• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Bhopal
  • Madhya Pradesh Rain News; Indore Bhopal Ujjain Gwalior Weather Forecasts And Rainfall Warning

बिजली गिरने से 5 की मौत, भोपाल में तेज बारिश:गुना-छिंदवाड़ा-खजुराहो और सागर में झमाझम; इंदौर-ग्वालियर में जल्द होगी जोरदार बारिश

भोपाल5 महीने पहले

मध्यप्रदेश में मानसून का ब्रेक खत्म होते ही मंगलवार को प्रदेश के कई इलाकों में बारिश होने लगी। इस दौरान भोपाल, इंदौर, गुना, छिंदवाड़ा और बैरसिया समेत कई शहरों में जोरदार तो कहीं-कहीं रिमझिम बारिश हुई। उधर भोपाल के विदिशा और बैरसिया में हुए दर्दनाक हादसे में आकाशीय बिजली गिरने से 5 लोगों की मौत हो गई। रात को भोपाल में तेज बारिश हो गई।

मौसम विभाग ने भोपाल, रायसेन, बैतूल, शिवपुरी, अशोकनगर, आगर, अशोकनगर, दतिया, सागर, दमोह, निवाड़ी, सिवनी, सतना, रीवा, शिवपुरी, सिंगरौली और अनूपपुर में मंगलवार को तेज बारिश होने का अनुमान जताया है। वहीं बुधवार सुबह तक रीवा, शहडोल, इंदौर, ग्वालियर, चंबल और उज्जैन संभागों में कहीं-कहीं गरज-चमक के साथ बारिश का अलर्ट जारी किया है।

विदिशा में 3 लोगों की मौत

मप्र में विदिशा जिले के सिरोंज में आकाशीय बिजली गिरने से 3 लोगों की मौत हो गई। मंगलवार शाम को यहां आधे घंटे से अधिक तेज बारिश हुई है। इस दौरान तरवरिया ग्राम में आकाशीय बिजली गिरने से हल्के कुशवाह (30 साल) की मौत हो गई। जबकि ग्राम फजलपुर में सुरेश कुशवाह (42 साल)और बिट्टू कुशवाह (14 साल) की मौत भी आकाशीय बिजली गिरने से हुई। फजलपुर के ही महेश कुशवाह आकाशीय बिजली की चपेट में आकर घायल हो गए।

बैरसिया में 2 लोगों की मौत

बैरसिया में आकाशीय बिजली गिरने से दो लोगों की मौत हो गई। बर्राई गांव के रहने वाले रघुनाथ जाटव खेत पर काम कर रहे थे। इसी दौरान बारिश के साथ बिजली गिरी, जिसकी चपेट में आकर उनकी मौत हो गई। उधर, धतुरिया गांव के दौलत सिंह की मौत भी खेत पर काम करने के दौरान बिजली गिरने से हो गई। प्रदेश भर में इस साल जून में अब तक बिजली गिरने से 10 से ज्यादा लोगों की जान जा चुकी है।

भोपाल समेत कई शहरों में झमाझम बारिश

गुना में दोपहर को तेज बारिश हुई। शाम साढ़े 5 बजे तक यहां सबसे ज्यादा एक इंच तक पानी गिर चुका था। खजुराहो में करीब 1 इंच पानी गिरा। छिंदवाड़ा और टीकमगढ़ में आधा-आधा इंच पानी गिरा, तो भोपाल में, सागर, सतना और राजगढ़ में भी बारिश हुई। भोपाल में डिपो चौराहा समेत कुछ इलाकों में दोपहर करीब 2 बजे तेज बारिश हुई। इसके अलावा अन्य इलाकों में हल्की बूंदाबांदी हुई।

बंगाल की खाड़ी में सक्रिय नहीं हुआ चक्रवात

मध्यप्रदेश में मानसून सक्रिय तो हो गया है, लेकिन बंगाल की खाड़ी में मंगलवार को बनने वाला चक्रवात सक्रिय नहीं हो पाया है। इसके कारण ज्यादा बारिश नहीं हो रही है। अरब सागर से नमी आने के कारण प्रदेश के कुछ इलाकों में हल्की बारिश हो रही है। इसी कारण मंगलवार को प्रदेश भर में तापमान भी चढ़ा रहा।

ग्वालियर में रही सबसे ज्यादा गर्मी

ग्वालियर में अधिकतम तापमान 42 तक पहुंच गया। इसके अलावा खजुराहो और टीकमगढ़ में भी पारा 40 के पार निकल गया। पचमढ़ी में सबसे कम 29 डिग्री रिकॉर्ड किया गया। भोपाल में अधिकतम तापतान 35, जबलपुर में 36 और इंदौर में 33 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया।

खबरें और भी हैं...