• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Bhopal
  • Racking Of Houses On The Pretext Of Picking Up Garbage, Incident As Soon As The Opportunity Comes, Goods Worth Rs 15 Lakh Recovered

दंपती की गैंग ने भोपाल में की 17 चोरियां:कचरा बीनने के बहाने मकानों की रैकी करते, फिर वारदात; 15 लाख का माल मिला

भोपाल2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

भोपाल क्राइम ब्रांच ने सीहोर और रायसेन के पारधी चोर गिरोह के 5 सदस्यों को गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार आरोपियों में दंपती भी शामिल हैं। ये लोग गैंग को ऑपरेट करते हैं। पुलिस ने इनके पास से 15 लाख रुपए का माल बरामद किया है। अब तक 17 चोरी की वारदात गिरोह कबूल चुका है। पुलिस ने सरगना समेत कुल 5 लोगों को पकड़ लिया है।

आरोपियों ने मिसरोद, अयोध्या नगर, बैरागढ, ईंटखेडी, ऐशबाग, कमलानगर, पिपलानी, छोला मंदिर, टीटीनगर, जहांगीराबाद, कोलार क्षेत्र में चोरी करना कबूला है। आरोपियों ने पुलिस को बताया कि वह दिन में कचरा बीनने के बहाने सूने मकानों की रैकी करते हैं। इसके बाद मौका मिलते ही वारदात करते थे।

क्राइम ब्रांच के मुताबिक सूचना मिली कि पारधी गैंग में शामिल एक लड़का और एक लड़की डोढी से बस से भोपाल आ रहे हैं। ये लोग हलालपुरा बस स्टैण्ड पर पहुंचेंगे। वह चोरी के जेवर बेचने के लिए आ रहे हैं। इस पर पुलिस ने दोनों को हलालपुरा बस स्टैण्ड में रोककर पूछताछ की।

लड़की ने अपनी पहचान ग्राम डांडी आमला जोड थाना जावर सीहोर की रहने वाली जेकीरा वेल पारधी पति अंटीराज (23), लड़के ने अपना नाम अंटी राज बताया। तलाशी लेने पर सोने-चांदी के जेवरात मिले। सख्ती से पूछताछ में दोनों ने बताया कि जेवर चोरी के हैं। कैलाशनगर बैरागढ़ में उन्होंने चोरी की थी। इनकी निशानदेही पर पुलिस ने गैंग के तीन अन्य बदमाशों को गिरफ्तार किया।

गिरफ्तार आरोपी, उनके कारनामे

1. अंटी राज पिता बाडीशाह। उम्र 24 साल। ग्राम डांडी आमला जोड थाना जावर सीहोर का रहने वाला। गैंग का सरगना है। पत्नी के साथ मिलकर गिरोह बनाया। दिन में पत्नी को लेकर कचरा बीनने के बहाने रैकी कराता है। मौका मिलते ही गिरोह के सदस्यों को बुलाकर चोरी कराना।

2. जेकीरा वेल पारधी पति अंटीराज। उम्र 23 साल। ग्राम डांडी सीहोर की रहने वाली। पति के साथ रैकी के साथ चोरी के जेवर बेचने का काम करती है।

3. गोतेराज पिता गौतम सिंह। उम्र 19 साल। वार्ड -11 अवश्या काॅलोनी अब्दुलागंज जिला रायसेन की रहने वाला। गैंग में अंटी राज के बाद दूसरा स्थान। अंटी राज के साथ चोरी करता है।

4. मनोज सोनी पिता रमेश चन्द्र सोनी। उम्र 50 साल। काछीपुरा आष्टा जिला सीहोर का रहने वाला। गैंग से चोरी के जेवर खरीदता था।

5. पंकज शर्मा पिता बाबूलाल शर्मा। उम्र 23 साल। ग्राम डांडी आमला जोड़ थाना जावर सीहोर का रहने वाला। गोतेराज के जरिए गैंग में जुड़कर चोरी को अंजाम देता है। वह ताला तोड़ने में मास्टर है।

वारदात का तरीका
गिरोह सीहोर, रायसेन से बस में बैठकर भोपाल आता है। इसके बाद काॅलोनियों में कचरा बीनने के बहाने रैकी करते हैं। इस बीच सूने मकानों पर वह नजर रखते हैं। जैसे ही, कोई सूना मकान मिला, उसी दौरान गैंग चोरी कर भाग जाता है। वारदात करने के बाद गिरोह अंटीराज के घर पहुंचता है। जहां, माल का बंटवारा होता है।

खबरें और भी हैं...