पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

मौसम और मरीज:20% तक बढ़े अस्पतालों में सर्दी-जुकाम, गले में खरास, बुखार, उल्टी-दस्त के मरीज

भोपाल2 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
जेपी अस्पताल - Dainik Bhaskar
जेपी अस्पताल
  • हमीदिया और जेपी...संदिग्ध लगने पर मरीज की कोरोना जांच भी करा रहे
  • राहत... लगभग सभी की रिपोर्ट आ रही निगेटिव
  • जेपी की ओपीडी में कतार... रोज इलाज के लिए 1200 मरीज पहुंच रहे
  • 7 दिन पहले हमीदिया में रोज पहुंच रहे थे करीब एक हजार मरीज, अब 1300 के पार

मौसम का प्रभाव अब लोगों की सेहत पर भी पड़ने लगा है। यही वजह है कि शहर के सबसे बड़े सरकारी अस्पताल हमीदिया और जेपी में मरीजों संख्या में तेजी से इजाफा हो रहा है। पिछले एक हफ्ते में मरीजों की संख्या में करीब 20% तक इजाफा हो चुका है।

आकड़ों पर नजर डालें तो पता चलता है कि एक हफ्ते पहले हमीदिया अस्पताल में करीब एक हजार मरीज पहुंच रहे थे। अब इनकी संख्या बढ़कर 1300 के पार हो गई है। इधर, जेपी अस्पताल में हफ्तेभर पहले 900 मरीज पहुंच रहे थे, अब 1200 से ज्यादा पहुंच रहे हैं।

जेपी अस्पताल के सिविल सर्जन डॉ. राकेश श्रीवास्तव का कहना है कि पिछले कुछ दिनों में ओपीडी में मरीज बढ़ रहे हैं। मरीजों में ज्यादातर मौसमी बीमारियों के ग्रसित पहुंच रहे हैं। अभी लोगों को सर्दी, जुकाम, खांसी, गले में खरास, बुखार, आंखों में जलन, आंखों के आसपास खुजली होना, आंखों से पानी आना, उल्टी, दस्त और बार-बार पेट खराब होने जैसी परेशानियां ज्यादा हो रही हैं।

लक्षणों को देखते हुए करा रहे कोरोना जांच

मरीजों के लक्षणों को देखते हुए संदिग्ध लगने पर कोरोना की जांच भी कराई जा रही है। अच्छी बात यह है कि लगभग सभी संदिग्ध लोगों की रिपोर्ट निगेटिव ही आ रही है।

मौसम में बदलाव, मरीजों के बढ़ने की वजह

हफ्तेभर पहले एक हजार मरीज पहुंच रहे थे, अब ओपीडी 1350 पर पहुंच गई है। इसकी वजह मौसम में हो रहा बदलाव है। सर्दी-खांसी व उल्टी-दस्त के अलावा बुखार के मरीजों की संख्या में इजाफा हुआ है। -डॉ. लोकेंद्र दवे, अधीक्षक, हमीदिया

खबरें और भी हैं...