जल्दी-जल्दी अपना सामान समेटते नजर आए। स्टॉल लगाने वाले रफीक ने बताया कि उन्होंने गाइड लाइन के बारे में कलेक्टर से बात की थी। उनका कहना था कि इस तरह के स्टॉल छूट के दायरे में नहीं आते हैं। सिर्फ होटल और रेस्टोरेंट को ही छूट के दायरे में रखा गया है, क्योंकि वहां बैठने की पर्याप्त जगह होती है। हालांकि रफीक ने शराब दुकानों को इससे दूर रखने पर नाराजगी भी जताई।

न्यू मार्केट
न्यू मार्केट

रात 10.20 बजे : न्यू मार्केट

आम दिनों की तरह न्यू मार्केट की तरफ जाने वाले लिंक रोड नंबर-1 पर वाहनों की आवाजी बहुत कम थी। पुलिस की टीम कई जगह चेकिंग पाइंट पर नजर आई। जो लोगों को हिदायत देती और उनकी जानकारी एकत्रित कर रही थी। न्यू मार्केट पहुंचने पर भी प्रशासन के अधिकारी और कर्मचारी लोगों को समझाइश देते दिखे। आम दिनों में रात 12 बजे तक चहल-पहल रहने वाले न्यू मार्केट की सभी तरह की दुकानें पूरी तरह बंद हो चुकी थीं। पुलिस ने बताया कि रात 10 बजे के पहले ही दुकानदारों ने अपनी-अपनी दुकानें और संस्थान बंद कर दिए थे।

रोशनपुरा चौराहा
रोशनपुरा चौराहा

रोशनपुरा चौराहा

न्यू मार्केट के बाद रोशनपुरा चौराहा की तरफ बढ़ने पर बड़ी संख्या में पुलिस बल तैनात दिखा। यहां पर रास्ता रोक कर लोगों को समझाइश दी जा रही थी, कि वह कल से रात 10 बजे के बाद बिना किसी काम के निकलने से बचें। सिर्फ जरूरी होने पर ही घर से निकले, लेकिन इसके लिए पुलिस के निर्देशों का पालन जरूरी करें। इसके अलावा वाणगंगा रोड, पॉलिटेक्निक चौराहा, राजा भोज सेतु और रेत घाट पर सभी कुछ बंद था।

चौक बाजार
चौक बाजार

रात 10.45 बजे : चौक बाजार

भोपाल के सबसे अहम मार्केट पर भी नाइट कार्फ्यू का असर साफ नजर आया। यहां पर सभी तरह की दुकानें और पूरा मार्केट बंद हो चुका था। चारों तरफ सन्नाटा पसरा हुआ था। इक्का-दुक्का लोग ही सड़कों पर दिखे। यहां तक की थोक किराना मार्केट जुमेराती भी बंद था। सराफा बाजार से लेकर खाने-पीने की दुकानें तक के शहर गिर चुके थे। पहली बार रात 11 बजे पुराने बाजार में सन्नाटा नजर आया।

इंदौर में नाइट कर्फ्यू की पहली रात दिखी सख्ती, तफरी करने वालों को भेजा घर

जहांगीराबाद
जहांगीराबाद

रात 11.15 बजे : जहांगीराबाद

जहांगीराबाद इलाके में पुराने दो पहिया वाहन से लेकर कई तरह के मार्केट लगते हैं। सब्जी से लेकर मास और अन्य तरह के सामान की खरीदारी के लिए लोग दूर-दूर से यहां आते हैं। आम तौर पर यहां लोगों को रात 2 बजे तक बाहर घूमते और सड़क किनारे बैठा देखा जा सकता है, लेकिन बुधवार रात यहां पर भी सन्नाटा था।

खबरें और भी हैं...