पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Bhopal
  • PWD Engineer Says Cannot Reduce The Stage Height Experts Said Solution Can Be Removed By Removing 30 Front Chairs

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

रवींद्र भवन में बिगड़ैल इंजीनियरिंग:पीडब्ल्यूडी इंजीनियर बोले- नहीं कम हो सकती स्टेज की ऊंचाई विशेषज्ञ बोले- आगे की 30 कुर्सियां हटाकर हो सकता है समाधान

भोपाल3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
लाइट के लिए लगेगा नया हाइड्रोलिक सिस्टम - Dainik Bhaskar
लाइट के लिए लगेगा नया हाइड्रोलिक सिस्टम
  • 36 करोड़ की लागत से बने नए ऑडिटाेरियम के ऊंचे स्टेज का मामला
  • संस्कृति विभाग ने उठाए थे खामियों को लेकर सवाल

रवींद्र भवन का नया आॅडिटोरियम...36 करोड़ की लागत से बनकर तैयार है। ये 1500 दर्शकों की क्षमता वाला प्रदेश का सबसे बड़ा आॅडिटोरियम है। संस्कृति विभाग के अफसरों ने यहां के स्टेज की ऊंचाई और लाइटों के फोकस को लेकर सवाल खड़े किए थे। यह स्टेज साढ़े 4 फीट ऊंचा है। ये सवाल सही साबित भी हुए। अब मामला सामने आया, लेकिन काफी देर हो चुकी है।

पीडब्ल्यूडी के इंजीनियरों का कहना है कि ऑडिटोरियम के स्टेज की ऊंचाई को लेकर अब कुछ नहीं हो सकता। वर्तमान में जो स्थिति है उसे वैसा ही रहने दिया जाएगा। जबकि एक्सपर्ट की राय है कि आगे की 30 कुर्सियों को हटा दिया जाए तो समस्या का समाधान हो सकता है। या फिर स्टेज की ऊंचाई पौने चार फीट तक कर दी जाए तो दर्शकों को कोई समस्या नहीं होगी।

लाइट के लिए लगेगा नया हाइड्रोलिक सिस्टम

नए ऑडिटोरियम में सीलिंग से लाइट टकराने की भी दिक्कत आ रही है। इसे दूर करनेे के लिए नया हाइड्रोलिक सिस्टम लगाया जाएगा। यहां लाइट के तीन सिस्टम हैं जिसमें सेंटर सिस्टम सीलिंग से टकरा रहा है। इस समस्या को एक महीने में दूर कर दिया जाएगा।

1500 दर्शकों की क्षमता वाला प्रदेश का सबसे बड़ा ऑडिटाेरियम

पीडब्ल्यूडी के तर्क...

सभी कुर्सियों की हाइट नहीं बढ़ा सकते: अगर कुर्सियों के नीचे स्लैब डालकर इसकी ऊंचाई बढ़ाई भी जाएगी तो पूरे हाल की सिमेट्री बिगड़ेगी क्योंकि फिर पीछे की कुर्सियों की हाइट कम हो जाएगी। ऐसे में सभी कुर्सियों की हाइट बढ़ाना संभव नहीं होगा।

आगे की कुर्सियां हटाने से भी कोई फायदा नहीं: दो-तीन लाइनाें की कुर्सियां हटाने का भी कोई मतलब नहीं है क्योंकि कम से कम दर्शक इसमें बैठ ही जाएंगे। कई बार तो दर्शक खड़े ही रहते हैं। ऐसे में वे बैठकर कार्यक्रम तो देख ही सकते है।

एक्सपर्ट के सुझाव

मीडिया गैलरी बनाई जाए: आर्किटेक्ट डॉ. शीतल शर्मा ने सुझाव दिया है कि फ्रंट रो हटाकर मीडिया गैलरी बनाई जाए। आर्किटेक्ट एसो. ऑफ इंडिया के एमपी चैप्टर के चेयरमैन अमोघ गुप्ता ने कहा कि पहली रो हटाकर एक मीटर गहरा पिट बनाकर इसे मीडिया गैलरी के रूप में विकसित करें। इसमें पांच लाख खर्च होंगे।

स्टेज की ऊंचाई कम की जा सकती है : स्ट्रक्चरल इंजीनियरिंग एसो. के अब्दुल मजीद ने कहा कि स्टेज की हाइट पौने चार फीट कर दी जाए। इससे समस्या का हल हो सकती है। इसमें आठ लाख रुपए खर्च होंगे।

प्रेजेंटेशन में डेढ़ हजार की क्षमता का नहीं था ऑडिटोरियम

आडिटोरियम बनने के पूर्व केंद्र सरकार को इसका प्रेजेेंटेशन सीनियर टाउन प्लानर प्रशांत खिरवड़कर ने दिया था। वे शुरुआत में अप्रूवल कमेटी में थे। उन्हाेंने बताया कि प्रेजेंटेशन मेें डेढ़ हजार की क्षमता का उल्लेख नहीं था। ओपन एयर थियेटर और आर्ट गैलेरी, रवींद्र इंटरप्रिटेशन सेंटर बनाया जाए ताकि लोग टैगोर के बारे में जान सकें। उन्होंने कहा कि 1500 की कैपेसिटी बहुत होती है, इतनी बढ़ी संख्या में दर्शक नहीं आते।

जैसा डिजाइन दिया, वैसा ही है

स्टेज की उंचाई और कुर्सी की समस्या को लेकर मंथन चल रहा है। हमें जैसा डिजाइन दिया था, वैसा ही किया। कंसल्टेंट भी संस्कृति विभाग का है। इस समस्या को दूर करने के लिए कुछ उपाय करेंगे।

-एचएस ठाकुर, एसडीओ, पीडब्ल्यूडी

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- किसी भी लक्ष्य को अपने परिश्रम द्वारा हासिल करने में सक्षम रहेंगे। तथा ऊर्जा और आत्मविश्वास से परिपूर्ण दिन व्यतीत होगा। किसी शुभचिंतक का आशीर्वाद तथा शुभकामनाएं आपके लिए वरदान साबित होंगी। ...

    और पढ़ें