भोपाल में होगी मध्य क्षेत्रीय परिषद की बैठक:22 अगस्त को अमित शाह की अध्यक्षता में 4 राज्यों के CS-DGP होंगे शामिल, दौरे को लेकर BJP ऑफिस में हुई मीटिंग

भोपाल6 महीने पहले

राजधानी भोपाल में 22 अगस्त को मध्य क्षेत्रीय परिषद की बैठक होगी। इस बैठक में केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह की अध्यक्षता में नक्सलवादी और आतंकी गतिविधियों और आतंरिक सुरक्षा से जुड़े मुद्दों पर चर्चा होगी। इस मीटिंग में एमपी, यूपी, छत्तीसगढ़, गुजरात के डीजीपी और चीफ सेक्रेटरी शामिल होंगे। अमित शाह के दौरे को देखते हुए प्रदेश भाजपा कार्यालय में सीएम शिवराज सिंह चौहान ने राष्ट्रीय सह संगठन महामंत्री शिवप्रकाश, बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा प्रदेश संगठन महामंत्री हितानंद शर्मा के साथ करीब सवा घंटे तक मीटिंग की।

विधानसभा में होगा कार्यक्रम

22 अगस्त को केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह मप्र विधानसभा में कुशाभाऊ ठाकरे जन्मशताब्दी वर्ष के उपलक्ष्य में आयोजित नई शिक्षा नीति के आयोजित कार्यक्रम को संबोधित करेंगे। इसके साथ ही भोपाल में अमित शाह केन्द्रीय पुलिस लैब का भी उद्घाटन करेंगे। शाह के दौरे को देखते हुए प्रशासनिक व्यवस्थाएं दुरुस्त की जा रहीं हैं।

भाजपा संगठन जुटा तैयारियों में

मप्र में पंचायत और नगरीय निकाय के चुनाव होने के बाद अब बीजेपी विधानसभा और 2024 के लोकसभा चुनाव की तैयारियाें में जुट गई है। केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह के दौरे को देखते हुए प्रदेश भाजपा कार्यालय में सीएम शिवराज सिंह चौहान, राष्ट्रीय सह संगठन महामंत्री शिवप्रकाश, बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा, प्रदेश संगठन महामंत्री हितानंद शर्मा ने बैठक की। इस बैठक में स्कूल शिक्षा मंत्री इंदर सिंह परमार भी शामिल हुए। मीटिंग के बाद स्कूल शिक्षा मंत्री इंदर सिंह परमार ने कहा नगरीय निकाय के चुनाव में भाजपा को ऐतिहासिक सफलता मिली है। ऐसी कामयाबी आज तक के इतिहास में किसी राजनैतिक दल को नहीं मिली है। अमित शाह का दौरा है कुछ सरकारी और कुछ पार्टी के कार्यक्रमों में वे शामिल होंगे। इसमें शिक्षा का भी एक कार्यक्रम है जिसमें वे शामिल होंगे।

मंत्रिमंड़ल विस्तार को लेकर सुगबुगाहट

नगरीय निकाय चुनाव में बीजेपी को कई जिलों में नगर निगम, नगर पालिकाओं और नगर परिषदों में हार का सामना करना पड़ा। रीवा, सीधी, सतना, दमाेह, टीकमगढ़, मुरैना, छिंदवाड़ा, जबलपुर सहित कई जिलों के निकायों में हुई हार के बाद शिवराज सरकार के मंत्रिमंडल में फेरबदल किया जा सकता है। सिंधिया खेमे से कुछ मंत्रियों के विभाग बदलने की भी चर्चाएं तेज हो गईं हैं।