• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Bhopal
  • PC Sharma Said – Due To Inflation, Unemployment Increased Resentment Against BJP, Congress Will Win All The Seats Of The By election

भोपाल संयुक्त विपक्षी दलों का धरना:दिग्विजय सिंह बोले- हम जिनसे लड़ रहे हैं, उन्हें शिशु मंदिर से ही नफरत सिखाई जाती है ; इनकी नफरत के कारण ही देश में दंगे होते हैं

भाेपाल9 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह - Dainik Bhaskar
पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह

केन्द्र और राज्य सरकार की जनविरोधी नीतियों को लेकर शनिवार को 19 विपक्षी दलों ने जिला स्तर पर धरने-प्रदर्शन का आयोजन किया गया है। राजधानी भोपाल के नीलमपार्क में आयोजित धरने पर शनिवार को पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने भाजपा और संघ पर निशाना साधा। दिग्विजय सिंह ने कहा कि हमारी लड़ाई उसके खिलाफ है जो किसी भी धर्म के खिलाफ नफरत फैलाते हैं। यह फूट डालकर राजनीति करना चाहते है। भाजपा और औवैसी साथ मिलकर चुनाव लड़ते है। उन्होंने कहा कि हम जिनसे लड़ रहे है, उन्हे सरस्वती शिशु मंदिर से ही नफरत सिखाई जाती है। इनकी नफरत के कारण ही देश में दंगे होते हैं।

सावरकर ने पाकिस्तान बनाने की मांग पहले की

दिग्विजय सिंह ने कहा कि अंग्रेज जानते थे कि हिंदू मुसलमान को एक साथ नहीं रखना है। इसलिए सावरकर को अंडमान जेल से लेकर आए। जो अंग्रेज चाहते थे वो काम सावरकर ने किया। इसी तरह से मुस्लिम लगी भी है। ये सभी आजादी की लड़ाई में कभी शामिल नहीं हुए। हिंदुस्तान और पाकिस्तान बनाने की सबसे पहली पहल सावरकर ने की थी। इसके बाद मुस्लिम ली ने मांग की थी।

मोदी जी प्रधानमंत्री नहीं बन पाते

दिग्विजय सिंह ने कहा कि जब जम्मू कश्मीर में धारा 370 लागू की गई थी, उस समय जवाहरलाल नेहरू के कैबिनेट में श्यामा प्रसाद मुखर्जी भी शामिल थे। यह लोग कहते है कि 70 साल में कुछ नहीं हुआ। यदि देश में संविधान नहीं होता तो मोदी जी प्रधानमंत्री नहीं बन पाते। हर चीज के लिए जवाहरलाल नेहरू को जिम्मेदार ठहराते है।

दिग्विजय सिंह ने मीडिया के सवाल पर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान पर तंज कसते हुए कहा कि भाजपा की सरकार में अधिकारी-कर्मचारियों के मलाई वाले पद पर बिना पैसा दिए स्थानांतरण नहीं होता है। अब जो पैसा देकर पद प्राप्त कर रहा है तो वह कमाएंगा जनता से ही ना। अरे छोटे तहसीलदार को मारने से क्या होगा। भ्रष्टाचार की जनक भाजपा को मारो ना। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री यदि 16 से 17 साल में ब्यूरोक्रेसी को नहीं समझ पाए तो उन्होंने पद पर रहने का अधिकार नहीं है।

वीडी शर्मा के लोगों ने किया कब्जा

मुख्यमंत्री के भू अधिकार योजना की घोषणा करने पर दिग्विजय सिंह ने कहा कि 17 साल बाद भू अधिकार याद आ रहा है। मैंने 2003 के पहले पट्‌टे बांटे थे। उन पर अनुसूचित और जनजाति के लेागों को कब्जा नहीं मिला। यदि वह इतने ईमानदार है तो पन्ना में आदिवासियों का भू अधिकार जो वीडी शर्मा के लोगों ने छिन्न लिया है उसे ही वापस कर दें।

मैं हिंदू हूं, हिंदू था और रहूंगा

एक अन्य सवाल पर दिग्वियज सिंह ने कहा कि मैं हिंदू हूं, हिंदू था और हिंदू रहूंगा। एक अच्छा हिंदू वह है जो एक अच्छे मुसलमान, अच्छे सिख और अच्छे ईसाई सबका सम्मान करता है।

भाजपा सरकार की गलत नीतियों के कारण जनता परेशान

वहीं, इस अवसर पर पूर्व मंत्री और विधायक पीसी शर्मा ने कहा कि आज काम धंधा नहीं होने की वजह से लोग आर्थिक रूप से टूट चुके है। केन्द्र और राज्य सरकार की गलत नीतियों के कारण महंगाई बढ़ते जा रही है। प्रदेश में महिलाओं के प्रति अत्याचार लगातार बढ़ रह है। शर्मा ने कहा कि केन्द्र और राज्य सरकार की गलत नीतियों के कारण जनता में भाजपा सरकार के खिलाफ नाराजगी बढ़ी है। कांग्रेस प्रदेश के आगामी होने वाले उपचुनाव की सभी सीटों पर जीत दर्ज करेंगी। संयुक्त विपक्षी दलों के धरने में भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस, माक्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी, समाजवादी पार्टी, भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी, राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी, लोकतांत्रिक जनता दल समेत अन्य विपक्षी पार्टियां शामिल है।

यह है प्रमुख मुद्दे

  • कोरोना में अपने को गंवाने वाले परिवारों को तत्काल पर्याप्त मुआवजा दिया जाए।
  • कांग्रेस की न्याय योजना लागू कर प्रत्येक परिवार को 7500 रुपए महीना दिया जाए।
  • तीनों काले कृषि कानून तत्काल वापस लिए जाएं।
  • मनरेगा योजना में 200 दिन के रोजगार की गारंटी प्रदान करें।
  • लघु एवं मध्यम उद्योंगों को तत्काल आर्थिक पैकेज दिया जाए।
  • महंगाई, पेट्रोल और डीजल को कम करने के लिए सार्थक कदम उठाए जाएं।
  • देश की बेसकीमतों संपत्तियों को निजी हाथों में में सौंपना बंद करें।
खबरें और भी हैं...