पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

ऑन लाइन फ्रॉड:भोपाल सायबर क्राइम ने आरोपियों को दिल्ली से पकड़ा; shine.com के नाम पर बैंक में नौकरी का झांसा देकर बेरोजगारों को बनाते थे निशाना

भोपालएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
आरोपियों से जब्त माल। पुलिस अब उनके और साथियों की तलाश कर रही है। - Dainik Bhaskar
आरोपियों से जब्त माल। पुलिस अब उनके और साथियों की तलाश कर रही है।
  • फर्जी कॉल सेंटर के माध्यम से लोगों को फंसाते थे
  • मध्यप्रदेश के अलावा उड़ीसा, बिहार, और गुजरात में ठगी की

सायबर क्राइम भोपाल की टीम ने दिल्ली से नौकरी का झांसा देकर बेरोजगारों को फंसाने वाले ऑन लाइन फ्रॉड गिरोह को पकड़ने में सफलता हासिल की है। आरोपी फर्जी कॉल सेंटर संचालक तक लोगों को shine.com के नाम पर बैंक में अच्छी नौकरी दिलाने का झांसा देकर रुपए ऐंठते थे।

टीम ने काल सेंटर संचालक समेत तीन लोगों को दिल्ली के पांडव नगर से गिरफ्तार कर चुकी है। वे देश भर में लोगों को इसी तरह धोखाधड़ी का शिकार बना रहे थे। मध्यप्रदेश के अलावा उड़ीसा, बिहार, और गुजरात के बेरोजगारों को निशाना बना चुके हैं।

इस तरह पहुंचे आरोपियों तक

पुलिस के अनुसार एक लड़की ने धोखाधड़ी की शिकायत की थी। उसने बताया कि उसे एक अनजान नंबर से कॉल आया। उन्होंने कहा कि वे shine.com से बोल रहे हैं। पीड़िता के shine.com पर रजिस्ट्रेशन कराने के बाद कॉल आया। उन्होंने झांसा दिया कि HDFC बैंक में बात हो गई है।

उनका चयन बैंक ऑफिस एक्जिक्यूटिव पद के लिए चयन हुआ है। रजिस्ट्रेशन फीस के नाम पर उन्होंने 2500 हजार रुपए बैंक खाते में जमा करवाए। इसके बाद अन्य प्रक्रियाओं को पूरा करने के लिए 23 हजार रुपए और लिए। इसके बाद वे एनओसी के नाम पर 12 हजार 500 रुपए और मांगने लगे। इसके बाद पीड़िता ने सायबर क्राइम भोपाल से शिकायत की।

फर्जी कॉल सेंटर के नाम पर धोखाधड़ी

आरोपी एक फर्जी सेंटर संचालित करते हैं। इससे वह shine.com के नाम पर बेरोजगारों से संपर्क कर उन्हें अच्छी नौकरी दिलाने का झांसा देते हैं। इसके माध्यम से वे ऑन लाइन ऑफर लेटर से लेकर नियुक्ति पत्र आदि भेजते हैं।

विश्वास में लेने के बाद रजिस्ट्रेशन फीस, पुलिस सत्यापन, नियुक्ति पत्र, सुरक्षा निधी समेत अन्य तरह से रुपए लेते हैं। एक बार रुपए देने के बाद पीड़ित और रुपए देता जाता है। जब पीड़ित रुपए देने से मना करता है, तो आरोपी अपना मोबाइल फोन बंद कर लेते हैं।

पुलिस ने यह जब्त किया

पुलिस ने पकड़े गए आरोपियों के पास से बड़ी संख्या में सामान जब्त किया है। इसमें दो कंप्यूटर, 15 मोबाइल फोन, 3 एटीएम कार्ड, 2 राऊटर समेत अन्य सामान शामिल हैं। आरोपी अब तक मध्यप्रदेश के अलावा उड़ीसा, बिहार, और गुजरात के बेरोजगारों को निशाना बना रहे थे।

पकड़े गए आरोपी

  • प्रदीप यादव : काल सेंटर का संचालन, कॉलिंग, फर्जी ऑफर और नियुक्त पत्र बनाना
  • ऋषभ मिश्रा : कॉल करना और लोगों को फंसाकर उन्हें फर्जी ऑफर और नियुक्त पत्र देना
  • अमर कुमार : कॉल करना और लोगों को फंसाकर उन्हें फर्जी ऑफर और नियुक्त पत्र देना
खबरें और भी हैं...

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज दिन भर व्यस्तता बनी रहेगी। पिछले कुछ समय से आप जिस कार्य को लेकर प्रयासरत थे, उससे संबंधित लाभ प्राप्त होगा। फाइनेंस से संबंधित लिए गए महत्वपूर्ण निर्णय के सकारात्मक परिणाम सामने आएंगे। न...

और पढ़ें