पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Bhopal
  • Public Events Will Not Be Held In Temples, Children Will Only Symbolically Break The Curd handi

श्रीकृष्ण जन्मोत्सव 12 को:मंदिरों में नहीं होंगे सार्वजनिक आयोजन, बच्चे सिर्फ प्रतीकात्मक रूप से फोड़ेंगे दही-हांडी

भोपालएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • कोरोना महामारी के चलते श्रद्धालु घरों में ही करेंगे भगवान की विशेष पूजा

कोरोना महामारी के चलते इस बार 12 अगस्त को श्रीकृष्ण जन्माष्टमी पर लोग घरों में ही पूजा-आरती कर भगवान का जन्मोत्सव मनाएंगे। इस बार दही हांडी के परंपरागत आयोजन बाल गोविंदाओं के माध्यम से ही प्रतीकात्मक रूप से होंगे। इसकी वजह यह है कि संक्रमण से बचाव और शासन द्वारा सार्वजनिक आयोजन करने पर लगी रोक के कारण दही हांडी फोड़ प्रतियोगिताएं करने वाली समितियों ने यह आयोजन प्रतीकात्मक रूप से कराने का फैसला किया है। यह आयोजन मंदिर परिसर में बच्चों के माध्यम से ही कराए जाएंगे। कई समितियां ऑनलाइन प्रसारण भी कराएंगी। करोंद की समिति धारावाहिक रामायण में श्रीराम की भूमिका अदा करने वाले कलाकर अरुण गोविल को भी इस आयोजन से ऑनलाइन जोड़ेंगी।
परंपरा कायम रखने तीन-तीन बच्चों का चयन कर प्रतियोगिता कराएंगे
श्रीकृष्ण जन्मोत्सव समिति करोंद के अध्यक्ष व भाजपा जिलाध्यक्ष सुमित पचौरी ने बताया कि उनकी समिति द्वारा पिछले 17 साल से दही हांडी की इनामी प्रतियोगिता का आयोजन किया जाता रहा है। इस साल महामारी और धार्मिक आयोजनों पर रोक होने से सार्वजनिक कार्यक्रम नहीं किए जाएंगे। परंपरा कायम रखने के लिए करोंद क्षेत्र के तीन मंदिरों में जन्माष्टमी के दूसरे दिन से अलग-अलग तिथियों में तीन-तीन बच्चों का चयन कर उन्हें श्रीकृष्ण बनाकर उनसे प्रतिकात्मक रूप से मटकी फोड़ प्रतियोगिता के आयोजन कराए जाएंगे। रामायण सीरियल में श्रीराम की भूमिका निभाने वाले अरुण गोविल से भी आॅनलाइन जुड़ने के लिए चर्चा चल रही है।
सोशल डिस्टेंसिंग अपनाएंगे
टीला जमालपुरा की शीतला माता जन कल्याण समिति के अध्यक्ष हरि जोशी ने बताया कि मंदिर में दही हांडी फोड़ने का आयोजन प्रतीकात्मक रूप से होंगे। एक-एक बच्चे को बुलाकर मटकी फोड़ने को कहा जाएगा। इसका ऑनलाइन प्रसारण किया जाएगा। इस दौरान सोशल डिस्टेंसिंग का ध्यान रखा जाएगा।
कृष्ण स्वरूप में सजेंगे दो बच्चे
वीर शिवाजी उत्सव समिति के सचिव दिलीप गुप्ता ने बताया कि अध्यक्ष सुधीर माने की पहल पर इस बार बांके बिहारी मंदिर मारवाड़ी रोड में जन्माष्टमी के अगले दिन दो बच्चों को श्रीकृष्ण के स्वरूप में सजाकर बिठाया जाएगा और दो बच्चों को ग्वाल बनाकर मटकी फोड़ने का आयोजन प्रतीकात्मक रूप से किया जाएगा।
घरों में दही का भोग लगाएंगे
श्रीजी मंदिर लखेरापुरा, मार्कण्डेय मंदिर चौबदारपुरा, श्रीकृष्ण मंदिर तलैया व यादव समाज के राधाकृष्ण मंदिर समितियों के लोगों का कहना है कि वे जन्माष्टमी पर किसी एक बच्चे से ही दही हांडी फुड़वाएंगे। कई अन्य समितियों का कहना है कि घरों में ही भगवान श्रीकृष्ण को माखन का भोग लगाएंगे।​​​​​​​

0

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- इस समय आर्थिक पक्ष पहले से अधिक सक्षम और सुदृढ़ स्थिति में रहेगा। कुछ समय से चल रही चिंताओं से राहत मिलेगी। परिवार के लोगों की हर छोटी-मोटी जरूरतें पूरी करने में आपको आनंद आएगा। अचानक ही किसी ...

और पढ़ें